Cold weather: दिसंबर छुड़ा रही धूजणी, जकड़ा शीतलहर ने

लोग सिर से पैर तक गर्म कपड़ों में लिपटने के बावजूद ठिठुरते रहे। सुबह 8 बजे सूरज निकलने के बावजूद ठंड के तेवर नर्म नहीं पड़े हैं।

By: raktim tiwari

Published: 18 Dec 2020, 09:52 AM IST

अजमेर. बर्फबारी और शीतलहर से समूचा प्रदेश सर्दी से जकड़ा हुआ है। माउन्ट आबू, चांध, जोबनेर और सीकर में पारा जमाव बिंदू के नीचे पहुंच गया है। अजमेर भी शुक्रवार को ठंड से धूज रहा है। सुबह धुंध और ओस चादर दिखी है । न्यूनतम तापमान लुढ़कता हुआ 7 डिग्री पर पहुंच गया है।

बर्फीली ठंडक और शीतलहर ने अलसुबह से धूजणी छुड़ा दी। शहर में सुबह पर सैर पर जाने वाले भी कम नजर आए। लोग सिर से पैर तक गर्म कपड़ों में लिपटने के बावजूद ठिठुरते रहे। सुबह 8 बजे सूरज निकलने के बावजूद ठंड के तेवर नर्म नहीं पड़े हैं।

अलाव और हीटर ही सहारा
स्टेशन रोड, बस स्टैंड, बजरंगगढ़ चौराहा, वैशाली नगर, आदर्श नगर स्थित कई इलाकों में लोग झुंड में अलाव के सहारे बैठे दिख रहे हैं। घरों और दफ्तरों में भी हीटर सहारा बने। रात के तापमान में करीब 8 से 9 डिग्री की गिरावट बनी हुई है। इससे रात को भी राहत नहीं मिल रही है। अधिकतम तापमान 22.1 डिग्री रहा।

पिछला दिसंबर था सबसे ठंडा

अजमेर में साल 2019 का दिसंबर सबसे ठंडा रहा था। पहली बार हुआ न्यूनतम पारा नीचे लुढ़ता हुआ 3.4 डिग्री पर पहुंच गया था। इससे पहले साल 2009 में पारा 9.8, 2010 में 8.7, 2011 में 8.0, 2012 में 7.5, 2013 में 6.5, 2014 में 7.0, 2015 में 4.7, 2016 में 9.1, 2017 में दिसंबर में पारा 7.3, 2018 में 4.0 रहा था।

मौसम में आगे क्या...
-शीतलहर के कारण मौसम विभाग ने जारी की है येलो और रेड वॉर्निंग

राजस्थान, यूपी, छत्तीसगढ़ और अनय् राज्यों में आगामी 48 घंटे में शीतलहर की चेतावनी
-राजस्थान सहित कई राज्यों में पाला पडऩे की चेतावनी

-फसलों और पशुओं पर पड़ेगा असर
-शीतलहर में इजाफे से दिन और रात में रहेगी ठंड

पिछले दिनों में पारा

15 दिसंबर-11.5
16 दिसंबर-9.7

17 दिसंबर-8.2
18 दिसंबर-7.0

raktim tiwari Reporting
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned