पहले जवानों की सुनी, फिर दी छुट्टी

-एसपी ने पुलिस लाइन के 40 जवानों को दिया अवकाश, कई ढाई से तो कोई चार माह से नहीं गया था घर

By: manish Singh

Published: 03 Jun 2020, 01:00 AM IST

मनीष कुमार सिंह

अजमेर. सवा दो माह तक लॉकडाउन में लगातार ड्यूटी देने वाले पुलिस लाइन के 40 जवान पुलिस अधीक्षक कुंवर राष्ट्रदीप से सोमवार को छुट्टी लेने पहुंच गए। इतनी बड़ी संख्या में पुलिस लाइन से आए जवानों को देखकर एकबारगी एसपी भी चकित रह गए। उन्होंने जवानों की सुनने के बाद अपने मन की बात सुनाई। सुनने-सुनाने की कड़ी में एसपी ने उनसे कई मुद्दों पर चर्चा कर डाली। सोमवार सुबह 11 बजे एसपी कार्यालय के बाहर बड़ी संख्या में पुलिस लाइन के जवान छुट्टी की अर्जी लेकर पहुंच गए। पुलिस अधीक्षक कुंवर राष्ट्रदीप ने सीसीटीवी कैमरे से जब कार्यालय के बाहर जवानों की बड़ी संख्या में देखा तो चकित रह गए। उन्होंने पहले सबको बुलाया। उनसे कई मुद्दों पर चर्चा करते हुए इतनी संख्या में छुट्टी जाने पर कानून व्यवस्था की ड्यूटी किस तरह चलेगी का सवाल किया? जवानों की चुप्पी के बाद एसपी ने उनको कहा कि तनाव की जरूरत नहीं है? सबको छुट्टी मिलेगी। व्यवस्था करना मेरा काम है। भले ही दूसरे जिले से जवान बुलवाने पड़ें। इसके पश्चात एसपी ने एक-एक जवान से बातकर उनकी समस्या के अनुसार 8 से 10 दिन तक का अवकाश स्वीकृत किया। एसपी से मिली नसीहत व छुट्टी से जवानों को भी चेहरे खिल नजर आए। छुट्टी स्वीकृति की अर्जी पुलिस लाइन में मेजर को देने के बाद रवानगी ली।
हमारे लिए नहीं है छुट्टी
एसपी ने हल्के-फुल्के माहौल में जवानों से कहा कि हम पर कानून व्यवस्था बनाने रखने का जिम्मा है। छुट्टी हमारे लिए नहीं है लेकिन पारिवारिक और सामाजिक व्यवस्थाओं को बनाए रखने लिए हमने अपने स्तर पर छुट्टी की व्यवस्था बना रखी है। उन्होंने सबको छुट्टी स्वीकृति के बाद समय पर आमद करवाने की हिदायत दी, ताकि दूसरों को भी छुट्टी दी जा सके।

...क्या शराब पीते हो!

एसपी ने एक जवान से सवाल-जवाब करते हुए कहा कि क्या शराब पीते हो? जवान ने भी बेबाकी से जवाब दिया हां। तो एसपी ने पूछा-क्या नियमित, उससे क्या फायदा होता है? तो उसने कहां नहीं साहब, कभी-कभी, ड्यूटी से फ्री होने के बाद रिलेक्स होने के लिए। एसपी ने जवानों को ड्यूटी के दौरान नशा नहीं करने और किसी भी प्रकार का दबाव नहीं रखने की नसीहत दी।
अब 10 फीसदी को दे सकते हैं छुट्टी
एसपी राष्ट्रदीप ने बताया कि लॉकडाउन 5 में कुछ रियायतें बढ़ी है तो पुलिस की ड्यूटी कम हुई है। अब तक दो दिन से ज्यादा छुट्टी एसपी स्तर पर दी जा रही थी लेकिन अब थानाधिकारी दस फीसदी स्टाफ को छुट्टी दे सकते हैं।

रोजाना मिल रही है छुट्टी
एसपी ने बताया कि पिछले कुछ दिन में ड्यूटी कम होने पर रोजाना उन जवानों को छुट्टी दी जा रही है, जिन्हें दूसरे जिले में परिवार से मिलने जाना है। सोमवार को लाइन से कुछ ज्यादा जवान आ गए तो 4-5 माह से परिवार से नहीं मिले। उनसे बातचीत में उनकी समस्याएं सुनीं और समाधान भी बताए।

टाइगर ने भर दी ऊर्जा

छुट्टी मिलने की खुशी के बाद पुलिस अधीक्षक के कक्ष से बाहर निकले एक जवान ने बताया कि एसपी की बातों से उनमें फिर से ऊर्जा भर दी। यूं लगता है कि छुट्टी पर नहीं जाने की बजाय ड्यूटी पर चला जाऊं। जवानों ने कहा कि वह पहली मर्तबा एसपी के चैम्बर में गए। तब उन्हें लगा कि कोई अधिकारी उनसे इस तरह भी बात कर सकता है।

manish Singh Reporting
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned