Corona Impact: नाइट कफ्र्यू का असर, बंद होने लगा दरगाह बाजार

जायरीन और आमजन को भी जल्द घरों, धर्मशाला अथवा सराय-होटल में पहुंचने को कहा जा रहा है।

By: raktim tiwari

Published: 22 Nov 2020, 07:56 PM IST

अजमेर.

कोरोना संक्रमण के चलते नाइट कफ्र्यू की पालना शुरू हो गई है। अजमेर के दरगाह बाजार में पुलिस ने मोर्चा संभाल लिया है। दरगाह थाना पुलिस ने बाजार में दुकानों को बंद कराना शुरू किया है। दुकानदारों को राज्य सरकार के निर्देशों की पालना करने को कहा गया है। जायरीन और आमजन को भी जल्द घरों, धर्मशाला अथवा सराय-होटल में पहुंचने को कहा जा रहा है।

लुढ़का पारा, अजमेर में ठिठुराने लगी सर्दी

अजमेर. जाते नवंबर में सर्दी का असर बढ़ गया है। रविवार सुबह से शाम तक मौसम में सर्दी का असर रहा। दिन में तेज धूप के बावजूद ठंडापन महसूस हुआ। न्यूनतम तापमान लुढ़कर 8.9 डिग्री पर पहुंच गया है। पिछले चार दिन में तापमान में 6.3 डिग्री की गिरावट हो चुकी है।

सुबह सर्दी के कारण लोग घरों से कम निकले। सड़कों पर सैर करने वाले, वाहन-चालक ही दिखे। धूप निकलने के बाद भी सर्दी बनी रही। दोपहर होते-होते धूप में तेजी आई तो मौसस सामान्य हुआ। शाम को सर्दी ने फिर पैर पसार लिए। शहर में कई जगह सड़कों के किनारे और चाय-थडिय़ों पर लोग अलाव जलाकर बैठे दिखे। रात के तापमान में करीब तीन से चार डिग्री की गिरावट कायम है।

इस बार नवंबर सबसे सर्द

अजमेर में पिछले दस साल में इस बार नवंबर ज्यादा सर्द है। बीते दस साल तक 20 से 30 नवम्बर के दौरान न्यूनतम तापमान 14.5 से 18.2 डिग्री तक रहा था। इस बार न्यूनतम तापमान 8.9 डिग्री तक जा पहुंचा है। पिछले छह दिन में तापमान में 6.3 डिग्री की गिरावट हो चुकी है। इससे पहले अजमेर में दिसंबर-जनवरी में ही तापमान 10 डिग्री से कम पहुंचता रहा है।

ये है तेज सर्दी की वजह

इस बार समुद्री सतह का तापमान मध्य पूर्वी प्रशांत महासागर में सामान्य से कम है। ला नीना ज्यादा असरदार बना हुआ है। इसलिए दिसंबर के दूसरे पखवाड़े, जनवरी और फरवरी की शुरुआत में जोरदार सर्दी रहने की संभावना है। इसमें करीब 75 दिन कड़ाके की ठंड के रह सकते हैं।

COVID-19 virus
raktim tiwari Reporting
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned