CONGRESS: भाजपा के भ्रष्टाचार से जनता त्रस्त, बनेगा कांग्रेस का बोर्ड

भाजपा बोर्ड द्वारानगर निगम में किए कारनामों से सरकार वाकिफ है। अजमेर में अवैध निर्माण, नक्शा प्रकरण, कृषि भूमि, एडीए की सरकारी जमीनों पर अतिक्रमण जैसी अनियमितताएं सबके सामने है।

By: raktim tiwari

Updated: 14 Jan 2021, 09:19 AM IST

अजमेर.

भाजपा के पिछले कई बोर्ड में हुए भ्रष्टाचार से जनता त्रस्त हैं। अजमेर का चहुंमुखी विकास नहीं होना इसका पर्याय है। नगर निगम में इस बार कांग्रेस का बोर्ड बनेगा। इसके लिए प्रदेश नेतृत्व से ब्लॉक स्तर तक कांग्रेस कार्यकर्ता कृत संकल्पित है। यह बात निगम चुनाव में कांग्रेस के पर्यवेक्षक शारदाकांत शर्मा ने कही।

पत्रकारों से बातचीत में शर्मा ने कहा कि भाजपा बोर्ड द्वारानगर निगम में किए कारनामों से सरकार वाकिफ है। अजमेर में अवैध निर्माण, नक्शा प्रकरण, कृषि भूमि, एडीए की सरकारी जमीनों पर अतिक्रमण जैसी अनियमितताएं सबके सामने है। भाजपा नेताओं ने इसे नगर के बजाय नरक निगम बना दिया। आमजन भाजपा के पिछले बोर्डों के कार्यकाल से परेशान है। राज्य सरकार की योजनाओं और अजमेर में हुए विकास कार्यों के बूते इस बार कांग्रेस अजमेर नगर निगम में बोर्ड बनाएगी।

सभी नेता एक जाजम पर...
कांग्रेस में गुटबाजी के सवाल पर शर्मा ने कहा कि सीएम अशोक गहलोत, पूर्व डिप्टी सीएम सचिन पायलट, पीसीसी अध्यक्ष गोविंद सिंह डोटासरा सहित आम कार्यकर्ता के लिए कांग्रेस सबसे बड़ा 'गुटÓ है। अजमेर में पूर्व विधायक डॉ. श्रीगोपाल बाहेती, डॉ. राजकुमार जयपाल, महेंद्र सिंह रलावता, हेमंत भाटी, विजय जैन सहित ब्लॉक अध्यक्ष, एनएसयूआई, सेवादल, महिला कांग्रेस कार्यकर्ता एकजुट हैं। सबके सामूहिक प्रयासों से नगर निगम चुनाव लड़कर जीत हासिल करेंगे। कांग्रेस अजमेर के लिए चुनाव घोषणा पत्र भी जारी करेगी।

चलेगा सोशल इंजीनियरिंग फार्मूला
पूर्व विधायक सगीर अहमद और शर्मा ने कहा कि टिकट वितरण में सोशल इंजीनियरिंग का फार्मूला चलेगा। अजमेर के स्थानीय नेताओं भी इससे सहमत हैं। महिला कांग्रेस, एनसएसयूआई, सेवादल और कांग्रेस के अन्य संगठनों के निष्ठावान और जमीन से जुड़े कार्यकर्ताओं को तवज्जो दी जाएगी। प्रत्येक वर्ग को अवसर दिया जाएगा। किसी की नाराजगी होगी तो उसे मनाने का प्रयास करेंगे।

खुद भाजपा के अंदरखाने कलह...
प्रदेश कांग्रेस और सरकार में उथल-पुथल के सवाल पर शर्मा ने कहा कि खुद भाजपा के अंदरखाने कलह दिख रही है। वसुंधरा राजे, सतीश पूनिया गुट में ठनी हुई है। कांग्रेस को अस्थिर करने वालों को पहले अपना घर देखना चाहिए। कांग्रेस की अंतरिम अध्यक्ष सोनिया गांधी, राहुल गांधी और मुख्यमंत्री अशोक गहलोत के नेतृत्व में सरकार और कांग्रेस एकजुट है।

Congress leader
Show More
raktim tiwari Reporting
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned