कभी देखे हैं आपने पेपर्स पर बने पार्क, यहां दिखती नहीं है एनर्जी

raktim tiwari

Publish: Oct, 13 2017 08:39:40 (IST)

Ajmer, Rajasthan, India
कभी देखे हैं आपने पेपर्स पर बने पार्क, यहां दिखती नहीं है एनर्जी

एनर्जी पार्क बनाने की योजना को भुला चुके हैं। यहां सिर्फ कागजों में ऊर्जा संरक्षण सिखाया जा रहा है।

 

रक्तिम तिवारी/अजमेर।

कागजों में एनर्जी पार्क बने देखने हैं तो आपको इंजीनियरिंग और पॉलीटेक्निक कॉलेज आना पड़ेगा।साल दर साल टेक्नोक्रेट्स तैयार कर रहे इंजीनियरिंग और पॉलीटेक्निक कॉलेज सामाजिक जिम्मेदारी नहीं निभा रहे। दोनों कॉलेज आमजन को तकनीकी जानकारी देने से जुड़ी एनर्जी पार्क बनाने की योजना को भुला चुके हैं। यहां सिर्फ कागजों में ऊर्जा संरक्षण सिखाया जा रहा है।

आमजन और विद्यार्थियों को विज्ञान, ऊर्जा संरक्षण, सौर और अन्य गैर पारंपरिक ऊर्जा स्त्रोत, यांत्रिकी और इलेक्ट्रोनिक्स इंजीनियरिंग से रूबरू कराने के लिए राजकीय बॉयज इंजीनियरिंग कॉलेज ने बड़ल्या स्थित परिसर में एनर्जी पार्क बनाने की योजना बनाई। तत्कालीन प्राचार्य डॉ.एस. जी. मोदानी ने वर्ष 2004-05 में इसका प्रस्ताव बनाया। कॉलेज में करीब दो से तीन हजार वर्ग मीटर क्षेत्र में पवन चक्की, सौर ऊर्जा पैनल, स्वचलित सिग्नल प्रणाली, रोजमर्रा काम आने वाली मशीन लगाया जाना तय हुआ। दस वर्षों में तीन स्थायी प्राचार्य आए और चले गए, लेकिन एनर्जी पार्क कागजों में ही कैद है।

पॉलीटेक्निक कॉलेज में उजाड़ पार्क
माखूपुरा स्थित राजकीय पॉलीटेक्निक कॉलेज में करीब 15 साल पहले एनर्जी पार्क बनाने की योजनान्तर्गत सौर ऊर्जा प्लान्ट लगाए गए। इसके तहत सौर ऊर्जा पैनल प्लेट्स और अन्य उपकरण शामिल किए गए। सुरक्षा में लापरवाही बरतने से चोर पैनल और प्लेट्स चुराकर ले गए। जयपुर जिला पुलिस ने यह उपकरण बरामद भी कर लिए, पर सरकार और कॉलेज ने दोबारा पार्क विकसित करना मुनासिब नहीं समझा। यहां हजारों एकड़ भूमि खाली पड़ी है, लेकिन शहरवासियों और विद्यार्थियों के लिए एनर्जी पार्क नहीं है।


यह होता है एनर्जी पार्क में
-भोजन पकाने का सौर ऊर्जा चलित चूल्हा

-गाय-भैंस के गोबर पर आधारित गैस प्लान्ट

-सौर ऊर्जा से चलने वाली लाइट्स और रेडियो

-इको फ्रेंडली स्वचलित मशीन एवं-पवन चक्की और स्वचलित सिग्नल प्रणाली

-बायो/ग्रीन एनर्जी सहित ऊर्जा के अन्य विकल्प

भारत में इन संस्थानों में एनर्जी पार्क

-सावित्री बाई फुले विद्यापीठ पुणे

-गांधी विचार परिषद वर्धा

-आनंद एग्रीकल्चर यूनिवर्सिटी

-विश्वश्वरैया टेक्निकल यूनिवर्सिटी मुदैनहाली

 

Rajasthan Patrika Live TV

1
Ad Block is Banned