दरगाह सुरक्षा में तैनात RAC के जवानों को किया अलर्ट

दरगाह सुरक्षा में तैनात जवानों को पुलिस उप अधीक्षक(दरगाह) ने ली बैठक

By: manish Singh

Published: 15 Oct 2021, 03:42 AM IST

अजमेर. दिल्ली में पकड़े गए आतंकी मोहम्मद अशरफ के बाद जिला पुलिस भी सक्रिय हो गई। गुरुवार को दरगाह सुरक्षा में तैनात जवानों को पुलिस उप अधीक्षक(दरगाह) रघुवीर प्रसाद शर्मा, दरगाह थानाप्रभारी दलबीर सिंह फौजदार ने क्या करें और क्या ना करें(डूज एंड डोंट्स) का पाठ पढ़ाया। जवानों को दरगाह आने वाले जायरीन से अच्छा व्यवहार करने की भी नसीहत दी।

गुरुवार अपराह्न साढ़े 3 बजे सीओ दरगाह रघुवीरप्रसाद शर्मा की अध्यक्षता में दरगाह थाने में आरएसी के जवान व हाड़ीरानी बटालियन महिला कर्मियों के साथ बैठक आयोजित की गई। शर्मा ने कहा कि आरएसी के जवानों को जिस जगह की सुरक्षा की जिम्मेदारी दी गई है वह अन्तररराष्ट्रीय स्तर का धार्मिक स्थल है। यहां ना केवल देश बल्कि विदेशी जायरीन आते है। दरगाह की सुरक्षा महत्वपूर्ण जिम्मेदारी है। उन्होंने कहा कि पिछले कुछ दिन से दरगाह में जायरीन की आवक लगातार बढ़ी है। ऐसे में बल के जवानों को 24 घण्टे मुस्तैद रहने की जरूरत है।

विवाद से दूर रहें जवान

शर्मा ने कहा कि आरएसी के जवानों को दरगाह सुरक्षा में प्रवेशद्वार पर अहम जिम्मेदारी दी गई है। इसमें तलाशी के साथ व्यवहार भी महत्वपूर्ण है। छोटी सी गलती व दुव्र्यवहार से पुलिस की छवि बिगड़ सकती है। ऐसे में जायरीन से दुव्र्यवहार ना करें। समस्या आने पर दरगाह थाना पुलिस को सूचित करें।

तलाशी है महत्वपूर्ण
दरगाह थानाप्रभारी दलबीरसिंह फौजदार ने जवानों से कहा कि दरगाह सुरक्षा में तलाशी महत्वपूर्ण हिस्सा है। तलाशी सही तरीके से ली जानी चाहिए। संदिग्ध व्यक्ति दिखने पर तुरन्त ड्यूटी ऑफिसर को सूचित करें।

manish Singh Reporting
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned