जनाना अस्पताल के सामने दुकानों के अतिक्रमण हुए ध्वस्त

पीडब्ल्यूडी, तहसील व एडीए ने संयुक्त रूप से की कार्रवाई
दुकानदारों/ होटल संचालकों को अपनी हद में रहने के लिए किया पाबंद

कई अतिक्रमियों ने खुद ही हटाए अपने अतिक्रमण

By: bhupendra singh

Updated: 07 Apr 2021, 10:11 PM IST

अजमेर.नेशलन हाईवे 79 के किनारे राजकीय महिला जिला अस्पताल(जनाना) के सामने दुकानोंदारों, होटल संचालकों के अतिक्रमण को बुधवार को ध्वस्त किया गया। अतिक्रमण हटाने के लिए सार्वजनिक निर्माण विभाग, तहसील प्रशासन तथा अजमेर विकास प्राधिकरण की संयुक्त टीम ने कार्रवाई की। टीम ने दुकानदारों के अतिक्रमण कर लगाए गए टीनशेड, बरामदे, चबूतरे व पक्के निर्माण तोड़ते हुए दुकानदारों को अपनी हद में रहने के लिए पाबंद किया है। वहीं कुछ दुकानदारों ने अतिक्रमण निरोधक दस्ते को देखते हुए खुद ही अपना अवैध निर्माण हटाना शुरु कर दिया। दोपहर बाद पहुंची एडीए की जेसीबी ने शेष अतिक्रमण ध्वस्त कर दिए। अतिक्रमण हटाने की कार्रवाई में तहसीलदार हरेंद्र सिंह, गिरदावर, हल्का पटवारी ,सार्वजनिक निर्माण विभाग के अभियंता तथा एडीए का अतिक्रमण निरोधक दस्ता शामिल हुआ।

खुलखुला नजर आया रोड
नेशनल हाइवे पर पर ठेलो व दुकानदारो अतिक्रमण , टिनशेड व पर्दो के कारण सड़क एक ओर से दूसरी ओर नजर नही आती थी, अतिक्रमण के कारण हमेशा दुर्घटनाओं की आशंका रहता सम्भावना बनी रहती थी।अतिक्रमण हटने से अब हाइवे खुलाखुला नजर आने लगा है।

अस्पताल के सामने है तीव्र मोड़
जनाना अस्पताल के सामने हाईवे पर तीव्र मोड़ है ऐसे में अतिक्रमण के कारण यहां किसी बड़ी दुर्घटना की आशंका से इनकार नहीं किया जा सकता। नेशनल हाइवे होने के कारण इस सड़क पर चौबीसों घंटे ट्रकों,ट्रेलर ,बसों व अन्य वाहनों की आवाजाही तेज रफ्तार में होती है। यह हाइवे बीकानेर, नागौर, सीकर तथा पुष्कर को अजमेर व जयपुर रोड से जोड़ता है।

पत्रिका ने उठाया अतिक्रमण का मामला
गौरतलब है कि राजस्थान पत्रिका ने बुधवार के अंक में एनएच 79 पर जनाना अस्पताल के सामने दुकानदारों के अतिक्रमण व हादसे की आशंका को लेकर खबर प्रकाशित की थी। बेखौफ अतिक्रमियों ने दुकानों के सामने 70-80 फुट तक कब्जा कर रखा था। कई ने पक्के बरामदे तो कुछ ने टीनशेड लगाकर कब्जा कर रखा था। कुर्सी टेबल भी सड़क किनारे ही लगाई जा रही थी। दुकानदारों व ग्राहको के वाहन भी सड़क पर ही खड़े हो रहे थे। इसके अलावा ठेले भी सड़क पर खड़े हो रहे थे।

read more: राजस्व वसूली में जयपुर, जोधपुर से अव्वल रहा अजमेर डिस्कॉम

Show More
bhupendra singh Reporting
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned