ख्वाजा साहब की दरगाह में धार्मिक कार्यक्रमों में चलने वाली तोप पर जताई आपत्ति ,पढ़ें क्या है पूरा मामला

बड़े पीर की पहाड़ी से विभिन्न मौके पर तोप चलाए जाने को लेकर आपत्ति जताई गई है।

By: सोनम

Published: 11 Dec 2017, 02:02 PM IST

अजमेर . बड़े पीर की पहाड़ी से विभिन्न मौके पर तोप चलाए जाने को लेकर आपत्ति जताई गई है। बड़ा पीर रोड गैसिया कॉलोनी निवासी मोहम्मद जमील अब्बासी ने तोप से जानमाल का खतरा बताते हुए दरगाह थाने में मुकदमा दर्ज कराया है। अब्बासी ने परिवाद के जरिए दर्ज कराए मुकदमें में बताया है कि तोप के दागे जाने से उनके मकान और उसमें रहने वाले लोगों की जानमाल को नुकसान पहुंच सकता है।

 

अब्बासी ने तोपची परिवार के 6 सदस्यों सहित नाजिम व दरगाह कमेटी के दरोगा के खिलाफ मुकदमा दर्ज कराया है। पुलिस ने मामला दर्जकर अनुसंधान शुरू कर दिया है। अब्बासी का आरोप है कि वन विभाग की जमीन पर बिना अनुमति के तोप का संचालन किया जा रहा है। इससे लोगों को जानमाल का खतरा है।

तोप नहीं 'दुमड़ी है

ख्वाजा साहब की दरगाह में आयोजित विभिन्न धार्मिक कार्यक्रम के दौरान बड़े पीर की पहाड़ी से महिला तोपची फौजिया, उसके भाई खुर्शीद, रशीद आदि तोप चलाने का कार्य करते हैं। खुर्शीद का कहना है कि जिसको तोप नाम दिया जा रहा है उसका रजिस्ट्रेशन धमाकड़ (दुमड़ी) के नाम से हो रखा है। उसका वजन महज 52 किग्रा है।

 

इसमें एक वक्त धमाके के लिए महज 50 ग्राम बारूद का इस्तेमाल होता है। लेकिन आए दिन तोप का नाम देकर बेवजह विवाद खड़ा किया जाता है। खुर्शीद का कहना है कि आस-पास रहने वाले किसी अन्य परिवार को आपत्ति नहीं है।

FIR against family who use their cannon fire in dargah festivals

यह भी पढ़ें...अहिंसा है धर्म का शुद्ध स्वरूप

 

मदनगंज-किशनगढ़.
नगर के ओसवाली मोहल्ला स्थित स्थानक भवन में बड़ी दीक्षा का कार्यक्रम आयोजित किया गया। इसमें साध्वी आर्याश्री को बड़ी दीक्षा प्रदान की गई। इस दौरान साध्वी आर्याश्री ने प्रवर्तक राजेंद्र मुनि से पंच महाव्रत ग्रहण किए।

 

कार्यक्रम में आए श्रावक-श्राविकाओं को संबोधित करते हुए प्रवर्तक राजेंद्र मुनि, साहित्यकार सुरेंद्र मुनि, ऋषभ मुनि, साध्वी दिव्य प्रभा, महिमाश्री, प्रेक्षाश्री आदि ने मंगल कामना करते हुए धर्म का शुद्ध स्वरूप अहिंसा, सत्य, ब्रह्मचर्य को धारण करने की प्रेरणा दी। समारोह में अजमेर, भीलवाड़ा, उदयपुर आदि से आए श्रद्धालुओं का संघ मंत्री कैलाश पीपाड़ा ने स्वागत किया। जैन कांफे्रंस की ओर से सभी को प्रभावना प्रदान की गई। इसके साथ ही विभिन्न स्कूलों में विद्यार्थियों को वस्त्र स्वेटर प्रदान करने का अनुदान प्रदान किया गया। स्थानक में सोमवार को सुबह 9 बजे प्रवचन कार्यक्रम होंगे।

सोनम Reporting
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned