चार हजार परिवारों को मिल सकेगा सीवर लाइन कनेक्शन

दो साल से कनेक्शन का था इंतजार, हाइकोर्ट से परिषद के पक्ष में आया निर्णय अब परिषद करेगी खुद के स्तर पर टैंडर

चार से सीवर कनेक्शन का इंतजार कर रहे चार हजार परिवारों को अब राहत मिलेगी। हाइकोर्ट के निर्णय के बाद इन उपभोक्ताओं को शीघ्र ही सीवर कनेक्शन मिल सकेंगे। इसके लिए नगरपरिषद ने प्रक्रिया शुरू कर दी है। फिलहाल शहर में 11 हजार सीवर उपभोक्ता हैं। जिला मुख्यालय पर लाइन डाले जाने के बावजूद भी चार हजार उपभोक्ताओं को इसका लाभ नहीं मिल पा रहा था।

By: Dilip

Published: 01 Mar 2021, 11:33 PM IST

धौलपुर. चार से सीवर कनेक्शन का इंतजार कर रहे चार हजार परिवारों को अब राहत मिलेगी। हाइकोर्ट के निर्णय के बाद इन उपभोक्ताओं को शीघ्र ही सीवर कनेक्शन मिल सकेंगे। इसके लिए नगरपरिषद ने प्रक्रिया शुरू कर दी है। फिलहाल शहर में 11 हजार सीवर उपभोक्ता हैं। जिला मुख्यालय पर लाइन डाले जाने के बावजूद भी चार हजार उपभोक्ताओं को इसका लाभ नहीं मिल पा रहा था।

क्या है मामला
शहर में आरयूआईडीपी की ओर से सीवर लाइन डाली गई थी, लेकिन कनेक्शन के लिए नगर परिषद को जिम्मेदारी सौंप दी। इसकी एवज में नगर परिषद को राशि भी हस्तांतरित भी की थी। इस पर नगर परिषद ने दिविजा कंस्ट्रक्शन कम्पनी को पन्द्रह हजार सीवर कनेक्शन करने के लिए ठेका दे दिया लेकिन कम्पनी ने केवल 11 हजार ही सीवर कनेक्शन किए थे। इसके बाद उसने कनेक्शन करना बंद कर दिया। इस पर नगर परिषद ने उसे कई बार नोटिस भी दिए। परिषद कनेक्शन कराने के लिए प्रयास करती रही। इस पर नोटिस के अलावा जुर्माना राशि भी लगा दी। लेकिन फिर भी कार्य नहीं किया और उल्टे कम्पनी जुर्माने के विरोध में हाइकोर्ट में चली गई। कम्पनी का तर्क था कि कई कनेक्शन असमतल हैं या फिर व्यवस्थित नहीं हैं। कई महीनों तक चली इस लड़ाई में अब नगरपरिषद की जीत हुई। हाइकोर्ट ने नगरपरिषद को कनेक्शन करने के लिए स्वतंत्र छोड़ दिया है। कम्पनी के खर्चे पर कनेक्शन करने के आदेश दिए हैं। इसके बाद अब नगर परिषद ने टैंडर निकालने के लिए प्रक्रिया शुरू कर दी है।

हो रही थी परेशानी...
शहर में नगरपरिषद को पन्द्रह हजार कनेक्शन करने थे। लेकिन 11 हजार कनेक्शन ही कर पाई। इस कारण शेष रहे चार हजार उपभोक्ताओं को परेशानी हो रही थी। वहीं नगर परिषद को भी नालों तथा सैप्टिक टेंकों को लेकर परेशानी का अनुभव हो रहा था। उपभोक्ता भी नगर परिषद के चक्कर लगा रहे थे।

मुफ्त में होंगे कनेक्शन, लगेगा केवल आवेदन शुल्क...
नगर परिषद की ओर से शहर में नि:शुल्क कनेक्शन किए जा रहे थे। अब भी शेष चार हजार उपभोक्ताओं को नि:शुल्क कनेक्शन किया जाएगा। इसके लिए केवल 500 रुपए आवेदन शुल्क लिया जाएगा। जबकि सीवर कनेक्शन की शुुरुआत में एक -एक उपभोक्ता को करीब पांच हजार रुपए का भुगतान करना पड़ रहा था।

इनका कहना है
नगर परिषद क्षेत्र में निजी कम्पनी को पन्द्रह हजार सीवर कनेक्शन करने थे, लेकिन कम्पनी ने 11 हजार कनेक्शन ही किए थे। इसके बाद अब हाइकोर्ट ने परिषद को स्वतंत्र रूप से कनेक्शन देने संबंधी निर्णय दिया है। इसकी प्रक्रिया शुरू कर दी है। इससे अब शीघ्र ही शेष चार हजार उपभोक्ताओं को राहत मिलेगी।

सौरभ जिंदल, आयुक्त, नगरपरिषद, धौलपुर।

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned