scriptBan on putting religious flags in Ajmer, protest started | अजमेर में धार्मिक झण्डियां लगाने पर प्रतिबंध, विरोध शुरू | Patrika News

अजमेर में धार्मिक झण्डियां लगाने पर प्रतिबंध, विरोध शुरू

अजमेर जिले में एक महीने के लिए धारा 144 लगाई गई है। इसके तहत धार्मिक आयोजन के दौरान धार्मिक प्रतीक चिन्ह युक्त झण्डियां लगाए जाने पर प्रतिबन्ध रहेगा। जिला कलक्टर अंश दीप ने गुरुवार को इसके आदेश जारी किए हैं। आदेश निकलने के साथ ही भाजपा नेताओं ने इसका विरोध शुरू कर दिया है।

अजमेर

Published: April 07, 2022 10:05:22 pm

अजमेर. जिला कलक्टर अंश दीप ने बताया कि जिले में होने वाले धार्मिक प्रयोजनों के दौरान राजकीय भवन, राजकीय उपक्रम, बोर्ड एवं निगम के भवन, सार्वजनिक सामुदायिक भवन, विश्राम गृह, सार्वजनिक पार्क, चौराहे और तिराहे पर निर्मित सर्किल, बिजली व टेलिफोन के खम्भे जैसी सार्वजनिक सम्पतियों तथा अन्य व्यक्ति की सम्पति पर सक्षम स्वीकृति के बगैर धार्मिक प्रतीक चिन्ह युक्त झण्डियां लगाने से सौहार्द बिगडऩे की आशंका रहती है। लोक शांति और कानून व्यवस्था तथा साम्प्रदायिक सद्भाव बनाए रखने के लिए बिना सक्षम स्वीकृति अथवा सहमति के धार्मिक प्रतीक चिन्ह युक्त झण्डियां लगाने पर प्रतिबंध के लिए आगामी एक माह तक निषेधाज्ञा लागू रहेगी।
अजमेर में धार्मिक झण्डियां लगाने पर प्रतिबंध, विरोध शुरू
अजमेर में धार्मिक झण्डियां लगाने पर प्रतिबंध, विरोध शुरू
डीजे के प्रयोग पर रोक

जिले में डीजे के प्रयोग पर भी रोक लगाई गई है। जिला कलक्टर ने बताया कि डीजे को विभिन्न धार्मिक एवं अन्य समारोहों में उपयोग करने से प्रदूषण, असुविधाएं क्षति एवं जोखिम होता है। जिले के सार्वजनिक स्थानों, धार्मिक स्थानों एवं आमजन को प्रभावित करने वाले क्षेत्रों में शांति बनाए रखने के लिए डीजे के प्रयोग को निषेध किया गया है। यंत्रों का उपयोग करने के लिए उपखण्ड मजिस्ट्रेट की मंजूरी जरूरी होगी।
त्यौहार मनाने से रोकने का प्रयास -देवनानी
अजमेर. अजमेर में धारा 144 लगाने पर विधायक वासुदेव देवनानी ने नाराजगी जताई है। उन्होंने कहा कि पिछले सवा तीन साल से प्रदेश में तुष्टीकरण का खुला खेल जोरों से खेला जा रहा है। इसी एक महीने में रामनवमी, अम्बेडकर जयंती, महावीर जयंती, हनुमान जयंती आदि त्यौहार हैं। इन त्यौहारों व जयंतियों पर शहर के प्रमुख मार्गों व चैराहों को झंडियों से सजाया जाता है। सरकार के निर्देश पर जिला प्रशासन द्वारा जो आदेश निकाले गए हैं, उसका तो यही मतलब हुआ कि हिन्दू अपने त्यौहार भी प्रशासन से बिना पूछे नहीं मना सकते हैं।
देवनानी ने कहा कि जैसे ही हिन्दुओं के त्यौहार आते हैं, सरकार तुष्टीकरण की नीति अपनाते हुए इस तरह की रोक और धारा 144 लगा देती है। कांग्रेस सरकार ने तुष्टीकरण की सभी सीमाएं लांघ दी हैं। उन्होंने कहा कि इसी तरह के आदेश निकालना निश्चित ही प्रायोजित है, जिसे सहन नहीं किया जाएगा। उन्होंने इस संबंध में जिला कलेक्टर अंशदीप से फोन पर बात कर चेताया कि धारा 144 लागू करने संबंधी आदेश तुरंत वापस लिया जाए, ताकि हिन्दू लोग अपने त्यौहार उत्साह से मना सकें।
यह तो बहुत ही गलत है- यादव

भाजपा के पूर्व जिला अध्यक्ष अरविंद यादव ने जिला प्रशासन से इस पर पुनर्विचार की मांग की है। यादव ने कहा है कि प्रदेश की कांग्रेस सरकार ने तुष्टीकरण की सारी सीमाएं तोड़ दी है। अप्रैल माह भारतीय संस्कृति की दृष्टि से महत्वपूर्ण होता है , अभी 2 अप्रैल को ही धूमधाम से नव संवत्सर बनाया गया कहीं कुछ नहीं हुआ। अजमेर में सांप्रदायिक सद्भाव है। ऐसा कैसे संभव हो सकता है की नवरात्रों के चलते धारा 144 लगा दी जाए जब कि आने वाली 9 अप्रैल को दुर्गा अष्टमी है ,10 अप्रैल को श्री रामनवमी है, 14 अप्रैल को महावीर जयंती तथा अंबेडकर जयंती है ,16 अप्रैल को हनुमान जयंती है। इन सभी पर्वों को लेकर संपूर्ण जिले के सर्व समाज में उत्साह का वातावरण है ऐसा आदेश अजमेर जिले में पहली बार हुआ है की धार्मिक पताकाओं को भी प्रतिबंधित कर दिया।

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

इन बर्थ डेट वालों पर शनि देव की रहती है कृपा दृष्टि, धीरे-धीरे काफी धन कर लेते हैं इकट्ठाLiquor Latest News : पियक्कडों की मौज ! रात एक बजे तक खरीदी जा सकेगी शराबशुक्र देव की कृपा से इन दो राशियों के लोग लाइफ में खूब कमाते हैं पैसा, जीते हैं लग्जीरियस लाइफMorning Tips: सुबह आंख खुलते ही करें ये 5 काम, पूरा दिन गुजरेगा शानदारDelhi Schools: दिल्ली में बदलेगी स्कूल टाइमिंग! जारी हुई नई गाइडलाइनMahindra Scorpio 2022 का लॉन्च से पहले लीक हुआ पूरा डिजाइन और लुक, बाहर से ऐसी दिखती है ये पावरफुल कारबैड कोलेस्‍ट्राॅल और डिमेंशिया को कम करके याददाश्त को बढ़ाता है ये लाल खट्‌टा-मीठा फल, जानिए इसके और भी फायदेAC में लगाइये ये डिवाइस, न के बराबर आएगा बिजली बिल, पूरे महीने होगी भारी बचत

बड़ी खबरें

अफगानिस्तान के काबुल में भीषण धमाका, तालिबान के पूर्व नेता की बरसी पर शोक मना रहे लोगों को बनाया गया निशानाPunjab Borewell Accident: बोरवेल में गिरे 6 साल के बच्चे की नहीं बचाई जा सकी जान, अस्पताल में हुई मौतBJP को सरकार बनाने के लिए क्यूँ जरूरी है काशी और मथुरा? अयोध्या से बड़ा संदेश देने की तैयारी..पश्चिम बंगाल का पूर्व मेदिनीपुर जिला बम धमाकों से दहला, तलाशी के दौरान बरामद हुए 1000 से अधिक बमIPL 2022, SRH vs PBKS Live Updates: पंजाब ने हैदराबाद को 5 विकेट से हरायाकपिल देव के AAP में शामिल होने की चर्चा निकली गलत, सोशल मीडिया पर पूर्व कप्तान ने खुद साफ की स्थितिआख़िर क्यों असदुद्दीन ओवैसी बार-बार प्लेसेज ऑफ़ वर्शिप एक्ट का रो रहे हैं रोना, यहां जानेंपुजारा और कार्तिक की टीम में वापसी, उमरान मालिक को भी मिला मौका, देखें दक्षिण अफ्रीका और इंग्लैंड दौरे का पूरा स्क्वाड
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.