पहले जख्म, अब मरहमपट्टी और लेप का प्रयास नाकाम

तीन विभागों की नहीं एक राय...बढ़ते रहे घाव, जहां साहब की नजर नहीं पड़ी वहीं की जनता भुगत रही पीड़ा

By: CP

Updated: 07 Sep 2021, 02:00 PM IST

अजमेर. सड़कों को कभी गेतीं फावड़े से तो कभी जेसीबी तो पॉकलेन मशीनों से जख्म दिए। जगह-जगह सड़कों को उधेड़ दिया। जिसने मर्जी की सड़कों पर गहरे जख्म देने में कमी हीं रखी। काश ! योजना बनाकर जख्म एक बार ही दे दिए जाते तो जख्म घाव नहीं बनते। हर बार जख्म देकर उनकी मरहम पट्टी एवं लेप लगाने के प्रयास किए गए लेकिन वे सभी प्रयास नाकाम ही रहे।

अजमेर शहर में सड़कों पर बढ़ते जख्म आमजन को भी जख्म दे रहे रहे हैं। आए दिन सड़क दुर्घटनाएं हो रही है। सबसे बड़े परेशानी सीवरेज कार्य के दौरान खुदाई और उसके बाद महीनों तक सड़कों का पुन: डामरीकरण नहीं होने एवं गड्ढे नहीं भरने से आम लोग परेशान है। यहां तक कि कई कॉलोनियों में महीनों पहले खोदी गई सड़कें, गलियां आज भी गड्ढों में तब्दील हैं।

सीवरेज के चलते अलखनंदा कॉलोनी, रातीडांग क्षेत्र का हाल बेहाल

एमपीएस स्कूल से अंदर होते हुए पूरे मार्ग की सड़कें खुदी हुई हैं। अलखनंदा कॉलोनी, गणपति नगर मार्ग में सड़कों पर गहरे गडड्ढे आज भी खुदे पड़े हैं। ना सीमेंट कंकरीट से इन्हें भरा, ना मिट्टी साफ की और ना डामरीकरण हुआ।

अद्वेतआश्रम से विश्रामस्थली पर दुर्घटना के हालात

सीवरेज कार्य के चलते अद्वेतआश्रम से विश्रामस्थली तक सीवरेज लाइन के गड्ढे खुदे हैं। एक-दो जगह तो मात्र 2 से तीन फीट की ही डामर की सड़क बची हुई है।
सुुभाषनगर रोड पर डिवाइडर की जगह गड्ढे

शताब्दी स्कूल से सुभाषनगर रोड रेलवे फाटक के आगे डिवाइडर की जगह सड़क पर गहरे गड्ढे खुदे पड़े हैं। यहां भी खुदाई कर इसे दुरुस्त करना विभाग भूल गया। ना डिवाइडर बना ना सड़क पर डामरीकरण कर कर लेवलीकरण किया गया।

इन विभागों में तालमेल का अभाव

सार्वजनिक निर्माण विभाग, अजमेर विकास प्राधिकरण, नगर निगम, विद्युत निगम, जलदाय विभाग एवं सीवरेज की कार्यकारी एजेन्सी, स्मार्टसिटी में अजमेर के विकास कार्यों का समन्वय प्लान नहीं होने व तालमेल के अभाव से परेशानी हो रही है।

कॉलोनीवार बने प्लान

किसी भी कॉलोनी में सीवरेज, पेयजल लाइन, विद्युत की भूमिगत लाइन, गैस पाइप लाइन, दूर संचार संबंधी लाइन खोदने, लाइन बिछाने का प्लान बनना चाहिए। ताकि एक बार ही खुदाई करके आसपास लाइनें बिछाने का कार्य एक साथ हो, इससे ना तो जनता परेशान होगी ना हर बार सड़कों को दुरुस्त करने व खुदाई के लिए राशि खर्च करनी पड़ेगी।

गैस पाइप लाइन बिछाई नहीं लगे ब्लॉक

कई कॉलोनियों एवं मार्गों में घरेलू गैस पाइप लाइन की पाइप लाइन बिछाने के करीब छह माह बाद भी पत्रकार कॉलोनी एवं मुख्य मार्ग पर ना तो ब्लॉक्स लगाए, ना ही कई जगह सड़क को ठीक किया गया है।

CP Reporting
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned