scriptBulldozer's claw works in Rajasthan too... | राजस्थान में भी चल रहा बुलडोजर का पंजा, मगर... | Patrika News

राजस्थान में भी चल रहा बुलडोजर का पंजा, मगर...

उत्तर प्रदेश में बुलडोजर ने इतिहास रच दिया। वहां बुलडोजर सुपरहिट हुआ और योगी सरकार की सत्ता में वापसी हो गई लेकिन राजस्थान में इसका उलट है। यहां बुलडोजर चल तो रहे हैं लेकिन भू-माफियाओं के कब्जों पर कम और पहाड़ों पर ज्यादा देखे जा रहे हैं।

अजमेर

Published: April 01, 2022 03:15:02 pm

युगलेश शर्मा.
अजमेर. अरावली की गोद में बसी ऐतिहासिक नगरी अजमेर में पहाडिय़ों को बुलडोजरों से ढहाया जा रहा है। पहाड़ी की आखिरी चोटी तक पहुंच चुके खनन माफियाओं के यह बुलडोजर सरकारी मशीनरी को लगातार चुनौती दे रहे हैं। लेकिन भीगी बिल्ली बने अफसरों के कानों तक रात-दिन काटी जा रही पहाडिय़ों की चीत्कार नहीं पहुंच पा रही है।
राजस्थान में भी चलता है बुलडोजर का पंजा...
राजस्थान में भी चलता है बुलडोजर का पंजा...
कोई नहीं दिखा रहा दम. . .

अजमेर की पहाडिय़ों पर आज से नहीं बल्कि सालों से अवैध खनन धड़ल्ले से चल रहा है। यहां खनन माफिया के हौसलेे इतने बुलंद हैं कि कोई उन्हें रोकने की हिम्मत नहीं करते। खरेखड़ी की पहाड़ी पर गुरुवार को कुछ ऐसा ही नजारा नजर आया। यहां आधी पहाड़ी चट कर दी गई लेकिन खनन माफिया फिर भी बाज नहीं आ रहे।
कदम-कदम पर ट्रॉलियां

खरेखड़ी के पहाड़ी इलाके में कदम-कदम पर ट्रॉलियां और जेसीबी लगी नजर आई। यहां करीब 500 से 1000 वर्गमीटर के दायरे में निर्बाध अवैध खनन चल रहा है। अवैध खनन से निकले पत्थरों के अलावा खंजा पत्थर व कंकरीट, मलबा आदि ट्रेक्टर टॉलियों में भरकर शहर के विभिन्न इलाकों में सप्लाई किया जा रहा है। पुष्कर और अजमेर के रास्ते पर गुरुवार को भी पत्थरों से भरी कई ट्रॉलियां दौड़ती नजर आई।
चोटी तक पहुंचने के लिए बना लिए रास्ते

खरेखड़ी पहाड़ी की आखिरी चोटी तक पहुंचने के लिए खनन माफिया ने रास्ते तक बना लिए हैं। आम आदमी का जहां चढऩा तक मुश्किल होता था, वहां बुलडोजर चढ़ाए जा रहे हैं। लेकिन सरकारी अधिकारी पहाड़ी के आस-पास फटक तक नहीं सकते, कार्रवाई की बात तो स्वप्न सरीखा है।
बिना नम्बरी गाड़ी

अवैध खनन के कार्य में करीब 100 ट्रेक्टर ट्रॉलियां दिन-रात लगी हुई हैं। खास बात यह कि इस काम में लगे वाहनों पर परिवहन विभाग के रजिस्ट्रेशन नंबर तक नहीं हैं। इसके बावजूद यह ट्रॉलियां धड़ल्ले से शहर में दौड़ रही हैं और यातायात पुलिस चालान व जब्ती आदि भी नहीं करती।

संभाग के भी बुरे हाल, 6 नदियों पर खतरा

अजमेर संभाग के सभी चारों जिलों में अवैध खनन धड़ल्ले से चल रहा है। अजमेर में जहां आलनियावास, भांवता, रूपनगढ़, सावर, नयागांव, गुढ़ा, देवलियाकलां, बड़ली, कुरथल आदि गांवों में अवैध खनन हो रहा है, वहीं भीलवाड़ा के जहाजपुर, मंगरोप, हमीरगढ़, आकोला, मांडलगढ़, कान्याखेड़ी, बागौर क्षेत्र समेत पूरे जिले में खनन माफिया फैला है। नागौर में रियाबड़ी, कुचेरा, लाडपुरा, आलनियावास, लूंगिया, झिंटिया, रोहिसा, रोहिसी, कीरो की ढाणी, लाडवा, जसनगर, पलाड़ा, थांवला, हरसोर, भैरुंदा और टोंक के चुली, बरवास, ककराज, जेबाडिय़ा, बनेठा, मंडावर, चिरोज, सुरेली सहित एक दर्जन अन्य गांव खनन माफिया के बंधक बने हुए हैं। इससे बनास, मासी, लूणी, कोठारी, खारी और डाई नदी के अस्तित्व पर खतरा मंडरा रहा है।

जमीन किसकी. . .में ही उलझे विभाग

हमारी जमीन पर दीवारें बना रखी हैं, जिस जगह खनन की बात की जा रही है, वह एडीए (अजमेर विकास प्राधिकरण) की जमीन है। प्रशासनिक बैठकों में कई बार यह मुद्दा उठा है लेकिन एडीए की तरफ से कोई ठोस कार्रवाई नहीं हुई है।
-सुनील चिद्री, डीएफओ अजमेर
खरेखड़ी की पहाडिय़ां वन विभाग के नाम हैं। गैर मुमकिन पहाड़ वन विभाग के नाम ही दर्ज है। हमने पूर्व में जांच की थी। एडीए की जमीन पहाड़ी से काफी नीचे है।
-अरविंद कविया, तहसीलदार अजमेर विकास प्राधिकरण

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

17 जनवरी 2023 तक 4 राशियों पर रहेगी 'शनि' की कृपा दृष्टि, जानें क्या मिलेगा लाभज्योतिष अनुसार घर में इस यंत्र को लगाने से व्यापार-नौकरी में जबरदस्त तरक्की मिलने की है मान्यतासूर्य-मंगल बैक-टू-बैक बदलेंगे राशि, जानें किन राशि वालों की होगी चांदी ही चांदीससुराल को स्वर्ग बनाकर रखती हैं इन 3 नाम वाली लड़कियां, मां लक्ष्मी का मानी जाती हैं रूपबंद हो गए 1, 2, 5 और 10 रुपए के सिक्के, लोग परेशान, अब क्या करें'दिलजले' के लिए अजय देवगन नहीं ये थे पहली पसंद, एक्टर ने दाढ़ी कटवाने की शर्त पर छोड़ी थी फिल्ममेष से मीन तक ये 4 राशियां होती हैं सबसे भाग्यशाली, जानें इनके बारे में खास बातेंरत्न ज्योतिष: इस लग्न या राशि के लोगों के लिए वरदान साबित होता है मोती रत्न, चमक उठती है किस्मत

बड़ी खबरें

IPL 2022 MI vs SRH Live Updates : रोमांचक मुकाबले में हैदराबाद ने मुंबई को 3 रनों से हरायामुस्लिम पक्षकार क्यों चाहते हैं 1991 एक्ट को लागू कराना, क्या कनेक्शन है काशी की ज्ञानवापी मस्जिद और शिवलिंग...जम्मू कश्मीर के बारामूला में आतंकवादियों ने शराब की दुकान पर फेंका ग्रेनेड,3 घायल, 1 की मौतमॉब लिंचिंग : भीड़ ने युवक को पुलिस के सामने पीट पीटकर मार डाला, दूसरी पत्नी से मिलने पहुंचा थादिल्ली के अशोक विहार के बैंक्वेट हॉल में लगी आग, 10 दमकल मौके पर मौजूदभारत में पेट्रोल अमेरिका, चीन, पाकिस्तान और श्रीलंका से भी महंगाकर्नाटक के राज्यपाल ने धर्मांतरण विरोधी विधेयक को दी मंजूरी, इस कानून को लागू करने वाला 9वां राज्य बनाSwayamvar Mika Di Vohti : सिंगर मीका का जोधपुर में हो रहा स्वयंवर, भाई दिलर मेहंदी व कॉमेडियन कपिल शर्मा सहित कई सितारे आए
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.