scriptCampaign: Toursit bus need to increase tourim in ajmer | Campaign: अगर चलें यह खास बस तो अजमेर बन सकता है टूरिस्ट हब.... | Patrika News

Campaign: अगर चलें यह खास बस तो अजमेर बन सकता है टूरिस्ट हब....

अजमेर-पुष्कर प्राकृतिक खूबसूरती और आसपास के इलाकों की पुरामहत्व इमारतों के लिए विख्यात है।

अजमेर

Published: April 07, 2022 08:13:17 pm

अजमेर. अरावली की खूबसूरती, आनासागर-फायसागर झील, किला-संग्रहालय के बूते अजमेर टूरिज्म सर्किट बन सकता है। सबसे बड़ी कमी राजस्थान पर्यटन विकास निगम की टूरिस्ट बस नहीं होना है। निगम के थोड़े से प्रयासों से अजमेर और इसके आसपास के स्थलों को जोड़कर अहम पर्यटन केंद्र बनाया जा सकता है।
special tourism bus
special tourism bus
अजमेर-पुष्कर प्राकृतिक खूबसूरती और आसपास के इलाकों की पुरामहत्व इमारतों के लिए विख्यात है। यहां पर्यटकों को लुभाने के लिए तमाम आकर्षण मौजूद हैं। महज 25 से 30 किलोमीटर के दायरे को परस्पर जोड़ा जाए तो पर्यटक हब बन सकता है।
टूरिस्ट बस की दरकार

अजमेर में किशनगढ़ एयरपोर्ट, रेल और रोडवेज बसों से आने वालेे पर्यटकों के लिए राजस्थान पर्यटन विकास निगम अथवा अन्य होटल से आवाजाही के लिए टूरिस्ट बस सुविधा नहीं है। पर्यटकों को महंगे दामों पर टैक्सी अथवा ऑटो किराए पर लेने पड़ते हैं। जबकि पर्यटन निगम चाहे तो जयपुर, उदयपुर की तरह प्रमुख पर्यटन केद्रों का रूट चार्ट बनाकर दो-तीन टूरिस्ट बस अथवा मिनी टूरिस्ट कैब शुरू कर सकता है। टूरिस्ट ऑपरेटर्स से एमओयू कर बसें चलाई जा सकती हैं।
अजमेर में यह खास केंद्र (10 से 15 किलोमीटर में)

-11वीं शताब्दी की ख्वाजा साहब की दरगाह

-10वीं शताब्दी में निर्मित तारागढ़ का किला

-16वीं शताब्दी में निर्मित आनासागर बारादरी-उद्यान
-18वीं शताब्दी की फायसागर झील

-18वीं शताब्दी की सोनीजी की नसियां

-15वीं शताब्दी का राजकीय संग्रहालय (अकबरी किला)

-14वीं शताब्दी की जिनदत्तसूरी दादाबाड़ी

अजमेर के निकटवर्ती पर्यटन केंद्र (20 से 30 किमी में)
-ज्ञानोदय तीर्थ नारेली

-तारागढ़ पहाड़ से सटी घाटी में चश्मा-ए-नूर

-तारागढ़ के सटे पहाड़ में हैप्पी वैली और नूर महल

-तारागढ़ पहाड़ पर निर्मित पृथ्वीराज चौहान स्मारक

-अजयसर गांव स्थित प्राचीन अजगंधेश्वर महादेव मंदिर
-अरावली-नाग पहाड़ स्थित महाराणा प्रताप स्मारक

-काजीपुरा गांव स्थित भैरव पहाड़ी और भैरव मंदिर

-खोड़ा गणेश से नारेली तक वाइल्ड लाइफ

-किशनगढ़ के निकट मार्बल स्लरी पार्क

-पुष्कर-माकड़वाली-होकरा के रेतीले टीबे
यह बने हैं अजमेर के नए टूरिस्ट पॉइंट

वैशाली नगर में आनासागर झील के निकट सेवन वंडर्स पॉइंट

गौरव पथ-पुरानी चौपाटी और रीजनल कॉलेज चौपाटी पर म्यूजिकल फाउन्टेन

किंग एडवर्ड मेमोरियल पर थ्री डी प्रोजेक्शन शो
-आनासागर झील के चारों तरफ 10.5 किलोमीटर का पाथ-वे

-सागर विहार कॉलोनी-वैशाली नगर में बर्ड पार्क

-तारागढ़ पर रेलवे के खंडहर भवन में होटल अथवा सर्किट हाउस

-होकरा-माकड़वाली से सटे धोरों में कैंप टूरिज्म
-बांडी नदी पर अहमदाबाद की साबरमती नदी की तर्ज पर रिवर फ्रंट

अजमेर में पर्यटन विकास को जबरदस्त बढ़ावा दिया जा सकता है। प्रमुख पर्यटन केंद्रों का सर्किट बनाकर टूरिस्ट बस अथवा मिनी कैब चलाई जा सकती हैं। इससे ना केवल सभी पर्यटन केंद्रों को पहचान मिलेगी बल्कि आय भी बढ़ेगी। अरावली पर ट्रेकिंग, नाइट कैंप टूरिज्म, तारागढ़ पर होटल-रेस्टोरेंट बनाकर माउन्टेन टूरिज्म को बढ़ावा दिया जा सकता है।
प्रो. निमित्त रंजन चौधरी, विभागाध्यक्ष टूरिज्म एंड हॉस्पिटेलिटी मैनेजमेंट जामिया मिलिया

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

यहाँ बचपन से बच्ची को पाल-पोसकर बड़ा करता है पिता, जैसे हुई जवान बन जाता है पतियूपी में घर बनवाना हुआ आसान, सस्ती हुई सीमेंट, स्टील के दाम भी धड़ामName Astrology: पिता के लिए भाग्यशाली होती हैं इन नाम की लड़कियां, कहलाती हैं 'पापा की परी'इन 4 राशियों के लड़के अपनी लाइफ पार्टनर को रखते हैं बेहद खुश, Best Husband होते हैं साबितजून में इन 4 राशि वालों के करियर को मिलेगी नई दिशा, प्रमोशन और तरक्की के जबरदस्त आसारमस्तमौला होते हैं इन 4 बर्थ डेट वाले लोग, खुलकर जीते हैं अपनी जिंदगी, धन की नहीं होती कमी1119 किलोमीटर लंबी 13 सड़कों पर पर्सनल कारों का नहीं लगेगा टोल टैक्ससंयुक्त राष्ट्र की चेतावनी: दुनिया के पास बचा सिर्फ 70 दिन का गेहूं, भारत पर दुनिया की नजर

बड़ी खबरें

आंध्र प्रदेश में जिले का नाम बदलने पर हिंसा, मंत्री का घर जलाया, कई घायलपंजाब के पूर्व स्वास्थ्य मंत्री के OSD प्रदीप कुमार भी हुए गिरफ्तार, 27 मई तक पुलिस रिमांड में विजय सिंगलारिलीज से पहले 1 जून को गृहमंत्री अमित शाह देखेंगे अक्षय कुमार की 'पृथ्वीराज', जानिए किस वजह से रखी जा रहीं स्पेशल स्क्रीनिंगGujrat कांग्रेस के वरिष्ठ नेता का विवादित बयान, बोले- मंदिर की ईंटों पर कुत्ते करते हैं पेशाबIPL 2022, Qualifier 1 RR vs GT: मिलर के तूफान में उड़ा राजस्थान, गुजरात ने पहले ही सीजन में फाइनल में बनाई जगहRajya Sabha Election 2022: राजस्थान से मुस्लिम-आदिवासी नेता को उतार सकती है कांग्रेस'तुम्हारे कदम से मेरी आँखों में आँसू आ गए', सिंगला के खिलाफ भगवंत मान के एक्शन पर बोले केजरीवालसमलैंगिकता पर बोले CM नीतीश कुमार- 'लड़का-लड़का शादी कर लेंगे तो कोई पैदा कैसे होगा'
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.