scriptDiscussion-Proposal on adding Rajasthani to the Eighth Schedule of the | राजस्थानी भाषा के मर रहे शब्द, खत्म हो रहे संस्कार' | Patrika News

राजस्थानी भाषा के मर रहे शब्द, खत्म हो रहे संस्कार'

-राजस्थानी को संविधान की आठवीं अनुसूची में जोड़ने पर परिचर्चा-प्रस्ताव
-चारण साहित्य में स्वातंत्र्य चेतना व चारण साहित्य प्रकाशन एवं आउवा सत्याग्रह इतिहास पर चर्चा

अजमेर

Updated: June 12, 2022 10:09:42 pm

चारण साहित्य शोध संस्थान में चारण समारोह के दूसरे दिन रविवार को राजस्थानी भाषा को संविधान की आठवीं अनुसूची में जोड़ने की आवश्यकता पर परिचर्चा एवं प्रस्ताव व संगोष्ठी के साथ ही ‘चारण साहित्य में स्वातंत्र्य चेतना’ व चारण साहित्य प्रकाशन एवं आउवा सत्याग्रह इतिहास पर चर्चा की गई।
ajmer news
ajmer news
राजनीतिक दलों में इच्छा शक्ति नहीं. . .

राजस्थानी भाषा की संवैधानिक मान्यता सत्र के अध्यक्षीय उद्बोधन में राष्ट्रीय नाट्य विद्यालय नई दिल्ली के उपाध्यक्ष डाॅ अर्जुनदेव चारण ने कहा कि भाषा की योग्यता की दृष्टि से राजस्थानी भाषा में कोई कमी नहीं है। लेकिन राजनैतिक इच्छाशक्ति की कमी के कारण राजनीतिक दलों ने प्रदेश की अस्मिता से जुड़े इस मुद्दे को फुटबाल बना रखा है। हर दिन हमारी मातृभाषा राजस्थानी के शब्द मर रहे हैं। उनमें समाहित संस्कृति व संस्कार खत्म हो रहे हैं अंगर ये ही हालत रही तो राजस्थान अपनी मातृभाषा खो बैठेगा।
प्रतिभाओं के भविष्य के साथ खिलवाड़

राजस्थानी भाषा के अनुसूची में शामिल नहीं होने से प्रदेश की प्रतिभाओं के भविष्य के साथ खिलवाड़ हो रहा है। दूसरे प्रदेश के प्रतिभागी 500 अंक का प्रश्न पत्र ऐच्छिक विषय के रूप में अपनी मातृभाषा का लेते हैं, परन्तु राजस्थानी प्रतियोगी आईएएस परीक्षा में राजस्थानी विषय नहीं ले सकते। जिससे प्रदेश की प्रतिभाएं पिछड़ रही हैं।
राजस्थानी साहित्यकार डाॅ राजेंद्र बारहठ ने कहा कि राजस्थानी भाषा को भाषण,संचालन,प्रकाशन, प्रचार,व्यापार मीडिया की भाषा बनाने का संकल्प लेकर राजस्थानी भाषा को हर स्तर पर मान्यता हेतु कदम आगे बढा सकते हैं। राजस्थानी शब्दकोश ऑनलाईन होने से मार्ग प्रशस्त हो गया है।
हर कदम पर बाधाएं

अखिल भारतीय राजस्थानी भाषा मान्यता संघर्ष समिति के संस्थापक लक्ष्मणदान कविया ने कहा कि हिन्दी को राष्ट्रीय भाषा के रूप में स्थापित करने के लिए राष्ट्रीय स्तर पर के नेतृत्व के कहने पर राजस्थानी भाषा की बलि दी गई। राजस्थानी भाषा की संवैधानिक मान्यता में हर कदम पर बाधाएं पैदा की जाती रही है।
नेपाल में मान्यता, भारत में नहीं

राजस्थानी अकादमी के पूर्व सचिव पृथ्वीराज रतनू ने कहा कि अमरीका व नेपाल में राजस्थानी भाषा को मान्यता और भारत में नहीं होना दुखद है। नेपाल की संसद में सांसद राजस्थानी भाषा में शपथ ले सकता है भारत की संसद में राजस्थानी भाषा हमारे सांसद शपथ नहीं ले सकते। यह प्रदेश की जनता अपमान है।डॉ. गजादान चारण शक्तिसुत ने कहा कि अन्याय का प्रतिकार, उत्कृष्ट का अभिनन्दन एवं निकृष्ट का निन्दन चारण साहित्य की मुख्य प्रवृत्तियां रहीं जो मूलतः दायित्वबोध को जगाने हेतु संकल्पित हैं।
स्वातंत्र्य-चेता चारण समाजमुख्य वक्ता पद्मश्री सूर्यदेव सिंह बारहठ ने राजस्थानी के आदिकवि चारण द्युमणि से लेकर स्वतंत्रता-प्राप्ति एवं आज दिन तक चारण रचनाकारों की रचनाओं के उदाहरणों सहित चारण समाज को हर काल में स्वातंत्र्य-चेता बताया।
प्रोफेसर अंबादान रोहडि़या ने गुजरात के चारण-स्वतंत्रता-सैनानी योद्धाओं के राष्ट्रहितार्थ बलिदान की जानकारी दी। प्रोफेसर रूपसिंह बारहठ ने डिंगल साहित्य पर शोध-अनुसंधान की आवश्यकता ओर जोर दिया। सत्र-अध्यक्ष एवं पूर्व सांसद पुष्पदान गढ़वी ने स्वाधीनता संग्राम में चारणों के अवदान को अभूतपूर्व बताते हुए चारण समाज को शक्ति का आराधक एवं साहित्य-सृजक बताया।
डॉ. प्रकाश अमरावत ने स्वाधीनता संग्राम में ठाकुर केसरीसिंह बारहठ, जोरावरसिंह बारहठ एवं प्रतापसिंह बारहठ के बलिदान पर प्रकाश डाला। विष्णु सिंह लखावत ने चारण कवियों के स्वातंत्र्य चेतना विषयक काव्य के प्रासंगिक उदाहरण देते हुए इसे सर्वसमाज के लिए अंजसयोग्य बताया। साहित्यकार डाॅ. गजादान चारण ने मांग पत्र प्रस्ताव पढा जिसे सबने अनुमोदन कर पारित किया।

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

Weather. राजस्थान में आज 18 जिलों में होगी बरसात, येलो अलर्ट जारीसंस्कारी बहू साबित होती हैं इन राशियों की लड़कियां, ससुराल वालों का तुरंत जीत लेती हैं दिलशुक्र ग्रह जल्द मिथुन राशि में करेगा प्रवेश, इन राशि वालों का चमकेगा करियरउदयपुर से निकले कन्हैया के हत्या आरोपी तो प्रशासन ने शहर को दी ये खुश खबरी... झूम उठी झीलों की नगरीजयपुर संभाग के तीन जिलों मे बंद रहेगा इंटरनेट, यहां हुआ शुरूज्योतिष: धन और करियर की हर समस्या को दूर कर सकते हैं रोटी के ये 4 आसान उपायछात्र बनकर कक्षा में बैठ गए कलक्टर, शिक्षक से कहा- अब आप मुझे कोई भी एक विषय पढ़ाइएUdaipur Murder: जयपुर में एक लाख से ज्यादा हिन्दू करेंगे प्रदर्शन, यह रहेगा जुलूस का रूट

बड़ी खबरें

Eknath Shinde Property: मुख्यमंत्री एकनाथ शिंदे से 12 गुना ज्यादा अमीर हैं शिवसेना प्रमुख उद्धव ठाकरे, जानें किसके पास कितनी संपत्तिपश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री के आवास में घुसने वाले शख्स ने परिसर को समझ लिया था कोलकाता पुलिस का मुख्यालयबीजेपी नेता कपिल मिश्रा को मिली जान से मारने की धमकी, ईमेल में लिखा - 'हम तुम्हें जीने नहीं देंगे'हैदराबाद के एक कार्यक्रम में भाग लेने पहुंचे RCP सिंह तो BJP में शामिल होने की लगने लगी अटकलें, भाजपा ने कही ये बातप्रदेश के भोपाल, इंदौर समेत 11 नगर निगमों में मतदान 6 को, चुनावी शोर थमाकानपुर मेट्रो: टनल बनाने का काम शुरू, देश को समर्पित करने के विषय में मिली ये जानकारीउदयपुर कन्हैया हत्याकांड का वीडियो सोशल मीडिया पर पोस्ट करने पर युवक गिरफ्तारवरिष्ठता क्रम सही करने आरक्षकों की याचिका पर विभाग को 21 दिन में निर्णय लेने का आदेश
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.