पाइप गोदाम में लगी आग, पांच करोड़ के नुकसान का अनुमान

खेत में खुले में बना रखा था गोदाम, करीब तीन घंटे में पाया काबू - हैदराबाद की जीवीपीआर कंपनी कर रही राजाखेड़ा चंबल लिफ्ट परियोजना का काम, नहीं थे आग से सुरक्षा के उपाय- हांफी नगर परिषद की दमकल, बाहर से बुलानी पड़ीं

By: Dilip

Published: 11 Oct 2021, 01:14 AM IST

धौलपुर. यहां सैंपऊ रोड पर लाठखेड़ा हनुमान मंदिर के पास एक खेत में खुले में बने चंबल लिफ्ट परियोजना के पाइप गोदाम में रविवार दोपहर करीब दो बजे आग लग गई। थोड़ी ही देर में आग ने विकराल रूप धारण कर लिया। प्लास्टिक और पीवीसी के पाइप धूं-धूं कर जलने लगे। गनीमत यह रही कि किसी प्रकार की जनहानि नहीं हुई। कंपनी ने आग से करीब पांच करोड़ रुपए के नुकसान का प्राथमिक अनुमान लगाया है। रविवार दोपहर को कुछ राहगीरों ने पाइपों से धुआं निकलता देखा। आग की सूचना राहगीरों ने सर्वप्रथम पचगांव पुलिस चौकी पर दी। चौकी स्टाफ ने कंट्रोल रूम तथा पास ही पुलिस लाइन को दी। चौकी व पुलिस लाइन के जवानों ने आग से पाइप हटाने का काम शुरू कर दिया। इस बीच, जिला कलक्टर राकेश जायसवाल तथा पुलिस अधीक्षक केसर सिंह शेखावत भी मौके पर पहुंच गए। जिला कलक्टर ने नगर परिषद, थर्मल पावर, सरमथुरा, मध्यप्रदेश के मुरैना आदि स्थानों से दमकल बुला आग पर काबू पाया। इस दौरान, आग से उठा धुआं कई किलोमीटर दूर से भी देखा गया।

दमकल का फूला दम

आग बुझाने में नगर परिषद धौलपुर की दो दमकल भी लगाई गईं। यहां एक-दो चक्कर के बाद ही एक दमकल का दम फूल गया। ऐसे में एक दमकल सिर्फ शोपीस बन कर खड़ी रही। नगर परिषद की ओर से सिर्फ एक दमकल के सहारे आग पर काबू पाने का प्रयास किया गया।

सुरक्षा उपाय नहीं

हैदराबाद की जीवीपीआर कंपनी ने बड़ी मात्रा में अपने पाइप व अन्य सामान खेतों में डाल रखे हैं। कंपनी के सिर्फ एक-दो सुरक्षाकर्मी यहां तैनात करते हैं। बड़ी मात्रा में पीवीसी और प्लास्टिक का ज्वलनशील सामान यहां होने के बावजूद कंपनी की ओर से आग पर काबू पाने के कोई भी उपाय यहां नहीं कर रखे हैं। यहां तक कि अग्निशामक यंत्र भी यहां नहीं हैं। रविवार को भी आग लगने के बाद कंपनी के कर्मचारी सिर्फ हाथ-पर हाथ धरे देखते रहे।

पास ही पेट्रोल पम्प

इस पाइप गोदाम के करीब डेढ़ सौ मीटर की दूरी पर ही एक पेट्रोल पम्प है। रविवार को आग लगने की घटना के दौरान अगर आग की लपटें पेट्रोल पम्प तक पहुंच जाती तो बड़ी हानि हो सकती थी। आग लगने के दौरान सभी का ध्यान पेट्रोल पम्प तक आग को पहुंचने से रोकने पर था।

ट्रैफिक डायवर्ट

विकराल रुप से लगी आग के कारण धौलपुर-भरतपुर मार्ग का ट्रैफिक पुरानी रोड पर डायवर्ट किया गया। आग से उठते धुएं के गुबार को देखने बड़ी संख्या में लोग वहां इकट्ठे हो गए।

कंपनी को देंगे नोटिस

बाहर से भी दमकल मंगा आग पर काबू पाया गया है। कंपनीकर्मियों का कहना है कि करीब पांच करोड़ रुपए का नुकसान हुआ है। प्रथम दृष्टया कंपनी की लापरवाही सामने आई है। अग्निशमन के कोई उपाय वहां नहीं थे। कंपनी को नोटिस देकर जवाब मांगा जाएगा। रात में भी दमकलों से पानी छिड़कवा कर आग पर पूरी तरह काबू पाया जा रहा है।- राकेश जायसवाल, जिला कलक्टर, धौलपुर

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned