ट्रेलर से तीन करोड़ का लूटा था तांबा, ट्रेलर मालिक, चालक व खरीदार सहित पांच आरोपी पुलिस के चढ़े हत्थे

ट्रेलर मालिक ने चालक के साथ में रचा लूट का षडय़ंत्र, गेगल थाना पुलिस ने चोरी का तांबा भी किया बरामद, पाली जिले में बेचा था ताम्बा, चोरी का माल खरीद का आरोपी गिरफ्तार

By: suresh bharti

Published: 23 Apr 2021, 01:37 AM IST

ajmer अजमेर. अपराधी चाहे कितना ही बड़ा क्यों न हो। कानून से बचने के लिए वह कितनी ही चालाकी बरते,लेकिन पुलिस की निगाह से बच नहीं सकता। भले ही वह पुलिस के शिकंजे में देरी से आए,लेकिन चंगुल में आना ही पड़ेगा। गेगल थाना पुलिस ने ट्रेलर से तीन करोड़ रुपए के तांबा लूट के मामले में ऐसा ही कुछ किया है।

पुलिस ने चालक समेत पांच आरोपियों को गिरफ्तार किया है। लूट का षडय़ंत्र रचने में ट्रेलर मालिक, चालक समेत चार जने शामिल हैं, जबकि पुलिस ने चोरी का माल खरीदने वाले को भी पाली से धर-दबोचा। पुलिस पड़ताल में सामने आया कि ट्रेलर चालक ने ना सिर्फ ताम्बा खुर्दबुर्द किया, बल्कि इससे पूर्व में पश्चिम बंगाल में ट्रेलर में लदा 36 टन लोहे का सरिया भी खुदबुर्द कर लाखों रुपए कमाए थे।

ट्रेलर का जीपीएस सिस्टम मिला

पुलिस अधीक्षक जगदीशचन्द्र शर्मा ने बताया कि 17 अप्रेल को गेगल थाने में एक ट्रेलर से करीब 3 करोड़ रुपए कीमत का ताम्बा लूट की रिपोर्ट मिली थी। पुलिस की प्रारंभिक पड़ताल में ट्रेलर के जीपीएस की अंतिम लोकेशन एनएच 8 गगवाना पुलिया के पास आई। इसके बाद ट्रेलर, उसके चालक और उसमें भरे ताम्बे का सुराग नहीं लगा। तीन करोड़ के माल के लूट की सूचना पर गेगल थाना पुलिस व साइबर सेल की सहायता से ट्रेलर में लगा जीपीएस सिस्टम गगवाना पुलिया के पास से बरामद किया गया। इसको शातिर ने पुलिस का ध्यान भटकाने के लिए गगवाना पुलिया के पास निकालकर फैंक दिया। इसके बाद पुलिस ने ट्रेलर में लदे माल, की बरामदगी के लिए सिरोही आबूरोड निवासी संजय कुमार जैन की रिपोर्ट पर धोखाधड़ी का मालमा दर्जकर पड़ताल शुरू की गई।

पुलिस की प्रारंभिक पड़ताल में ट्रेलर चालक भी संदेह के घेरे में आ गया।

कर्जा उतारने के लिए रचा षडय़ंत्र

अनुसंधान के दौरान ही ट्रेलर में लापता चालक राजेन्द्र रावत पुलिस के सामने आया। उसने बताया कि उसको बोलेरो में सवार बदमाश मारपीट कर तांबे से भरे ट्रेलर को मांगलियावास से लूट कर ले गए। प्रथमदृष्टया माल गबन करने के संदेह पर ट्रेलर मालिक मस्तान, चालक राजेन्द्र रावत व रसूल की भूमिका संदिग्ध नजर आई।

मामले में साइबर सेल ने तत्परता दिखाते हुए आईटी का उपयोग कर संदिग्ध मोबाइल की सीडीआर का विश्लेषण किया। इसके बाद ट्रेलर के मालिक मस्तान व चालक राजेन्द्र रावत से मनोवैज्ञानिक तरीके से पूछताछ की गई। उन्होंने कुछ साथियों के साथ कर्जा उतारने की नीयत से आपराधिक षडय़ंत्र रचकर वारदात को अंजाम देना स्वीकार कर लिया

पाली में बेचा ताम्बा, आरोपी गिरफ्तार

पुलिस की पड़ताल में सामने आया कि खुर्दबुर्द किए गए तीन करोड़ के ताम्बे को पाली जिले में बेचा। पुलिस ने ट्रेलर के मालिक पाली सेंदड़ा सबलपुरा निवनासी मस्तान मेहरात, ट्रेलर चालक जवाजा गोहाना निवासी राजू उर्फ राजेन्द्रसिंह रावत,षडय़ंत्र में शामिल ट्रेलर चालक चालक पाली सेंदड़ा सबलपुरा निवासी रसूल काठात व जवाजा गोहाना निवासी राजेन्द्रसिंह रावत, ब्यावर सेंदड़ा रोड निवासी जसवंत सिंह रावत को गिरफ्तार किया। मस्तान की निशानदेही पर ताम्बा खरीद का आरोपी पाली खटिकों का बास जंगीवाड़ा निवासी राकेश कुमार खटीक को गिरफ्तार किया। पुलिस ने आरोपी से चोरी का माल भी बरामद किया।

पहले 36 टन लोहा किया खुर्दबुर्द

पुलिस पड़ताल में चालक रसूल काठात ने अन्य राज्यों में भी इसी तरीके से वारदात करना स्वीकार किया। उसने बताया कि सितम्बर 2020 में पश्चिम बंगाल में दुर्गापुरा इलाके से ग्रिस पार्क से अपने ट्रेलर में करीब 36 टन लोहे का सरिया भरा था। जिसको उसने लूट की वारदात होना बताते हुए खुर्दबुर्द कर दिया।

suresh bharti Desk
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned