ब्यावर विधायक बोले : निर्दलीय जीते प्रधान को भाजपा का दुपट्टा पहनाना कोई नई परम्परा नहीं,भाजपा जिलाध्यक्ष ने बताया अनुशासनहीनता

विधायक रावत व भाजपा जिलाध्यक्ष भूतड़ा में ठनी,जवाजा पंचायत समिति प्रधान पद को लेकर उभरी गुटबाजी हुई मुखर, देहात जिलाध्यक्ष को अधिकृत प्रधान प्रत्याशी संतोष रावत ने दी शिकायत, आवश्यक कार्रवाई के लिए अनुशासन समिति को भेजा

By: suresh bharti

Published: 18 Dec 2020, 12:36 AM IST

अजमेर/ब्यावर. भाजपा देहात जिलाध्यक्ष व पूर्व विधायक देवीशंकर भूतड़ा ने वर्तमान विधायक शंकर सिंह रावत पर अनुशासनहीनता का आरोप लगाया है। उन्होंने कहा कि भाजपा के बागी जवाजा पंचायत समिति के प्रधान गणपत सिंह रावत को विधायक ने पार्टी में लेने की बात कहकर प्रदेश नेतृत्व को चुनौती दी है। यह अनुशासनहीनता है। इसे कतई बर्दाश्त नहीं किया जाएगा। दूसरी ओर विधायक ने कहा कि निर्दलीय जीते प्रधान को यदि भाजपा का दुपट्टा पहना दिया तो कोई नई परम्परा शुरू नहीं की है। जवाजा प्रधान भाजपा मंडल अध्यक्ष रह चुके हैं।

अधिकृत प्रत्याशी के खिलाफ चुनाव लडऩे पर खिलाफ में कार्रवाई संभव

भूतड़ा ने गुरुवार को ब्यावर में चांग चितार रोड स्थित कार्यालय में पत्रकारों से बातचीत में कहा कि प्रधान चुनाव में भाजपा ने संतोष रावत को सिम्बल दिया था। गणपत सिंह ने निर्दलीय के रूप में पर्चा भरा। यह अनुशासनहीनता है। ऐसे व्यक्ति को पार्टी में वापस लेने का अधिकार केवल प्रदेश नेतृत्व को है। प्रदेश नेतृत्व के बिना कोई भी घोषणा करता है तो, वह अनुशासनहीनता के दायरे में आता है। चाहे वो कोई भी हो।

विधायक के इस कार्य की लिखित में शिकायत मिली है। इसे आवश्यक कार्यवाही के लिए प्रदेश नेतृत्व व अनुशासन समिति को भेजा गया है। उन्होंने कहा कि हर कार्यकर्ता को पार्टी फोरम पर बात कहने का अधिकार है। यदि कोई भी इसके बाहर जाकर व पार्टी संविधान के विपरीत कार्य करेगा तो उसको खामियाजना भी भुगतना पड़ेगा।

रेवदर विधानसभा क्षेत्र में विधायक देवनानी ने भी पहनाई थी निर्दलीय को माला

ब्यावर विधायक रावत के अनुसार रेवदर विधानसभा क्षेत्र में विधायक वासुदेव देवनानी ने भी निर्दलीय सदस्य को माला पहनाकर पार्टी में शामिल कराया है। जवाजा प्रधान पहले भी पार्टी के मंडल अध्यक्ष थे। उन्होंने स्वयं ही नामांकन दाखिल किया एवं स्वयं चुनाव लड़ा। चुनाव जीतने के बाद मेरे कार्यालय पर आए तो उनको भाजपा का दुपट्टा पहनाया है। इसके बावजूद जिलाध्यक्ष भूतड़ा की ओर से षडयंत्र रचा जाता है तो वह निराधार व झूठा है।

suresh bharti Desk
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned