#ShuddhKaYuddha : लोग जुड़े पत्रिका के शुद्ध का युद्ध महाअभियान के साथ, समस्याओं व समाधान के मुद्दों पर की चर्चा

Sonam Ranawat

Publish: Nov, 10 2018 09:11:41 PM (IST)

Ajmer, Rajasthan, India

अजमेर. राजस्थान पत्रिका के जनएजेंडा के तहत शनिवार को शुद्ध का युद्ध अभियान के तहत द टर्निंग पॉइन्ट स्कूल में जनता से उनके मुद्दों और समाधानों पर चर्चा की गई। इस अवसर पर उत्तर विधानसभा क्षेत्र के लोगों ने अपनी समस्याओं और समाधानों के बारे में बताया। इस दौरान लोगों को फेक न्यूज के प्रति भी जागरूक किया गया।

उत्तर विधानसभा क्षेत्र के जनमुद्दों पर चर्चा के दौरान चंद्रेश सांखला ने कहा कि पेयजल समस्या का एक ही हल है कि बीसलपुर बांध का जलस्तर पर्याप्त बना रहे। इसकी पूरी व्यवस्था हो। बांध से शहर के लिए पानी की सप्लाई सुचारू सप्लाई मिले। शहर में की जानी वाली पेयजल सप्लाई का निश्चित टाइमटेबल हो ताकि सभी क्षेत्रों में समान अंतराल और मात्रा में पानी पहुंचे। पेयजल के वैकल्पिक साधनों का भी विकास हो। डॉ. अनंत भटनागर ने सुझाव दिया कि अपराध की रोकथाम के लिए गश्त तो बढऩी ही चाहिए। लोगों को भी स्वयं के स्तर पर जागरूक होना चाहिए। यदि क्षेत्र में कोई संदिग्ध दिखता हो तो उसकी सूचना पुलिस को देनी चाहिए।

 

सबा खान ने कहा कि महिलाओं के साथ लगातार बढ़ रही चेन स्नेचिंग की घटनाओं को रोकने के लिए सुरक्षा की दृष्टि से सभी प्रमुख चौराहे, कॉलोनियों में सीसीटीवी लगाए जाने चाहिए। कॉलोनियों में भी इसे लेकर जागरूकता होनी चाहिए। आभा गांधी ने सुझाव दिया कि महिलाओं को घर के काम के साथ आत्मरक्षा के गुर भी सीखने चाहिए। इसके लिए पुलिस या विशेषज्ञों को अभियान चलाना चाहिए। शिव कुमार बंसल ने कहा कि रहवासी क्षेत्रों में होने वाले व्यवसायिक निर्माण को रोकने के लिए पुख्ता व्यवस्था होनी चाहिए। शिकायतों का प्रभावी निस्तारण और जांच की जाने की व्यवस्था जानी चाहिए।


फेक न्यूज के प्रति किया जागरूक

आज के दौरान सोशल मीडिया पर फेक न्यूज के बारे में विस्तार से जानकारी दी गई। कार्यशाला में महिला व पुरूषों को तथ्यपरक जानकारी, राय और अफवाह के बारे में बताया गया। सोशल मीडिया पर जिम्मेदारी से व्यवहार करने जैसे किसी भी जानकारी को बिना तथ्यों की परख करे फॉरवर्ड नहीं करने सहित अन्य बातों के बारे में बताया गया। इनके उदाहरण देकर समझाया गया। गलत जानकारी फॉरवर्ड करने से होने वाले नुकसान के बारे में भी बताया गया।

 

अधिवक्ता विवेक पाराशर ने गलत जानकारी साझा करने और गैरजिम्मेदारी से किसी पोस्ट पर टिप्पणी करने से होने वाली कानूनी पेचीदगियों के बारे में बताया। आईडी जानकारी कपिल सारस्वत ने सोशल मीडिया पर अपने विवेक से व्यवहार करें। क्योंकि लोग अपवाह फैलाने के लिए लोग मिलते जुलते नामों से भ्रमित भी करते है। इसलिए सतर्कता व सावधानी से व्यवहार करें। इस अवसर पर राजेन्द्र गांधी उमेश कुमार चौरसिया, विरेन्द्र पाठक, राजकुमार तुलसीयानी, देशराज मेहरा, अजीज खान चीता, आशीष शर्मा, शमसुद्दीन सहित अन्य उपस्थित थे।

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

Ad Block is Banned