आकाशीय बिजली, दो सगे भाइयों समेत तीन मासूमों की मौत

उपखंड के सदर थाना क्षेत्र के गांव क्षेत्र कुदिन्ना में रविवार दिन में आकाशीय बिजली गिरने से तीन मासूम बच्चों की मौत हो गई। घटना के बाद जहां पुलिस और प्रशासन ने मौके पर पहुंचने में घंटों लगा दिए, वहीं मौके पर पहुंच पीडि़त ग्रामीणों को सांत्वना दी।

By: Dilip

Updated: 12 Jul 2021, 12:28 AM IST

बाड़ी (धौलपुर). उपखंड के सदर थाना क्षेत्र के गांव क्षेत्र कुदिन्ना में रविवार दिन में आकाशीय बिजली गिरने से तीन मासूम बच्चों की मौत हो गई। घटना के बाद जहां पुलिस और प्रशासन ने मौके पर पहुंचने में घंटों लगा दिए, वहीं मौके पर पहुंच पीडि़त ग्रामीणों को सांत्वना दी। ग्रामीणों ने बताया कि गांव के अमरसिंह का 15 वर्षीय पुत्र लवकुश और रामवीर का 10 वर्षीय पुत्र विपिन और 8 वर्षीय पुत्र भोलू पशुओं को चराने के लिए गांव से बाहर जंगल में गए थे। जहां एक दीवार के सहारे बैठे हुए थे। अचानक मौसम बदला और बूंदाबांदी के बीच बिजली की तेज गर्जना हुई। देखते ही देखते आकाशीय बिजली ने तीनों मासूम बालकों को अपना शिकार बना लिया। घटना के बाद जब ग्रामीण मौके पर पहुंचे तो उन्हें तीनों बालक मृत मिले। घटना के बाद गांव में कोहराम मच गया। गांव में शोक छाया है और हर चेहरा गमगीन दिखाई दे रहा है।

ग्रामीणों ने जानकारी दी है कि घटना के 2 घंटे तक ना तो गांव में पुलिस पहुंची, ना ही प्रशासन ने उनकी कोई सुध ली। बाद में जब घटना की जानकारी मीडिया और सोशल मीडिया तक पहुंची, तब जाकर बाड़ी तहसीलदार पुरुषोत्तम लाल मौके पर आए। वहीं सदर पुलिस के अलावा बाड़ी सीओ बाबूलाल मीणा भी मौके पर पहुंचे। परिजनों को सांत्वना देने के बाद कानूनी कार्रवाई पूरी की गई।

एक ही घर के बुझे दो चिराग, पड़ोसी का बालक भी बना शिकार
प्रकृति के प्रकोप की इस घटना में जहां एक ही घर के दो सगे भाई बिजली का शिकार बन गए, वहीं पड़ोसी का लड़का भी मौत के आगोश में चला गया। ग्रामीणों ने बताया कि विपिन और उसका छोटा भाई भोलू पुत्र रामवीर और लवकुश तीनों दीवार के सहारे बैठे थे। अचानक बिजली गिरने से तीनों की मौत हो गई। तीनों के शव जैसे ही गांव में पहुंचे तो पूरा गांव शोकमग्न हो गया। महिलाएं विलाप करने लगी। स्थिति यह हो गई कि बालकों की मां बार-बार बेहोश जाती थी, बाद में ग्रामीण उनको होश में लाते तो केवल अपने कलेजे के टुकड़ों को याद कर फिर से क्रूंदन होने लगता। ऐसे में परिजनों को संभालना भी लोगों को मुश्किल हो रहा था।

बिन बारिश गिरी बिजली, प्रकृति के आगे हर कोई बेवश
गांव के लोगों ने बताया कि जिस समय आकाशीय बिजली गिरी, उस वक्त बादल तो आकाश में थे, लेकिन बारिश की केवल बूंदे ही गिर रही थी। पिछले एक पखवाड़े से लोग बारिश का इंतजार कर रहे हैं, लेकिन बारिश तो नहीं आई, लेकिन बिन बारिश ही बिजली गिर गई और तीन मासूमों को अपना शिकार बना ले गई। ऐसे में बिन बारिश गिरी बिजली से प्रकृति के आगे हर कोई बेबश दिखाई दे रहा है।

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned