आग से चारा जला,ग्रामीण इलाके में दमकल का अभाव

हर साल लाखों रुपए का जलता है चारा, रूपनगढ़, अरांई, मसूदा, भिनाय, पुष्कर, श्रीनगर, सावर, जवाजा, सिलोरा में दमकल का अभाव,ग्रामीण अपने स्तर पर आग पर पाते हैं काबू

By: suresh bharti

Published: 05 Apr 2021, 10:04 PM IST

अजमेर. जिले में कई स्थानों पर आग लगने से हर साल बड़ा नुकसान होता आया है। खासकर ग्रामीण इलाके में दमकल के पर्याप्त प्रबंध नहीं है। कई उपखंड मुख्यालयों पर अग्निशन यंत्र नहीं होने पर जिला मुख्यालय से मंगाया जाता है। मसलन, रूपनगढ़, अरांई, मसूदा, भिनाय, पुष्कर, श्रीनगर, सावर, जवाजा, सिलोरा क्षेत्र में दमकल की व्यवस्था नहीं होने से किशनगढ़, ब्यावर, सरवाड़, केकड़ी, बिजयनगर व नसीराबाद सहित अजमेर से दमकल मंगवाई जाती है। ऐसे में घटनास्थल पर दमकल पहुंचने में विलंब होने पर आग से काफी नुकसान हो चुका होता है।

आमतौर पर अप्रेल से जून माह के बीच खेत, खलिहान, बाड़ व अन्य जगह आग लगने की घटनाएं अधिक होती है। रविवार को भी अजमेर जिले के कई स्थानों पर आग की घटनाएं हुई।

भड़सुरी में चारा जला, विद्यालय में घास

पीसांगन. उपखंड क्षेत्र के भड़सुरी में रविवार शाम चारे के ढेर में तो बुधवाड़ा में हरिपुरा स्थित राजकीय विद्यालय प्रांगण में अज्ञात कारणों के चलते आग लग गई। आग से भड़सुरी में 4-5 ट्रॉली चारा जलकर खाक हो गया। वहीं बुधवाड़ा में विद्यालय प्रांगण में घास जल गई। गनीमत रही कि दोनों मामलों में समय रहते आग पर काबू पा लेने से हादसा टल गया।

थानाधिकारी प्रीति रत्नू के मुताबिक भड़सुरी निवासी सांवराराम गुर्जर के बाड़े में अज्ञात कारणों से चारे में आग लग गई। इससे चारा जल गया। सूचना मिलने पर पहुंचे हैड कांस्टेबल प्रभुराम नेहरा, बीट कांस्टेबल सुशील कुमार बराड़ा व विक्रमसिंह शेखावत ने ग्रामीणों की मदद से आग पर काबू पाया।
इसी प्रकार बुधवाड़ा के हरिपुरा स्थित राजकीय विद्यालय प्रांगण में अज्ञात कारणों से आग लगने से विद्यालय प्रांगण में उगी घास फूं स जल गई। आग की सूचना पर सरपंच जगदीश गुर्जर, वार्ड पंच बाबूलाल, हनुमान, शेरू व सुल्तान, सुरेंद्र सिंह समेत कई ग्रामीण मौके पर पहुंचे। उन्होंने पानी के टैंकर मंगवा कर विद्यालय प्रांगण में घास में लगी आग पर काबू पाया।

आग से चारा,कुट्टी व ईंधन जला

टांटोटी. तहसील क्षेत्र के ग्राम कल्याणपुरा में रविवार को भी तीसरी बार एक और बाड़े में आग लग जाने से चारा, कुट्टी व ईंधन की लकडिय़ां जलकर राख हो गईं। कल्याणपुरा गांव मेें सूरज सागर तालाब व आबादी के निकट अमीरुद्दीन तेली के एक और दूसरे बाड़े मेें अज्ञात कारणों से दोपहर १२ बजे के करीब अचानक आग गई। इसकी सूचना मिलने पर ग्रामीणों ने पानी के टैंकरों की व्यवस्था कर आग पर काबू पाने का प्रयास किया। सरवाड़ नगर पालिका की दमकल ने एक घंटे बाद मौके पर पहुंचकर आग पर काबू पाया।

ग्रामीणों के अनुसार बाड़े में एक ट्रॉली चारा सहित कुट्टी जल गई तथा बाड़े में रखी कपास के पौधों की सूखी लकडिय़ां (बणेठयां) जलकर राख हो गई। रविवार सुबह बाड़े में चारे की कुट्टी कराई थी। कल्याणपुरा में इस सप्ताह में लगातार तीसरी बार एक के बाद एक बाड़े में आग लगी है। रविवार को भी टांटोटी नायब तहसीलदार गोपाललाल जांगिड़ ने पहुंचकर घटना का जायजा लिया। इस दौरान सरपंच रमेश बैरवा, पटवारी मानसिंह राठौड़, जोतायां पटवारी प्रदीप कुमार वर्मा, शोकलिया पटवारी रामलाल श्योराण, शंकर सेन, चतर सिंह, सराना थाना पुलिस जाप्ता मौजूद रहा।

suresh bharti Desk
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned