Big issue: सभी काम वाइस चांसलर करे, अब नहीं चलेगा ऐसा....

उच्च स्तरीय समिति की वीडियो कॉन्फे्रंसिंग। कई सुधार-नवाचार की सिफारिश।

By: raktim tiwari

Published: 17 Oct 2020, 04:27 PM IST

अजमेर.

कॉलेज को सम्बद्धता देने में कमाई करने की सोच गलत है। भारी-भरकम जुर्माने की प्रवृत्ति में भी बदलाव होना चाहिए। यह बात महर्षि दयानंद सरस्वती विश्वविद्यालय में सम्ब²ता और नवाचार के गठित समिति की वीडियो कॉन्फे्रंसिंग में सामने आई।

कॉलेज को सम्बद्धता, सीट वृद्धि और परीक्षा केंद्र बनाने की आड़ में हुए 'घूसकांडÓ से महर्षि दयानंद सरस्वती विश्वविद्यालय की छवि धूमिल हुई है। निलंबित कुलपति रामपाल सिंह, उसका दलाल रणजीत और अन्य को एसीबी ने रकम सहित गिरफ्तार किया था। कार्यवाहक कुलपति ओम थानवी ने कामकाज के विकेंद्रीकरण, पारदर्शिता-शुचिता और नवाचार को बढ़ावा देने के लिए आरपीएससी के पूर्व अध्यक्ष प्रो. बी.एम.शर्मा की अध्यक्षता में कमेटी बनाई है।

कमाई का जरिया नहीं सम्बद्धता
प्रो. शर्मा ने एकेडेमिक विभाग से वीडियो कॉन्फे्रंसिंग की। उन्होंने कहा कि नियमानुसार सम्बद्धता देना विवि की जिम्मेदारी है। सम्बद्धता को आमदनी का जरिया नहीं बनाना चाहिए। कॉलेज पर भारी-भरकम जुर्माने के बजाय विवेकपूर्ण काम होना चाहिए। कॉलेजों के निरीक्षकों के पैनल गोपनीय रखने जरूरी हैं। ऑनलाइन सम्बद्धता आवेदन-प्रक्रिया पर चर्चा होनी चाहिए। इस दौरान प्रो. अशोक नागावत, प्रो. संजय लोढा,डॉ. एस. आशा, प्रो. शिव प्रसाद भी मौजूद रहे।

इन बिंदुओं पर हुई चर्चा
-विवि से कितने कॉलेज हैं सम्बद्ध
-सम्बद्धता प्रक्रिया में व्यवहारिक कठिनाई
-कितने कॉलेज की सम्बद्धता है प्रक्रियाधीन
-कमेटी को उपलब्ध कराए जाएं सम्बद्धता अध्यादेश
-विवि के अध्यादेश 70-ए की जानकारी
-प्रबंध मंडल में हुए संशोधन-फैसलों की जानकारी
-सम्बद्धता प्रक्रिया का होना चाहिए विकेंद्रीकरण
-समिति के सम्बद्धता से जुड़े नवाचार बने सभी विवि के लिए नजीर

सिलेबस कम करने पर असमंजस में यूनिवर्सिटी

अजमेर. कोरोना संक्रमण और ऑफलाइन कक्षाएं ठप होने के बावजूद राज्य के विश्वविद्यालय 'सिलेबसÓ कम करने को लेकर असमंजस में हैं। जहां सीबीएसई तो कदम बढ़ा चुका है। राजस्थान माध्यमिक शिक्षा बोर्ड इसकी तैयारी में है। लेकिन उच्च शिक्षा विभाग-विश्वविद्यालय स्तर पर कोई तैयारी नहीं दिख रही।

raktim tiwari Reporting
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned