scriptDozens of farmers' crops were submerged due to the negligence | सिंचाई विभाग की लापरवाही से दर्जनों किसानों की फसल हुई जलमग्न | Patrika News

सिंचाई विभाग की लापरवाही से दर्जनों किसानों की फसल हुई जलमग्न

पुलिया की जगह खाली छोड़ दी, नहीं कराया निर्माण, माइनर में पानी छोडऩे से करीब 20 बीघा फसल जलमग्न

कस्बा क्षेत्र को सींचने वाली पार्वती नहर किसानों की जीवनदायिनी नहर के रूप में देखी जाती है, वहीं दूसरी ओर विभागीय अधिकारियों की लापरवाही के चलते किसानों के लिए यह विनाश कारक भी साबित होती है।

अजमेर

Published: December 02, 2021 12:57:55 am

सैंपऊ. कस्बा क्षेत्र को सींचने वाली पार्वती नहर किसानों की जीवनदायिनी नहर के रूप में देखी जाती है, वहीं दूसरी ओर विभागीय अधिकारियों की लापरवाही के चलते किसानों के लिए यह विनाश कारक भी साबित होती है। विभागीय अधिकारियों की लापरवाही किसानों के लिए मुसीबत बनी हुई है। विभागीय अधिकारियों की लापरवाही के चलते बुधवार को जसवंतपुरा से गुजरने वाली माइनर द्वारा किसानों की करीब 20 बीघा फसल नष्ट हो गई। जानकारी के अनुसार नहर निर्माण कार्य के दौरान संबंधित ठेकेदार द्वारा गांव जशवंतपुरा से गुजरने वाले रास्ते की जगह नहर का निर्माण नहीं कराया गया। विभाग द्वारा रास्ते की जगह पर पुलिया बनाना तो दूर की बात, वहां पर पानी निकासी के लिए कच्चा ढोला बनाना भी उचित नहीं समझा। नहर में पानी आते ही किसानों की खून पसीने से तैयार की हुई फसल जलमग्न हो गई।
सिंचाई विभाग की लापरवाही से दर्जनों किसानों की फसल हुई जलमग्न
सिंचाई विभाग की लापरवाही से दर्जनों किसानों की फसल हुई जलमग्न
लगभग एक किलोमीटर बंद पड़ी नहर अतिक्रमण की चपेट में

जशवंतपुरा से गुजरने वाली माइनर द्वारा नगला दरिया और दोनारी के किसानों को पानी नहीं मिल पा रहा है, क्योंकि जशवंतपुरा के बाद माइनर का अस्तित्व ही खत्म हो गया है। ग्रामीणों ने बताया जशवंतपुरा के बाद माइन का करीब एक किलोमीटर का हिस्सा बंद पड़ा हुआ है। जिसको अतिक्रमणकारियों ने चपेट में रखा है। रामचंद्र, प्रागसिंह, जनवीर, दुर्गसिंह, रणवीर किसानों ने बताया विभागीय लापरवाही के चलते सरसों एवं गेहूं की करीब 20 बीघा फसल नष्ट हो गई। संबंधित ठेकेदार द्वारा नहर कार्य पूर्ण किया होता तो उनका नुकसान नहीं होता। सबसे बड़ी बात तो यह है कि अभी कुछ दिन पूर्व ही नहर निर्माण कार्य कराया गया था, लेकिन विभागीय अधिकारियों ने यह एक किलोमीटर का एरिया पूरा नहीं कराया। क्या आगे के किसानों के लिए नहर का पानी आवश्यक नहीं है। नहर संचालन में अधूरा कार्य किसानों के लिए मुसीबत खड़ी नहीं करेगा।

क्या कहते हैं जिम्मेदार

नहर में पानी रिलीज नहीं किया था, वह तो किसान रात के समय पानी खोल ले गए थे, जिससे पानी रात भर चलता रहा और किसानों का नुकसान हो गया। यह माइनर 1220 मीटर की है, जो पूरी पककी हो चुकी है। पुलिया निर्माण अभी बाकी है। दोनारी तक पहले कभी आपसी सहमति से किसानों द्वारा ही नहर बनाई गई थी। जिसे लोगों ने अब जोत लिया, वह रिकॉर्ड में नहींं है। कृष्ण कुमार, कनिष्ठ अभियंता, सिंचाई विभाग।

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

Cash Limit in Bank: बैंक में ज्यादा पैसा रखें या नहीं, जानिए क्या हो सकती है दिक्कतहो जाइये तैयार! आ रही हैं Tata की ये 3 सस्ती इलेक्ट्रिक कारें, शानदार रेंज के साथ कीमत होगी 10 लाख से कमइन 4 राशि वाले लड़कों की सबसे ज्यादा दीवानी होती हैं लड़कियां, पत्नी के दिल पर करते हैं राजमां लक्ष्मी का रूप मानी जाती हैं इन नाम वाली लड़कियां, चमका देती हैं ससुराल वालों की किस्मतShani: मिथुन, तुला और धनु वालों को कब मिलेगी शनि के दशा से मुक्ति, जानिए डेटइन नाम वाली लड़कियां चमका सकती हैं ससुराल वालों की किस्मत, होती हैं भाग्यशालीराजस्थान में आज भी बरसात के आसार, शीतलहर के साथ फिर लौटेगी कड़ाके की ठंडPost Office FD Scheme: डाकघर की इस स्कीम में केवल एक साल के लिए करें निवेश, मिलेगा अच्छा रिटर्न

बड़ी खबरें

भारत में कम्युनिटी ट्रांसमिशन स्टेज पर पहुंचा ओमिक्रॉन वेरिएंट - केंद्र सरकारUP Assembly Elections 2022 : पलायन और अपराध खत्म अब कानून का राज,चुनाव बदलेगा देश का भाग्य - गृहमंत्री शाहराजपथ पर पहली बार 75 एयरक्राफ्ट और 17 जगुआर का शौर्य प्रदर्शन, देखें फुल ड्रेस रिहर्सल का वीडियोहेट स्पीच को लेकर हिन्दू संगठन पहुंचा सुप्रीम कोर्ट, कहा-मुस्लिम नेताओं की भी हो गिरफ्तारीPriyanka Chopra Surrogacy baby: तस्लीमा ने वेश्यावृत्ति, बुरका से की सरोगेसी की तुलनाआज 6 बजे इंडिया गेट पर लगेगी नेताजी सुभाष चंद्र बोस की प्रतिमा, पीएम मोदी ने दी जानकारीसुबह 6 बजे टाइम कीपर के घर EOW का छापा, मकान देख दंग रह गए अफसरबसपा प्रत्याशी के पास सबसे अधिक गाडियाँ, अरिदमन हथियार रखने में आगे
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.