scriptFraud of 3.5 lakhs by revealing the identity of the police officer | पुलिस अधिकारी की पहचान बताकर साढ़े तीन लाख की धोखाधड़ी | Patrika News

पुलिस अधिकारी की पहचान बताकर साढ़े तीन लाख की धोखाधड़ी

पम्प व्यवसायी ने दर्ज करवाया आदर्शनगर थाने में मुकदमा, आरोपी ठेकेदार की तलाश तेज

अजमेर

Published: June 09, 2022 03:46:20 pm

अजमेर. पुलिस अधिकारी की पहचान बताकर पेट्रोल पम्प संचालक से साढ़े तीन लाख रुपए की डीजल लेकर भुगतान नहीं किया जाने का मामला मामला सामने आया है। पम्प संचालक ने आरोपी के खिलाफ आदर्शनगर थाने में धोखाधड़ी व अमानत में ख्यानत का मामला दर्ज करवाया। खास बात यह है कि आदर्शनगर थाने में दर्ज मामले में अनुसंधान भी उसी पुलिस अफसर को सौंपा गया है जिसकी पहचान बताकर पम्प व्यवसायी से डीजल की रकम हड़पी गई है।
पुलिस अधिकारी की पहचान बताकर साढ़े तीन लाख की धोखाधड़ी
पुलिस अधिकारी की पहचान बताकर साढ़े तीन लाख की धोखाधड़ी
पुलिस के अनुसार परबतपुरा बाइपास स्थित खालसा फिलिंग स्टेशन के संचालक सुरेन्द्रसिंह दुआ ने रिपोर्ट दी कि गतवर्ष 27 सितम्बर को पेट्रोल पम्प पर छगनलाल चौधरी नाम का व्यक्ति आया। उसने अपने आपको आदर्शनगर थाने में तैनात एसआई कन्हैयालाल का परिचित बताते हुए खुदको ए क्लास कॉन्ट्रेक्टर बताया। उसने कहा कि उसका ठेका मदारपुरा स्टेशन के पास रेलवे लाइन के नीचे गिट्टी बिछाने का काम चल रहा है और उस कार्य के लिए वाहन व मशीन में साइड पर डीजल की जरूरत रहती है। वह उनके पम्प से उधार लेना चाहता है। उधार का भुगतान सात-सात दिन के अन्तराल पर करता रहेगा। इस क्रम में छगनलाल 28 सितम्बर 2021 से 8 अक्टूबर 2021 तक 4 लाख 78 हजार 113 रुपए का डीजल वाहनों में भरवा ले गया। छगन लाल ने 8 अक्टूबर को 021 को 50 हजार व 30 सितम्बर को 20 हजार का भुगतान पेटीएम से किया। उसके बाद तीन लाख 58 हजार 113 रुपए का भुगतान शेष रहा।
टालमटोल करता रहा
सुरेन्द्र सिंह दुआ ने रिपोर्ट में बताया कि भुगतान मांगने पर भी छगनलाल चौधरी काफी दिन तक टालमटोल करता रहा। फिर उसने पम्प पर आना व मोबाइल फोन उठाना भी बंद कर दिया। उसके दिए गए पते मदारपुरा नई बस्ती पानी की टंकी के पास सम्पर्क करने पर जानकारी में आया कि वह तो वहां से चार माह पहले मकान खाली करके अन्यत्र रहने चला गया है। दुआ ने सब जानकारी उप निरीक्षक कन्हैयालाल को दी लेकिन उसका बकाया रकम का भुगतान नहीं मिला। ना ही छगनलाल चौधरी उसका फोन उठा रहा है। उसकी फर्म के लेटरपैड पर सात दिन में डीजल बिल के भुगतान की बात लिखकर दी थी। आदर्शनगर थाने में दर्ज धोखाधड़ी व अमानत में ख्यानत के मामले की जांच भी उप निरीक्षक कन्हैयालाल को सौंपी गई है।

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

Weather. राजस्थान में आज 18 जिलों में होगी बरसात, येलो अलर्ट जारीसंस्कारी बहू साबित होती हैं इन राशियों की लड़कियां, ससुराल वालों का तुरंत जीत लेती हैं दिलशुक्र ग्रह जल्द मिथुन राशि में करेगा प्रवेश, इन राशि वालों का चमकेगा करियरउदयपुर से निकले कन्हैया के हत्या आरोपी तो प्रशासन ने शहर को दी ये खुश खबरी... झूम उठी झीलों की नगरीजयपुर संभाग के तीन जिलों मे बंद रहेगा इंटरनेट, यहां हुआ शुरूज्योतिष: धन और करियर की हर समस्या को दूर कर सकते हैं रोटी के ये 4 आसान उपायछात्र बनकर कक्षा में बैठ गए कलक्टर, शिक्षक से कहा- अब आप मुझे कोई भी एक विषय पढ़ाइएUdaipur Murder: जयपुर में एक लाख से ज्यादा हिन्दू करेंगे प्रदर्शन, यह रहेगा जुलूस का रूट

बड़ी खबरें

Eknath Shinde Property: मुख्यमंत्री एकनाथ शिंदे से 12 गुना ज्यादा अमीर हैं शिवसेना प्रमुख उद्धव ठाकरे, जानें किसके पास कितनी संपत्तिपश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री के आवास में घुसने वाले शख्स ने परिसर को समझ लिया था कोलकाता पुलिस का मुख्यालयबीजेपी नेता कपिल मिश्रा को मिली जान से मारने की धमकी, ईमेल में लिखा - 'हम तुम्हें जीने नहीं देंगे'हैदराबाद के एक कार्यक्रम में भाग लेने पहुंचे RCP सिंह तो BJP में शामिल होने की लगने लगी अटकलें, भाजपा ने कही ये बातप्रदेश के भोपाल, इंदौर समेत 11 नगर निगमों में मतदान 6 को, चुनावी शोर थमाकानपुर मेट्रो: टनल बनाने का काम शुरू, देश को समर्पित करने के विषय में मिली ये जानकारीउदयपुर कन्हैया हत्याकांड का वीडियो सोशल मीडिया पर पोस्ट करने पर युवक गिरफ्तारवरिष्ठता क्रम सही करने आरक्षकों की याचिका पर विभाग को 21 दिन में निर्णय लेने का आदेश
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.