Dholpur : डकैतों की तलाश में बीहड़ों की खाक छानी

पुलिस बल ने कई जगह डकैतों के छिपने के संभावित स्थानों की तलाशी भी ली

By: dinesh sharma

Published: 07 Mar 2020, 11:13 PM IST

धौलपुर.

बीहड़ में डकैतों की तलाश में जिला विशेष पुलिस दल तथा नादनपुर थाना पुलिस ने संयुक्त रूप से चम्बल बीहड़ों की खाक छानी। पुलिस अधीक्षक मृदुल कच्छावा ने बताया कि नादनपुर थाना प्रभारी लाखन सिंह एवं डीएसटी के हैड कांस्टेबल विनोद कुमार के नेतृत्व में टीम ने शनिवार को चम्बल बीहड़ों में डकैतों की धरपकड़ के लिए सर्च ऑपरेशन चलाया।

पुलिस अधीक्षक ने बताया कि इस दौरान बांसरई, ब्राह्मण, रमदा वन क्षेत्र, कांच की बाबरी, केशपुरा, खोड, सीगनपुर, थाना मासलपुर व गढ़ी बाजना की सीमाओं तक चम्बल के बीहड़ों में डकैत रामविलास, भारत, केशव, पप्पू, धर्मेन्द्र उर्फ लुक्का, सीताराम, राकेश, रवि, गब्बर आदि की तलाश के लिए सघन अभियान चलाया है।

इस दौरान पुलिस बल ने कई जगह डकैतों के छिपने के संभावित स्थानों की तलाशी भी ली। पुलिसकर्मियों ने बीहड़ की खाक छानते हुए डकैतों को संरक्षण देने वालों को भी चिह्नित किया है। इनके खिलाफ कानूनी कार्रवाई की जाएगी।

बाड़ी विधायक बोले, बदमाशों से मिली हुई है धौलपुर पुलिस

बाड़ी ( धौलपुर ).

विधायक गिर्राज सिंह मलिंगा ने विधानसभा में शनिवार को क्षेत्र की समस्याओं के समाधान के अभाव में क्षेत्र की जनता को हो रही परेशानी से अवगत कराया। उन्होंने कहा कि धौलपुर पुलिस अधीक्षक ईमानदार व अच्छी छवि के हैं लेकिन उनके अधीन पूरा सिस्टम बिगड़ा हुआ है।

उन्होंने बताया कि कुछ दिन पूर्व उन्होंने डांग क्षेत्र में एलएनटी मशीन चलाने वाले बदमाश को लेकर पुलिस को फोन किया, लेकिन कुछ देर बाद उसी बदमाश ने फोन कर उन्हें देख लेने की धमकी दी। उन्होंने आरोप लगाया कि पुलिस अधिकारी बदमाशों से मिले हुए हैं।

जिले में पूरा सिस्टम बदला जाए तथा एसपी के साथ अच्छे अधिकारी लगाए जाएं, जो अपराधों को खत्म कर सकें। उन्होंने कहा कि पूर्व में गहलोत सरकार ने कांस्टेबल का ग्रेड पे 1900 रुपए से बढ़ाकर 2400 रुपए किया था। बाद में भाजपा सरकार ने इसे निरस्त कर दिया।

उन्होंने मांग की कि सिपाहियों के ग्रेड पे को बढ़ाने के पुराने आदेश को लागू किया जाए। उन्होंने कस्बे में यातायात व्यवस्था में सुधार के लिए पुलिसकर्मियों की संख्या बढाऩे की मांग की। कृषि उपज मंडी तथा सूरोठी गांव में पुलिस चौकी खोलने की मांग की।

उन्होंने बाड़ी सदर थाने का नया भवन और पुलिस अधिकारी व जवानों के लिए आवास तथा सीओ कार्यालय भवन बनवाने, पुरानी गाडिय़ों को बदलकर नई आधुनिक तकनीक से लैस गाडिय़ां उपलब्ध कराने, बाड़ी, बसेड़ी व सरमथुरा तहसील के लिए बाड़ी में उप कारागार खोलने की भी मांग की।

पुलिस और होमगार्ड को एक जैसे वेतन भत्ते मिलने चाहिए। होमगार्ड को नियमित किया जाना चाहिए। उन्होंने प्रतिबंधित चम्बल बजरी परिवहन को लेकर भी सवाल उठाए और कहा कि जहां पुलिस को तैनात होना चाहिए, वहां पुलिस तैनात नहीं की जाती।

चंबल से निकलने वाली बजरी को रोकना है तो चंबल किनारे ही केन्द्र बनाकर पुलिस जवान और अधिकारी तैनात किए जाए। उन्होंने क्षेत्र में वायरल हो रहे बदमाशों के एक वीडियो को लेकर भी सदन में चर्चा की। उन्होंने कहा कि बदमाश बेखौफ आम जन के साथ जनप्रतिनिधियों को भी धमकी भरी गालियां दे रहे हैं।

पुलिस बदमाशों की गिरफ्तारी व उनके हथियारों को कब तक बरामद करेगी, यह एक बड़ा सवाल है। बदमाश प्रभावित क्षेत्रों के विधायकों को दो गनमैन एके 47 राइफल के साथ उपलब्ध कराए जाएं।

Show More
dinesh sharma
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned