बताइए आपके पास हैं कितने पशु, यह जानने के लिए घर आएगी टीम

बताइए आपके पास हैं कितने पशु, यह जानने के लिए घर आएगी टीम

raktim tiwari | Publish: Aug, 12 2018 06:10:00 PM (IST) Ajmer, Rajasthan, India

www.patrika.com/rajasthan-news

अजमेर

राजस्व मंडल सभागार में 20 वीं पशुगणना सॉफ्टवेयर प्रशिक्षण कार्यक्रम आयोजित किया गया। कार्यक्रम की अध्यक्षता राज्य पशुगणना अधिकारी व संयुक्त निदेशक (सांख्यिकी) भंवरलाल ने की। राज्य में पशुगणना 20 अगस्त से शुरू होगी। राज्य पशु गणना अधिकारी भंवरलाल ने 20 जुलाई को नई दिल्ली में राष्ट्रीय स्तर के प्रशिक्षण कार्यक्रम में भाग लिया। इसी के आधार पर राजस्व मंडल में प्रशिक्षण दिया गया।

निर्धारित कलैंडर अनुसार पशु गणना कार्य 20 अगस्त से शुरू होगी। 19 नवम्बर तक इसे पूरा करना होगा। पशु गणना के तहत नस्लवार पशुओं की संख्या, पशु पालकों की संख्या उनका सामाजिक, आर्थिक, व्यवसायिक तथा शैक्षणिक स्तर की स्थिति आदि के आंकड़े जुटाए जाएंगे।

प्रशिक्षण कार्यक्रम में जिलों के पशुपालन के प्रतिनिधियों को मास्टर ट्रेनर के रूप में सॉफ्टवेयर प्रशिक्षण दिया गया। प्रशिक्षण प्राप्त जनप्रतिनिधि अपने अपने जिलों में जाकर पशुगणना में नियुक्त प्रगणक, सुपरवाईजर व स्क्रूटनी अधिकारी को प्रशिक्षण देंगे।

स्टेट एडमिन अरविंद माथुर ने टेबलेट बेस, प्रगणकों के प्रयोगार्थ तथा वेबबेस, सुपरवाईजर, स्क्रूटनी आफिसर आदि को सॉफ्टवेयर की विस्तार से जानकारी दी गई।

प्रशिक्षण कार्यक्रम में निदेशालय पशु पालन विभाग के संयुक्त निदेशक डॉ अजय कुमार, सह नोडल अधिकारी अशोक शर्मा, राजस्व मंडल के सहायक निदेशक सुरेश चंद, शैलचंद व्यास, सांख्यिकी अधिकारी डिंपल गुर्जर व पुनीत भार्गव मौजूद रहे।


धार्मिक यात्रा में भी दे डाला धोखा.......

धार्मिक यात्रा में संतोषजनक सेवाएं नहीं देने पर ट्रेवल कंपनी पर 50 हजार रुपए की क्षतिपूर्ति व 5 हजार रुपए परिवाद व्यय दिलाने के आदेश उपभोक्ता संरक्षण मंच अजमेर ने दिए हैं। प्रार्थी परबतपुरा निवासी चारू ग्रोवर ने वकील जवाहरलाल शर्मा व महेन्द्र चौधरी के जरिए प्रस्तुत परिवाद में हरियाणा की यात्रा डॉट कंपनी के अधिकारी हितपाल सिंह व मुख्य कार्यकारी अधिकारी को पक्षकार बनाया गया। परिवाद में बताया कि ट्रेवल कंपनी ने 86 हजार रुपए में पांच रात्रि व 6 दिन में अहमदाबाद, भुज,जामनगर, द्वारका व सासानगर गिना किसी कठिनाई के यात्रा कराने का आश्वासन दिया। इस पर प्रार्थी ने वृद्ध मां व बुआ को यात्रा कराने के लिए ऑन लाइन 86 हजार रुपए जमा कराए।

 

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

Ad Block is Banned