scriptCold nights cut by lighting bonfire on the border for three days | Ukraine तीन दिन तक बॉर्डर पर अलाव जलाकर काटी सर्द रातें | Patrika News

Ukraine तीन दिन तक बॉर्डर पर अलाव जलाकर काटी सर्द रातें

यूक्रेन की गोलीबारी से बेहोश हो गए थे कुछ छात्र, अभी भी सिहराती हैं रोमानिया बॉर्डर पर गुजारीं माइनस 5 डिग्री तापमान की रातें

अजमेर

Published: March 07, 2022 02:01:42 am

अजमेर. यूक्रेन में युद्ध शुरू होने के बाद जारी हुई एडवाइजरी के चलते भारतीय छात्रों को कठिनाइयों का सामना करना पड़ा। भारतीय एंबेसी ने रोमानिया से प्लेन उपलब्ध करवा स्वदेश तो पहुंचाया लेकिन इससे पहले यूक्रेन व रोमानिया के बॉर्डर पर तीन दिन तक काटी सर्द रातें आज भी वहां से लौटे युवाओं को सिहराती हैं। माइनस 5 डिग्री तापमान में अलाव जलाकर व दरी बिछाकर रातें काटना दहशत भरा समय रहा। यूक्रेन में बुकोवियन मेडिकल यूनिवर्सिटी में चार वर्ष से एमबीबीएस की पढ़ाई कर रहे अजमेर के बिहारीगंज निवासी आदेश उपाध्याय ने रविवार को आपबीती बताई। आदेश ने बताया कि यूक्रेन व रूस के मध्य युद्ध के हालात उनकी कॉलेज के आसपास नहीं थे लेकिन देश लौटने की चिंता बढ़ गई। यूक्रेन व भारत एंबेसी की ओर से देश से निकलने की एडवाइजरी देरी से जारी की गई। ऐसे में वहां से निकलने में देरी हुई।
Ukraine तीन दिन तक बॉर्डर पर अलाव जलाकर काटी सर्द रातें
Ukraine तीन दिन तक बॉर्डर पर अलाव जलाकर काटी सर्द रातें
40 किग्रा वजनी बैग लेकर कई किमी पैदल सफर

आदेश ने बताया कि बस द्वारा रास्ते में उतारने के बाद रोमानिया बॉर्डर तक करीब 40 किग्रा वजनी बैग हाथ व कंधों पर ढोकर पैदल चलते रहे। बॉर्डर हमने अपने तरीके से पार किया। वहां करीब ढाई हजार स्टूडेंट थे। रोमानिया में एक-दो शेल्टर थे जहां चाय, कॉफी व फल मिले। खाने में हमारे पास जो बचा था उससे तीन दिन निकाले।
यूक्रेनी कर रहे थे हवाई फायर

बॉर्डर पर व्यवस्था बनाए रखने के लिए यूक्रेनी हवाई फायर कर रहे थे। बुलेट से एक छात्र घायल भी हो गया। एक-दो छात्राएं गोली की आवाज से ही बेहोश हो गई। हालांकि रोमानिया में भारतीय एंबेसी ने प्लेन पहुंचाया जिससे वे स्वदेश लौटे। करीब छह माह बाद हालात सुधरने पर फिर से यूक्रेन जाएंगे और एमबीबीएस की पढ़ाई पूरी करेंगे।
डॉ. हाड़ा ने किया स्वागत

आदेश उपाध्याय के अजमेर लौटने एवं केन्द्र सरकार की ओर से बच्चों को सुरक्षित निकाल कर अपने घर पहुंचाने के चलते भाजपा शहर जिलाध्यक्ष डॉ. प्रियशील हाड़ा व अन्य ने आदेश व उनके पिता का माला पहनाकर स्वागत किया एवं उनसे जानकारी ली।

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

Veer Mahan जिसनें WWE में मचा दिया है कोहराम, क्या बनेंगे भारत के तीसरे WWE चैंपियनName Astrology: इन नाम वाले लोगों के जीवन में अचानक से धनवान बनने का होता है योगफटाफट बनवा लीजिए घर, कम हो गए सरिया के दाम, जानिए बिल्डिंग मटेरियल के नए रेटबुध जल्द वृषभ राशि में होंगे मार्गी, इन 4 राशियों के लिए बेहद शुभ समय, बनेगा हर कामबेहद शार्प माइंड होते हैं इन 4 राशियों के लोग, बुध और शनि देव की रहती है इन पर कृपाज्योतिष: रूठे हुए भाग्य का फिर से पाना है साथ तो करें ये 3 आसन से कामराजस्थान में देर रात उत्पात मचा सकता है अंधड़, ओलावृष्टि की भी संभावनाशादी के 3 दिन बाद तक दूल्हा-दुल्हन नहीं जा सकते टॉयलेट! वजह जानकर हैरान हो जाएंगे आप

बड़ी खबरें

Texas Shooting: अमरीकी राष्ट्रपति ने टेक्सास फायरिंग की घटना को बताया नरसंहार, बोले- दर्द को एक्शन में बदलने का वक्तजातीय जनगणना सहित कई मुद्दों को लेकर आज भारत बंद, जानिए कहां रहेगा इसका ज्यादा असरमहंगाई से जंग: रिकॉर्ड निर्यात से घबराई सरकार, गेहूं के बाद अब 1 जून से चीनी निर्यात भी प्रतिबंधितआंध्र प्रदेश में जिले का नाम बदलने पर हिंसा, मंत्री का घर जलाया, कई घायलरिलीज से पहले 1 जून को गृहमंत्री अमित शाह देखेंगे अक्षय कुमार की 'पृथ्वीराज', जानिए किस वजह से रखी जा रहीं स्पेशल स्क्रीनिंगदिल्ली के नरेला में एनकाउंटर, बॉक्सर गैंग का शातिर शार्प शूटर अरेस्टESIC MTS Result 2022 : ESIC MTS फेज 1 का परिणाम जारी, ऐसे चेक करें स्कोरकार्डRajasthan : सिर्फ 5 दिन का कोयला शेष, छत्तीसगढ़ से जल्दी नहीं मिली मदद तो गंभीर बिजली संकट में डूबने की चेतावनी
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.