दूसरी लहर खतरनाक : अजमेर जिले में तेजी से फैल रहा कोरोना, सजगता से ही आमजन को होगा बचना

किशनगढ़ में मिले कोरोना के 8 नए रोगी, ब्यावर में 12 नए कोरोना संक्रमित रोगी मिलने से प्रशासन सतर्क,एक ओर वैक्सीनेशन अभियान प्रगति पर है तो कोरोना संक्रमितों की संख्या भी बढऩे लगी है।

By: suresh bharti

Updated: 03 Apr 2021, 12:46 AM IST

अजमेर. कोरोना की दूसरी लहर जिस गति से बढ़ रही है। उससे चिकित्सा विभाग सतर्क हो गया है। साथ में चिंता भी बढ़ी है। खास बात यह है कि पहली लहर की बजाए दूसरी लहर की गति में तेजी है। दूसरी ओर से टीकाकरण अभियान भी जारी है,लेकिन नए संक्रमितों की संख्या में इजाफा होना गंभीर विषय भी है। अजमेर जिला मुख्यालय,केकड़ी,ब्यावर व किशनगढ़ उपखंड मुख्यालयों पर कोरोना पैर पसार रहा है।

चिकित्सकों के मुताबिक कोरोना संक्रमण की पहली लहर की अपेक्षा दूसरी लहर की रफ्तार तेज है। चिकित्सा विभाग के लिए भी यह चिंता की बड़ी वजह है। मार्च 2021 में संक्रमण की दूसरी लहर काफी तेज है। बीते वर्ष के अंतिम माह दिसम्बर में जब कोरोना पूरे शबाब पर था। उसके पचास फीसदी मामले तो मार्च माह में ही आ चुके हैं।

जिला मुख्यालय पर संक्रमण के सर्वाधिक केस

अजमेर जिले में ही नहीं प्रदेशभर में कोरोना संक्रमण के मामले मार्च के बाद अप्रेल के शुरुआती सप्ताह में भी बढ़ रहे हैं। जिला मुख्यालय पर ही संक्रमण के सर्वाधिक केस सामने आ रहे हैं। इस बार शहर के सभी क्षेत्रों में छिटपुट मामले निकल रहे हैं। तीन क्षेत्र हरिभाऊ उपाध्यायनगर, अभियंता नगर वैशाली नगर एवं एलआईसी कॉलोनी में ही 10 से अधिक मामले अभी तक सामने आए हैं।

मार्च एवं गत दिसम्बर माह की स्थिति

गत दिसम्बर माह में अजमेर जिले में कोरोना के 2030 मामले सामने आए, जबकि 32 संक्रमित मरीजों ने दम तोड़ दिया। वहीं मार्च माह में करीब 1000 कोरोना पॉजिटिव सामने आए हैं। मार्च के अंतिम सप्ताह में 25 मार्च को 54, 26 को 58, 27 को 59, 28 को 65, 29 को 40, 30 को 18 एवं 31 मार्च को 57 संक्रमित सामने आए थे। वहीं अप्रेल माह में एक को 93 एवं 2 अप्रेल को 83 नए मामले सामने आ चुके हैं।

संक्रमित ज्यादा, कैज्युल्टी कम : गत दिसम्बर माह के मुकाबले मार्च में कैज्युल्टी कम रही हैं। दिसम्बर में 32 मौतें हुई जबकि मार्च में 2 की ही जान गई।

अजमेर में मार्च 2020 के मुकाबले मार्च 2021 के हालात

अजमेर में वर्ष 2020 मार्च में कोरोना का 28 को एक पॉजिटिव आने के बाद परिवार के 4 और केस सामने आए थे। जबकि इस बार मार्च में एक हजार से अधिक संक्रमित केस सामने आए हैं।

दो दिन में आंकड़ा 20 तक पहुंचा

ब्यावर. उपखंड मुख्यालय सहित आस-पास के क्षेत्रों में कोरोना संक्रमितों का आंकड़ा बढ़ता जा रहा है। शुक्रवार को 12 कोरोना संक्रमित सामने आए। दो दिन में ही संक्रमितों का आंकड़ा बीस के पार पहुंच चुका है। ऐसे में प्रशासन सजग हो गया है। नगर परिषद की ओर से गाइडलाइन की पालना नहीं करने वाले व्यापारियों के चालान बनाए। लोगों को मास्क व दो गज की दूरी की पालना करने की हिदायत दी।

जानकारी के अनुसार शुक्रवार को संक्रमितों की आई रिपोर्ट में गणेशपुरा रोड ब्यावर निवासी 35 वर्षीय युवक, दया नगर अजमेर रोड निवासी 53 वर्षीय महिला, नेहरू गेट ब्यावर निवासी 27 वर्षीय युवक, काली माता मंदिर छावनी ब्यावर निवासी 20 वर्षीय युवक, गणेशपुरा रोड ब्यावर निवासी 55 वर्षीय प्रौढ़, झूंठा रायपुर पाली निवासी 45 वर्षीय महिला, विजयगढ़ जैतारण पाली निवासी 31 वर्षीय युवक, बदनौर भीलवाड़ा निवासी 36 वर्षीय युवक, आसींद भीलवाड़ा निवासी 35 वर्षीय महिला, गुणशील नगर ब्यावर निवासी 25 वर्षीय महिला, शाहपुरा मोहल्ला ब्यावर निवासी 39 वर्षीय युवक और भगतपुरा टाउनशिप पाली निवासी 52 वर्षीय व्यक्ति के संक्रमित होने की पुष्टि हुई है।

बैंक शाखा दो दिन के लिए बंद

शहर की एक बैंक का कर्मचारी कोरोना संक्रमित होने की पुष्टि हुई है। बैंक में आने वाले बैंक ग्राहकों व अन्य कर्मचारियों की सुरक्षा के लिए ब्रांच को सेनिटाइज करवाई गई है। शाखा को दो दिवस के लिए बन्द कर दिया गया। बैंक ग्राहकों को किसी को परेशानी का सामना न करना पड़े। इसके लिए ब्रांच के बाहर पेड़ की छांव में बैठकर बैंक स्टाफ ने आधा दिन निकाला और ग्राहकों को अन्य शाखा में अपना कार्य कराने के लिए कहा। अन्य कर्मचारियों ने अमृतकौर अस्पताल पहुंचकर अपना कोविड टेस्ट कराया।

पीसांगन. कस्बे में शुक्रवार को एक बार फिर कोरोना ने दस्तक दी। यहां शुक्रवार को 2 नए मामले सामने आए। इन में से 1 को अजमेर रेफ र किया गया। कस्बे के नया बाजार निवासी 55 वर्षीय व इंदिरा कॉलोनी निवासी 23 वर्षीय महिला की जांच रिपोर्ट कोरोना पॉजिटिव आई है। नया बाजार निवासी महिला को अजमेर रेफर कर दिया गया।

एक्टिव कैसों की संख्या पहुंची 43

मदनगंज-किशनगढ़ ञ्च पत्रिका. किशनगढ़ के शहरी क्षेत्र में कोरोना की दूसरी लहर में शुक्रवार को एक साथ कोरोना के 8 नए केस सामने आए। इनमें से एक निजी चिकित्सक के परिवार की तीन महिलाएं शामिल हैं। तीन अन्य ओसवाली मोहल्ला क्षेत्र, एक मेडिकल संचालक एवं एक अजमेर रोड स्थित मॉडल टॉउन कोरोना संक्रमित पाए गए हैं। इनमें 5 महिलाएं एवं 3 पुरुष हैं। सभी को 14 दिन के होम क्वॉरंटीन की सलाह दी गई है। इन 8 कोरोना संक्रमितों के सामने आने पर अब किशनगढ़ मेंं कोरोना के 43 एक्टिव केस हो गए हैं।

यज्ञनारायण चिकित्सालय प्रबंधन ने कोरोना जांच के लिए 84 जनों के सैम्पल लिए। इन्हें जांच के लिए अजमेर के जवाहरलाल नेहरू चिकित्सालय की लैब भेजा गया। हॉस्पिटल प्रबंधन को इन सभी 84 जाचों की रिपोर्ट मिल गई है। इनमें से 76 जनों की रिपोर्ट नेगेटिव आई है और 8 जनों की रिपोर्ट पॉजिटिव आई है।

कोरोना जांच रिपोर्ट कोरोना पॉजिटिव

अजमेर रोड बैंक ऑफ बदौड़ा के सामने निवासी एक निजी चिकित्सक की परिवार की 3 महिलाओं की जांच रिपोर्ट कोरोना पॉजिटिव आई है। इसी तरह ओसवाली मोहल्ला क्षेत्र में भी कोरोना संक्रमण के 3 नए केस सामने आए हैं। राजकीय यज्ञनारायण चिकित्सालय के सामने स्थित एक मेडिकल शॉप के मेडिकलकर्मी और एक अजमेर रोड स्थित मॉडल टॉउन में रहने वाली महिला की जांच रिपोर्ट कोरोना पॉजिटिव आई है।

इनमें निजी चिकित्सक की परिवार की 3 महिलाएं, ओसवाली मोहल्ला क्षेत्र के 2 पुरुष और 1 महिला, एक मेडिकलकर्मी पुरुष और एक मॉडल टॉउन में रहने वाली महिला की जांच रिपोर्ट कोरोना संक्रमित आई है। किशनगढ़ में कोरोना संक्रमण के 43 एक्टिव केस हो गए है। पहले बिजयनगर की शादी समारोह में शामिल होकर लौटे ओसवाली मोहल्ले के एक ही परिवार के 6 जने कोरोना संक्रमित पाए गए। इसके बाद किशनगढ़ के शहरी क्षेत्र में अलग-अलग जगह के एक साथ 6 और नए केस सामने आए। इसके बाद कभी 5 तो कभी 3 केस आए दिन सामने आ रहे हैं और अब कोरोना के एक्टिव केसों की संख्या का ग्राफ हर दिन बढ़ता जा रहा है।

suresh bharti Desk
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned