उदयपुर से हुई इस अजीब ट्रेडिशन की शुरुआत, बेवजह घसीट रहे सब

उदयपुर से हुई इस अजीब ट्रेडिशन की शुरुआत, बेवजह घसीट रहे सब

raktim tiwari | Publish: Jan, 17 2019 09:25:00 AM (IST) Ajmer, Ajmer, Rajasthan, India

www.patrika.com/rajasthan-news

अजमेर.

कुलपति की गैर मौजूदगी में डीन कमेटी गठन की परम्परा को प्रदेश के अधिकांश विश्वविद्यालय बेवजह ‘ढो ’ रहे हैं। उदयपुर की मोहनलाल सुखाडिय़ा विश्वविद्यालय ने इस परिपाटी की शुरुआत की। जबकि महर्षि दयानंद सरस्वती सहित अन्य विश्वविद्यालयों के एक्ट में ऐसा कोई प्रावधान नहीं है।

महर्षि दयानंद सरस्वती विश्वविद्यालय के कुलपति प्रो. आर. पी. सिंह ने अपनी गैर मौजूदगी में सामान्य कामकाज के लिए चार डीन की कमेटी बनाई थी। जबकि विश्वविद्यालय के एक्ट में ऐसा कोई प्रावधान-नियम नहीं है। इससे पूर्व कुलपति विदेश दौरे या खास कार्य के लिए बाहर जाने पर सामान्य कामकाज के लिए तीन सीनियर प्रोफेसर की कमेटी बनाते थे। लेकिन विधानसभा में महर्षि दयानंद सरस्वती विश्वविद्यालय (संशोधन) विधेयक-2017 पारित होने के बाद यह व्यवस्था भी खत्म हो चुकी है।

उदयपुर ने शुरू हुई परिपाटी
उदयपुर के मोहनलाल सुखाडिय़ा विश्वविद्यालय ने कुलपति की गैर मौजूदगी में डीन कमेटी गठन की परिपाटी शुरू की। इसमें तीन या चार संकाय के डीन शामिल होते हैं। यह कमेटी कुलपति की अनुपस्थिति में सामान्य कामकाज करती है। नाम नहीं छापने की शर्त पर महर्षि दयानंद सरस्वती विश्वविद्यालय के तीन पूर्व कुलपतियों ने बताया कि प्रदेश के अधिकांश विश्वविद्यालयों ने उदयपुर के मॉडल को बेवजह अपना रखा है। जबकि सभी विश्वविद्यालयों के एक्ट, नियम, उपनियम पृथक हैं। कुलपति केवल अपनी ‘सुविधा ’ के लिए डीन कमेटी गठित करते हैं। सीनियर प्रोफेसर कमेटी गठन की परम्परा भी संशोधित विधेयक लागू होने के बाद खत्म हो चुकी है।

क्या प्रधानमंत्री-राष्ट्रपति देते हैं जिम्मेदारी!
पूर्व कुलपतियों ने कहा कि सभी विश्वविद्यालय विधानसभा में पारित विधेयक के अनुसार संचालित हैं। इसमें डीन कमेटी गठन का प्रावधान नहीं है। कुलपतियों को ऐसी अनर्गल कमेटी नहीं बनानी चाहिए। अगर ऐसे प्रावधान हैं, तो प्रधानमंत्री और राष्ट्रपति विदेश या स्थानीय दौरे के वक्त अपनी गैर मौजूदगी में कोई कमेटी क्यों नहीं बनाते हैं। कुलाधिपति एवं राज्यपाल को ऐसी कमेटियों के गठन पर संज्ञान लेकर स्पष्टीकरण मांगना चाहिए।

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned