अगस्त में मिलेगी किशनगढ़ Airport से फ्लाइट, पूरे देश से होगी कनेक्टिविटी

अगस्त में मिलेगी किशनगढ़ Airport से फ्लाइट, पूरे देश से होगी कनेक्टिविटी
flights from kishangarh Airport august 2017

raktim tiwari | Updated: 16 Mar 2017, 05:54:00 AM (IST) Ajmer, Rajasthan, India

जुलाई में होगी फ्लाइट की ट्रायल। किशनगढ़ एयरपोर्ट से देश के सभी हिस्सों के लिए उपलब्ध होगी फ्लाइट।

शिक्षा व पंचायतराज राज्यमंत्री वासुदेव देवनानी ने कहा कि किशनगढ़ एयरपोर्ट से विमान की पहली उड़ान अगस्त माह में ही शुरू होगी और ट्रायल लैंडिंग जुलाई में। देवनानी ने निर्माणाधीन एयरपोर्ट का निरीक्षण कर सुरक्षा बंदोबस्त एवं यात्री सुविधाओं की जानकारी ली। 

इस मौके पर देवनानी ने कहा कि सभी ग्रामीणों से समझाइश की जा चुकी है। जिनके पास पट्टे नहीं हैं उनसे भी समझाइश के प्रयास किए जाएंगे। एयरपोर्ट निर्माण को लेकर केंद्र सरकार, राज्य सरकार एवं एयरपोर्ट अथॉरिटी का यह अजमेर जिले के लिए ड्रीम प्रोजेक्ट है।

देवनानी निरीक्षण के लिए एयरपोर्ट पहुंचे। उन्होंने टर्मिनल भवन एवं वॉच टावर, रन-वे, चारदीवारी एवं अन्य निर्माण कार्यों का जायजा लिया। साथ ही उन्होंने महाप्रबंधक संजीव जिंदल से निर्माण संबंधित जानकारियां ली और 15 अगस्त से शैड्यूल फ्लाइट शुरू करने के लिए प्रयास करने का आग्रह किया।

 जिंदल ने उन्हें भारतीय विमानपत्तन प्राधिकरण की ओर से किए जा रहे सामाजिक सरोकार के कार्यों की भी जानकारी दी। साथ ही सरकारी स्कूलों में बच्चों का नामांकन बढ़ाने के लिए किए जा रहे प्रयासों के बारे में बताया।

देवनानी ने पर्यावरण संरक्षण के लिए आनासागर झील के संरक्षण के लिए भी कार्य करने को लेकर जिंदल से एयरपोर्ट अथॉरिटी की ओर से सहयोग करने को लेकर चर्चा की। 

देवनानी ने परिसर में पौधरोपण भी किया। इसके बाद वे जयपुर रवाना हो गए। इस अवसर पर एच. जी. मीणा, भूपेन्द्र कुमार, टी. आर. मीणा, एम. पी. तिवारी, पंकज अग्रवाल, संजय कुमार, भूपेन्द्र यादव, सी. एस. सैनी, मनीष जोनवाल, राजेन्द्र आदि मौजूद थे।

विकास को लगेंगे पंख

हवाई अड्डा शुरू होने से अजमेर ही नहीं आस-पास के दूसरे जिलों के विकास को भी नई उड़ान मिलेगी। किशनगढ़ में मंदी के शिकार मार्बल उद्योग को नई जान मिलने की उम्मीद है। वहीं अन्य जिले के अन्य उद्योगों और पर्यटन को भी गति मिलेगी। बांदरसिंदरी स्थित राजस्थान केंद्रीय विश्वविद्यालय सहित क्षेत्र के शैक्षिक विकास में मदद मिलेगी। 

अजमेर दरगाह शरीफ और तीर्थ राज पुष्कर आने वाले श्रद्धालुओं के लिए यातायात सुलभ होगा और पर्यटन को प्रोत्साहन मिलेगा। वहीं ब्यावर के सीमेंट और अन्य उद्योगों, मकराना के मार्बल उद्योग का भी विकास होगा। 

साथ ही पाली, नागौर, भीलवाड़ा जिले के विकास को भी मदद मिलेगी। रीजनल एयर कनेक्टविटी के अंतर्गत जोधपुर, दिल्ली, कोटा, उदयपुर और जयपुर से हवाई संपर्क बढ़ेगा। शुरुआत में 75 सीटर क्षमता वाले एटीआर 72 और क्यू 400 छोटे विमानों की आवाजाही होगी।

हवाई अड्डा निर्माण कार्य : एक नजर

- भूमि पूजन : सितम्बर 2013


- मुख्य अतिथि : तत्कालीन प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह

-क्षेत्रफल : 788 एकड़


-स्वीकृत राशि : 180 करोड़ रुपए

-लागत : 125 करोड़ से अधिक


-रन-वे : 2 किलोमीटर लम्बाई व 45 मीटर चौड़ाई

-राज्य सरकार ने मुआवजा बांटा : 54 करोड़ रुपए


-बिजली लाइन : 2 करोड 30 लाख।

-बड़े शहरों से कनेक्टीविटी : दिल्ली, कोटा, जोधपुर, उदयपुर एवं जयपुर।

Show More

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned