Corona impact: देनी होगी सूचना, शादी में शामिल हो सकेंगे 100 लोग

कोरोना संक्रमण के चलते लोगों को शादियों में कई सावधानियां बरतनी होंगी। साथ ही प्रशासन को कई सूचनाएं भी देनी जरूरी होंगी।

By: raktim tiwari

Published: 20 Nov 2020, 10:04 AM IST

अजमेर. दिवाली पर्व के बाद अब वैवाहिक कार्यक्रम प्रारंभ होने वाले हैं। कार्तिक शुक्ल एकादशी यानि 25 नवंबर से बैंड-बाजे और शहनाई गूंजेगी। कोरोना संक्रमण के चलते लोगों को शादियों में कई सावधानियां बरतनी होंगी। साथ ही प्रशासन को कई सूचनाएं भी देनी जरूरी होंगी।

कार्तिक शुक्ल एकादशी यानि देवऊठनी ग्यारस से शहर और जिले में शादियों-समारोह की शुरूआत होगी। शुभ मुर्हूत में वैवाहिक कार्यक्रम, नए भवनों-प्रतिष्ठानों में प्रवेश और अन्य समारोह होंगे। कोरोना संक्रमण के चलते राज्य सरकार ने कई एडवाइजरी जारी की है। विशेषतौर पर शादी-समारोह में मात्र 100 मेहमान बुलाए जा सकते हैं। इसमें सोशल डिस्टेसिंग और मास्क पहनने की अनिवार्यता शामिल है।

सेनेटाइजेशन का रखना होगा ध्यान

शादियों-समारोह में आयोजन स्थल पर सेनेटाइजेशन का ध्यान रखना होगा। प्रवेश द्वार पर सेनेटाइजर का इंतमाम करना होगा। समारोह स्थल पर लोग बगैर मास्क लगाए प्रवेश नहीं कर सकेंगे। सोशल डिस्टेंसिंग का ध्यान भी रखना होगा।

प्रशासन को देनी होगी यह सूचनाएं

-वर और वधू का पहचान पत्र

-वर-वधू के आयु प्रमाण पत्र

-दोनों का पता मय थाना क्षेत्र

-विवाह स्थल का पता-विवाह स्थल का थाना क्षेत्र

लॉकडाउन में हुआ था नुकसान

कोरोना संक्रमण और लॉकडाउन के चलते मार्च से मई के दौरान अजमेर जिले में कई मांगलिक कार्यक्रम स्थगित हो गए थे। अजमेर शहर और जिले में 150 रजिस्टर्ड हलवाई-कैटरर्स, 300 बैंडवादक, घोड़ी वाले,150 टेंट व्यवसायी के ऑर्डर रद्द हो गए थे। इससे 1.25 करोड़ रूपए का नुकसान हुआ था। साथ ही 350 समारोह स्थल, 100 से ज्यादा होटल पर 1 हजार से ज्यादा सगाई, शादी, मुंडन, गृह प्रवेश, शादी की सालगिरह के मुर्हूत नहीं हुए थे। संचालकों को 1.10 करोड़ रुपए से ज्यादा का नुकसान हुआ था।

COVID-19 virus
raktim tiwari Reporting
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned