डिजिटल पढऩे वाले बच्चों को वाट्सएप के जरिए मिलेगा मूल्यांकन पत्र

स्कूलों में टेस्ट आज से, बोर्ड परीक्षाओं में 20 अंक और सामान्य कक्षाओं में जुड़ेगे 10 अंक

By: CP

Published: 10 Sep 2021, 02:06 AM IST

अजमेर. अगर कोई विद्यार्थी कोरोना के कारण इस सत्र में भी बिना पढ़े प्रमोट होने की उम्मीद लगाए बैठे हों तो संभल जाएं। क्योंकि शिक्षा विभाग की ओर से बोर्ड परीक्षा परिणामों में मूल्यांकन के आधार पर प्रमोट करने की स्थिति को भांपते हुए अभी से ही तैयारियां शुरू कर दी गई है। अब कोरोना की तीसरी लहर आती भी है तो पिछली कक्षाएं पास होने का आधार नहीं रहेंगी बल्कि इसी सत्र में विद्यार्थी की एबिलिटी को माध्यम बनाया जाएगा। इसके लिए प्रदेश में गुरुवार से सभी कक्षाओं के प्रथम टेस्ट शुरू हो रहे हैं। इन टेस्टों के नंबर अंतिम परीक्षा परिणाम में जोड़े जाएंगे।

शिक्षा विभाग की ओर से कक्षा 1 से 8 और 9 और 11 में इन टेस्टों के 10 अंक जुड़ेगे। वहीं बोर्ड की कक्षाओं में 20 अंक जोडऩे का प्रावधान रखा है। यानी स्थिति साफ है कि कोई भी विद्यार्थी बिना एग्जाम प्रमोट नहीं होगा। सरकारी स्कूलों का टाइम टेबल तो जारी कर दिया गया है। लेकिन निजी स्कूलों के लिए 30 सितंबर तक की समय सीमा निर्धारित कर दी है। ई.कंटेंट वाट्स एप, यूट्यूबए शिक्षा दर्शन और शिक्षा वाणी के जरिए उपलब्ध कराया गया वहीं इस टेस्ट का मैन बैस होगा। जिन विषयों में ई-कंटेंट नहीं दिया उसका टेस्ट नहीं लिया जाएगा।

वाट्सएप के जरिए मिलेगा मूल्यांकन पत्र

जो विद्यार्थी ऑनलाइन यानि डिजिटल पढ़ाई कर रहे हैं उन्हें 9 सितंबर को वाट्सएप ग्रुप के माध्यम से मूल्यांकन पत्र भेजा जाएगा। विद्यार्थी अपनी वर्क बुक के सेंटर पेज पर मूल्यांकन पत्र नोट करने के बाद उसे हल करने के बाद कक्षा अध्यापक को निर्धारित समय पर उपलब्ध कराएंगे। या फि र विद्यार्थी स्कूल पहुंचकर मूल्यांकन पत्र की प्रिंटेड कॉपी प्राप्त कर सकेंगे।

CP Reporting
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned