औद्योगिक संस्थानों पर आधुनिक उपकरणों की मदद से हो रही थी बिजली चोरी

ब्यावर में मीटर टैम्परिंग गिरोह सक्रिय
अजमेर डिस्कॉम की विशेष जांच में हुआ खुलासा

तीन महीने की जांच में 29 संस्थानों में पकड़ी बिजली चोरी

3.57 करोड का जुर्माना, एफ आईआर दर्ज

By: bhupendra singh

Updated: 10 Sep 2020, 07:54 PM IST

अजमेर.अजमेर विद्युत वितरण निगम द्वारा ब्यावर व मसूदा के औद्योगिक व अन्य कनेक्शनों की विशेष जांच में बड़ी बिजली चोरियों Electricity theft का खुलासा हुआ है। ब्यावर के पास औद्योगिकindustrial institutions क्षेत्रों में मीटर में विशेष उपकरण modern equipmentलगाकर एवं मीटर में छेद कर बिजली चोरी की जा रही थी। निगम ने 3 महीने की विशेष जांच में 29 औद्योगिक संस्थानों में बिजली चोरी पकड कर 3.57 करोड रूपए का जुर्माना लगाते हुए एफ आरआई दर्ज कराई गई है। अजमेर डिस्कॉम के प्रबन्ध निदेशक वी.एस. भाटी ने बताया कि औद्योगिक क्षेत्रों में लगातार बिजली चोरी की शिकायतें मिल रही थी। इस पर निगम ने जून से विशेष अभियान चलाकर मीटरों की सघन जांच की। इस दौरान जानकारी सामने आई कि ब्यावर व मसूदा के शहरी एवं ग्रामीण इलाकों में मीटर टेंपर कर विद्युत की चोरी कराने वाला गिरोह सक्रिय है। यह गिरोह आधुनिक टेक्नोलॉजी का इस्तेमाल कर विद्युत मीटर को टेम्पर कर विद्युत की चोरी करा रहे है।

यहां पकड़े गए मामले

स्टार मिनरल की जांच कराने पर मीटर में एमआरआई पोर्ट के पास छेद मिला। इस फ र्म पर 97 लाख रूपए जुर्माना लगाया गया। विद्युत चोरी निरोधक थाने में एफ आईआर दर्ज करवाते हुए कनेक्शन काटा गया।

आनन्द माईन्स एण्ड मिनरल्स कानाखेड़ा पर 1.12 करोड़ व अरमान मिनरल रानी सागर औद्योगिक संस्थान की जांच में चोरी पकडऩे पर 97.5 लाख जुर्माना किया गया एवं मौके पर ही कनेक्शन काटा गया। एफ आईआर दर्ज कराई जा रही है।

घरेलू,कृषि,एनडीएस,मोबाइल टावर, पेट्रोल पंप,मिल्क चिलिंग प्लांट, होटल, ढाबा,आरो प्लांट के विरुद्ध अभियान चलाकर विद्युत चोरी पकडऩे की कार्रवाई की गई कार्रवाई की गई है। निगम ने 29 जगहों पर बिजली चोरी पकड़ कर 3.57 करोड़ का जुर्माना किया है।

readmore:नदी को मिलेगा नक्श, नगर को खूबसूरत सौगात!

bhupendra singh Reporting
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned