दुष्कर्म पीडि़ता किशोरी ने दी आत्महत्या की चेतावनी

दुष्कर्म पीडि़ता किशोरी ने दी आत्महत्या की चेतावनी

Kanharam Mundiyar | Publish: May, 19 2019 12:29:56 AM (IST) | Updated: May, 19 2019 12:29:57 AM (IST) Ajmer, Ajmer, Rajasthan, India

नागौर पुलिस पर मामला दबाने का आरोप

जमेर.

एक ओर सरकार जहां दुष्कर्म के मामले में पीडि़ताओं को राहत प्रदान करने की बात कह रही है, वहीं अजमेर रेंज के नागाौर जिले में पीडि़ता ने जांच अधिकारी पर राजनीतिक दबाव के चलते एकतरफा कार्रवाई का आरोप लगाते हुए आत्महत्या करने की चेतावनी दी है। इस संबंध में पीडि़ता ने नागौर पुलिस अधीक्षक को पत्र लिखा है।
पीडि़ता ने पत्र में बताया कि नागौर जिले के पादूकलां थानाक्षेत्र के लाम्पोलाई गांव में 14 जनवरी को योगेश उर्फ राजूराम, पूराराम और गोदाराम ने उसके घर में घुस कर बलात्कार किया। आरोपियों ने उसके अश्लील वीडियो बना लिए, जिनके जरिए उसे ब्लैकमेल करते थे। पुलिस को शिकायत देने के बाद भी उसे कई चक्कर कटवाए गए और तीन दिन बाद मामला दर्ज किया। उसने आरोप लगाया कि मामले के जांच अधिकारी राजनीतिक दबाव के चलते परिवार को ही फंसा रहे हैं, जबकि आरोपी खुलेआम घूम रहे हैं। पीडि़ता ने जांच अधिकारी को तुरंत प्रभाव से निलम्बित करने और न्याय दिलाने की मांग की है।

पुलिस नहीं कर रही सहयोग-

पीडि़ता के परिजन का आरोप है कि मामले में अधिकारियों से संपर्क किया, लेकिन ऐसे संगीन मामले में भी उनका रवैया सहयोगात्मक नहीं रहा।


यह है मामला-

पीडि़ता ने कोर्ट में दिए बयानों में बताया कि पादूकलां थाना क्षेत्र के लाम्पोलाई में १४ जनवरी की रात को राजूराम, पूराराम निवासी बग्गड़ व गोदाराम ने घर में घुसकर बलात्कार किया। शोर मचाने पर दो आरोपी भाग गए। राजूराम दूसरे कमरे में चला गया उसका गेट बंद कर दिया। उसने गेट नहीं खोला। गेट खोला तो आरोपी फंदे पर लटका मिला। उधर युवक के परिजन ने पीडि़ता के परिवार वालों पर योगेश उर्फ राजूराम की हत्या का आरोप लगाते हुए थाने में रिपोर्ट दी थी।

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned