cbse: लाखों स्टूडेंट्स को रिजल्ट का इंतजार, बढ़ रही धड़कनें

मूल्यांकन के अनुसार तैयार कर जारी किया जाएगा। सभी रीजन में स्टाफ परिणाम का तकनीकी परीक्षण कर रहा है।

By: raktim tiwari

Published: 11 Jul 2020, 07:36 AM IST

अजमेर.

सीबीएसई दसवीं और बारहवीं के नतीजों को अंतिम रूप देने में जुटा है। कॉपियों की जांच और आंतरिक मूल्यांकन के अंकों का परीक्षण जारी है। परीक्षाओं के नतीजे 15 जुलाई तक जारी किए जाएंगे। बोर्ड दसवीं का परिणाम कॉपियों के मूल्यांकन के अनुसार घोषित करेगा। जबकि बारहवीं के विद्यार्थियों को तीन आंतरिक परीक्षाओं के मूल्यांकन के आधार पर अंक दिए जाएंगे।

परिजनों की सुप्रीम कोर्ट में याचिका के बाद बोर्ड ने दसवीं-बारहवीं की परीक्षाएं स्थगित कर चुका है। दसवीं और बारहवीं में 30 लाख 96 हजार 771 विद्यार्थी पंजीकृत हैं। जुटा नतीजे तैयार करने मेंदसवीं अथवा बारहवीं कक्षा के कई विद्यार्थियों की विषयवार पेपर 19 मार्च से पहले खत्म हो चुकी थीं। इनका परिणाम कॉपियों के मूल्यांकन के अनुसार तैयार कर जारी किया जाएगा। सभी रीजन में स्टाफ परिणाम का तकनीकी परीक्षण कर रहा है।

बारहवीं में यह रहेगी व्यवस्था
-जो विद्यार्थी तीन से ज्यादा विषयों की परीक्षाएं दे चुके हैं, उन्हें बकाया विषयों में पूर्व की तीन आंतरिक परीक्षाओं के मूल्यांकन के आधार पर अंक दिए जाएंगे।
-ऐसे विद्यार्थी जिन्होंने सिर्फ तीन विषयों की परीक्षाएं दी हैं, उन्हें बकाया दो विषयों में पूर्व की आंतरिक परीक्षाओं के मूल्यांकन के आधार पर अंक दिए जाएंगे।
-विशेषतौर पर दिल्ली या किसी रीजन जहां विद्यार्थियों ने सिर्फ एक या दो पेपर ही दिए हैं। इन्हें प्रायोगिक परीक्षा, प्रोजेक्ट और तीन आंतरिक परीक्षाओं के मूल्यांकन के आधार पर अंक दिए जाएंगे।

अजमेर रीजन में पंजीकृत विद्यार्थी
बारहवीं-1.14 लाख
दसवीं-90 हजार
राज्य-राजस्थान और गुजरात

कोरोना संक्रमण बढ़ाएगा 2021 के एग्जाम का टेंशन

रक्तिम तिवारी/अजमेर. कोरोना वायरस संक्रमण से 2021 की सीबीएसई की दसवीं-बारहवीं सहित राष्ट्रीय स्तरीय प्रवेश परीक्षाओं पर भी असर पड़ सकता है। मौजूदा सत्र में पढ़ाई, कक्षाओं में जितनी देरी होगी उतना ही अगले वर्ष होने वाली परीक्षाओं के आयोजन में परेशानी बढ़ेगी।

नेशनल टेस्टिंग एजेंसी जेईई, नीट, नेट-जेआरएफ, सीएसआईआर-नेट परीक्षा का आयोजन करता है। भारतीय प्रौद्योगिकी संस्थानों में प्रवेश के लिए जेईई एडवांस परीक्षा आईआईटी और देश की नेशनल लॉ यूनिवर्सिटी क्लैट परीक्षा कराती है। कोरोना का आंकड़ा 7 लाख पारमहाराष्ट्र, गुजरात, तमिलनाडु, हरियाणा, राजस्थान, असम सहित कई राज्यों में कोरोना संक्रमित केस बढ़ रहे हैं। देश में 7 लाख लोग कोरोना संक्रमित हो चुके हैं। सीबीएसई की दसवीं-बारहवीं परीक्षाएं स्थगित हो चुकी हैं। नेशनल टेस्टिंग एजेंसी ने जेईई मेन, नीट को सितंबर में कराने का फैसला किया है। केंद्रीय और राज्य स्तरीय विश्वविद्यालयों की तृतीय वर्ष परीक्षाएं भी सितंबर में प्रस्तावित हैं। साल 2020 के अंत तक हालात सामान्य होने मुश्किल दिख रहे हैें।

Show More
raktim tiwari Reporting
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned