जेसीबी छीनने व अवैध खनन के ग्यारह आरोपी गए जेल

सहायक पुलिस अधीक्षक सुमित मेहरड़ा के नेतृत्व कार्रवाई

By: manish Singh

Published: 14 Oct 2021, 03:36 AM IST

मुहामी/अजमेर. अवैध खनन के खिलाफ सहायक पुलिस अधीक्षक सुमित मेहरड़ा के नेतृत्व में मंगलवार को सर्किल पुलिस और खनन विभाग की ओर से कई गई कार्रवाई में गिरफ्तार ग्यारह आरोपियों को न्यायिक अभिरक्षा में भेज दिया। इसमें जेसीबी मशीन छीनकर ले जाने वाले 5 आरोपी भी शामिल है। पुलिस अन्य आरोपियों की तलाश में जुटी है।

एएसपी मेहरड़ा के नेतृत्व में 12 अक्टूबर को पुलिस, खनन विभाग की टीम ने बूबानी गांव की सरहद में एडीए की जमीन पर किए जा रहे अवैध खनन खिलाफ कार्रवाई में खनन विभाग की ओर से मुकदमा दर्जकर बुबानी निवासी ब्रम्हा रावत, ताराचन्द कुम्हार, शैतान, हाथीपट्टा निवासी प्रधानसिंह, कानाखेड़ी निवासी जगदीश रावत व श्रीनगर नाहरगाल निवासी सेठू रावत को गिरफ्तार किया। आरोपियों को बुधवार को कोर्ट में पेश किया। जहां से जेल भेज दिया। मांगलियावास पुलिस थाने के जवानों के साथ धक्का-मुक्की पर राजकार्य में बाधा व जेसीबी छीनकर ले जाने का मुकदमा दर्ज किया। राजकार्य के बाधा के मामले में जेसीबी चालक कल्लू खां, लोकेश, गंगाराम, धन्नासिंह, महेन्द्र को गिरफ्तार किया। पांचों आरोपियों को कोर्ट ने न्यायिक अभिरक्षा में भेज दिया।
जेबीसी चालक ने रखी कम रफ्तार

मेहरड़ा के मुताबिक कार्रवाई में 11 ट्रेक्टर, 2 जेसीबी व एक डम्पर जब्त किए। खनिज विभाग की टीम जब्त वाहनों को पुलिस सुरक्षा में थाने रवाना किया। सबसे पहले थानाधिकारी पुष्कर व मांगलियावास के साथ जेसीबी व 6 ट्रेक्टर रवाना किए। इसके बाद 1 डम्पर, 5 ट्रेक्टर व 1 जेसीबी वह स्वयं और पीसांगन थानाधिकारी लेकर रवाना हुए। उसके बाद उन्हें सूचना मिली कि डम्पर रोकने के लिए बाइक सवार प्रयास कर रहे हैं। वे पीसांगन थानाधिकारी के साथ आगे निकल गए। पीछे चल रही जेसीबी के चालक ने रफ्तार धीमी कर ली। उसमें मांगलियावास थाने के 2 जवान भी बैठे थे। पीछे से आए मालिक के इशारे पर चालक ने जेसीबी को बूबानी गांव की तरफ मोड़ लिया। जहां ग्रामीणों ने जेसीबी को रूकवा लिया और जवानों से धक्का-मुक्की करने लगे, तभी गेगल थाने का जाब्ता पहुंच गया। जिन्हें देखकर लोग जेसीबी लेकर भाग गए।

पुलिस का दावा, नहीं हुआ पथराव
एएसपी मेहरड़ा ने दावा किया है कि कार्रवाई के दौरान पुलिस की गाड़ी पर किसी तरह का पथराव नहीं हुआ। मेहरड़ा का कहना है कि पुलिस के निकलने के बाद ग्रामीणों ने पत्थर उठाए होंगे लेकिन उनकी गाड़ी पर पथराव नहीं हुआ। मेहरड़ा ने बताया कि जेसीबी को चालक बुबानी गांव की तरफ ले गया। जहां ग्रामीणों ने मांगलियावास पुलिस थाने के जवानों के साथ धक्का-मुक्की की। तब तक गेगल थाने का जाब्ता पहुंच गया। पुलिस को देखकर ग्रामीण भाग चुके थे। जेसीबी छीनने के मामले में पांच को राजकार्य में बाधा के आरोप में गिरफ्तार किया गया है।

manish Singh Reporting
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned