Crow death: बारादरी पर नौ कोओं की मौत, बर्ड फ्लू का अलर्ट जारी

इसको देखते हुए अजमेर जिले में विभाग ने मोर्चा संभाल लिया है। हालांकि जिले में देशी और प्रवासी पक्षियों अथवा मुर्गियों की मौत के मामले सामने नहीं आए हैं।

By: raktim tiwari

Updated: 03 Jan 2021, 09:41 AM IST

अजमेर. राज्य में कौओं की मौत ने वन विभाग की चिंता बढ़ा दी है। अजमेर में आनासागर बारादरी इलाके में नौ कौओं की मौत हो गई। करीब एक साल बाद बारादरी क्षेत्र में फिर कौओं की मृत्यु हुई है। उधर चीफ वाइल्ड लाइफ वार्डन ने बर्ड फ्लू का अलर्ट जारी किया है। इसको देखते हुए अजमेर जिले में विभाग ने मोर्चा संभाल लिया है। हालांकि जिले में देशी और प्रवासी पक्षियों अथवा मुर्गियों की मौत के मामले सामने नहीं आए हैं।

राज्य में पिछले सात दिन में करीब तीन सौ कौओं की मौत हुई है। इनमें बारां के मथाना, सारथल, झालावाड़, पनवाड़, सुनेल, जोधपुर और ब्यावर शामिल है। इस सूची में अजमेर भी शामिल हो गया। पत्रिका टीम ने शनिवार को आनासागर बारादरी इलाके का दौरा किया। इसमें नौ कौए मृत मिले।

2019 में मरे थे 125 कौए

अजमेर में साल 2019 के नवंबर-दिसंबर में आनासागर झील के किनारे और बारादरी पर 125 से ज्यादा कौए मृत मिले थे। वन विभाग ने मृत कौओं का विसरा फोरेंसिक लैब भोपाल और इंडियन वेटेनेरी रिसर्च इंस्टीट्यूट बरेली भेजा था। इसमें कौओं की आंतों विषाक्त मिला था। यह पशुओं के शरीर में लगाया जाने वाला कीटनाशक था।

विभाग हुआ सतर्क

वन विभाग के उप वन संरक्षक रवि ने बताया कि ब्यावर में कौओं की मौत के मामले में जांच जारी है। अजमेर के कौओं की मौत को लेकर विभाग सतर्क हो गया है। जिले अथवा संभाग में प्रवासी और देशी पक्षियों में बर्ड फ्लू बीमारी के संकेत नहीं मिले हैं। फिर भी विभाग पूरी तरह निगरानी रखे हुए है। अधिकारियों-कर्मचारियों को अलर्ट रहने को कहा गया है।

बर्ड फ्लू के नहीं लक्षण

राष्ट्रीय अंडा समन्वय समिति के अध्यक्ष डॉ.राजकुमार जयपाल ने बताया कि जिले की पोल्ट्री व्यवसाय में करीब 50 लाख मुर्गियां हैं। कौओं की मौत के बाद से उन्होंने पुष्कर, अजमेर, सराधना, ब्यावर और अन्य इलाकों में पोल्ट्री इकाइयों का दौरा किया। मुर्गियों में बर्ड फ्लू के लक्षण नहीं दिखे हैं। फिर भी पोल्ट्री पर निगरानी रखी जा रही है। सर्दी के मौसम में अंडों का रोजाना 45 लाख का उत्पादन हो रहा है।

COVID-19 virus
raktim tiwari Reporting
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned