'सुरक्षाचक्र में आ रहे बच्चे, नियमित टीकाकरण पर फोकस

बताया जा रहा, कि कौनसा टीका किस रोग का इलाज, कोविड की तीसरी लहर से पूर्व 94 प्रतिशत अचीवमेंट

By: CP

Published: 16 Sep 2021, 02:01 AM IST

अजमेर. कोरोना संक्रमण की संभावित तीसरी लहर से पूर्व शिशु एवं बच्चों में नियमित टीकाकरण का लक्ष्य निर्धारित कर टीकाकरण करवाया जा रहा है। अजमेर शहर के साथ जिलेभर के दूर-दराज के गांवों में बच्चों का टीकाकरण कर उनकी इम्यूनिटी पावर बढ़ाने के प्रयास किए जा रहे हैं। यही नहीं बच्चों में संबंधित बीमारियों के लक्षण के आधार पर टीककारण के लिए आमजन/माताओं को जागरूक करने के प्रयास भी हो रहे हैं।

चिकित्सा एवं स्वास्थ्य विभाग की ओर से जिलेभर में बच्चों के नियमित टीकाकरण का लक्ष्य निर्धारित किया गया है। 2021 के सितम्बर माह के लक्ष्य के अनुपात में करीब 94 प्रतिशत लक्ष्य अर्जित कर लिया गया है। आमजन को टीकाकरण लगाने के लिए लक्षण के प्रति भी जागरूक किया जा रहा है ताकि लक्षण होने पर अधिक उम्र के व्यक्ति को भी टीका लगाया जा सके।

कौनसे टीके, किस रोग के लिए फायदेमंद

ए.एफ.पी. : 15 वर्ष तक का बच्चा जिससे अंग अचानक लुंज, कमजोर पड़ गए हों। किसी भी उम्र का व्यक्ति जिसमें पोलियो का संदेह हो।
खसरा/मिजल्स : बुखार एवं शरीर पर लाल चकत्ते, किसी भी उम्र का व्यक्ति जिसमें खसरे के लक्षण हो।

गलघोटूं : टौंसिल व सांस नली में सूजन और जलन हो, इसके साथ चिपचिपी झिल्ली बनी हो और गले में दर्द हो।
काली खांसी/परटुसीस : जब किसी को दो हफ्ते या इससे अधिक खांसी रहे या खांसी के दौरे उठे, खांसी के बाद उल्टी हो, इसके अलावा खांसी का कोई दूसरा कारण नहीं हो।

नवजात शिशु टेटनेस : कोई शिशु जन्म से दो दिन तक पूरी तरह स्वस्थ रहे एवं उसके बाद 28 दिनों तक स्तनपान करने में परेशानी यथा गर्दन या शरीर में अकडऩ, दौरा या दोनों हो।

यह है नियमित टीकाकरण की फैक्ट फाइल

58120 वार्षिक लक्ष्य (टीकाकरण)

24217 सितम्बर माह तक टीकाकरण का लक्ष्य
22762 सितम्बर माह तक टीकाकरण लक्ष्य अर्जित

94 प्रतिशत लक्ष्य अर्जित

इनका कहना है

सितम्बर माह तक टीकाकरण का 94 प्रतिशत लक्ष्य अर्जित किया गया है। बच्चों व बड़ों में विभिन्न रोगों को जानकर उनके लिए निर्धारित टीके लगवाएं। कई रोग ऐसे हैं जिनका इलाज टीके से भी संभव है। जिले में बच्चों में नियमित टीकाकरण किए जा रहे हैं।

डॉ. शिन्दे स्वाति
जिला प्रजनन एवं शिशु रोग अधिकारी

CP Reporting
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned