scriptGangster Lawrence Vishnoi has been visiting Ajmer jail for six years. | छह साल से अजमेर जेल आता-जाता रहा है गैंगस्टर लॉरेन्स विश्नोई | Patrika News

छह साल से अजमेर जेल आता-जाता रहा है गैंगस्टर लॉरेन्स विश्नोई

सात माह से अजमेर में नहीं है गैंगस्टर लॉरेन्स विश्नोई, अजमेर की हाई सिक्योरिटी जेल के अलावा जोधपुर, भरतपुर, जयपुर जेल में रह चुका है लॉरेन्स

 

अजमेर

Updated: June 01, 2022 03:00:03 am

अजमेर. पंजाब के गायक व कांग्रेसी नेता सिद्धू मूसेवाला की हत्या के बाद गैंगस्टर लॉरेन्स विश्नोई व उसकी गैंग फिर से चर्चा में है। खास बात यह है कि लम्बे समय तक अजमेर की हाई सिक्योरिटी जेल की सलाखों के पीछे गुजारने वाला लॉरेन्स 7 माह से तिहाड़ की एक नम्बर जेल में है। इससे पहले वह छह साल से अजमेर आता-जाता रहा।
छह साल से अजमेर जेल आता-जाता रहा है गैंगस्टर लॉरेन्स विश्नोई
छह साल से अजमेर जेल आता-जाता रहा है गैंगस्टर लॉरेन्स विश्नोई
गैंगस्टर लॉरेन्स विश्नोई को जून 2017 में जोधपुर सेन्ट्रल जेल से घूघरा स्थित हाई सिक्योरिटी जेल शिफ्ट किया था। यहां जेल में पहुंचने के साथ ही लॉरेन्स और उसके दो साथी मोबाइल फोन सिमकार्ड लेकर पहुंचे लेकिन जेल के प्रवेश द्वार पर तलाशी में सिमकार्ड बरामद हो गया। हालांकि लॉरेन्स और उसका साथी न्यायालय से बरी हो गए। इसके बाद से लॉरेन्स का अजमेर हाई सिक्योरिटी जेल आना-जाना लगा रहा।
इधर-उधर गुजारा एक साल

छह साल में कोविड की दूसरी लहर के दौरान 2021 में लॉरेन्स विश्नोई देशभर की जेल में इधर-उधर तारीख पेशी पर घूमता रहा। नवम्बर 2020 में भरतपुर की सेवर जेल से वापस हाई सिक्योरिटी जेल भेजने के बाद उसे पंजाब फाजिल्का, भरतपुर व यूपी के मेरठ, जयपुर सेन्ट्रल जेल और फिर 3 अक्टूबर 2022 में अजमेर के हाई सिक्योरिटी जेल में लाया गया। जहां से 27 दिन बाद उसे पुन: 31 अक्टूबर को दिल्ली तिहाड़ जेल में शिफ्ट कर दिया।
पहले सिमकार्ड-फिर मोबाइल फोन

-घूघरा हाई सिक्योरिटी जेल में पहली मर्तबा लॉरेन्स अपने दो साथियों के साथ लाया गया था। तब लॉरेन्स और उसके साथियों से मोबाइल सिमकार्ड बरामद किया लेकिन जेल व पुलिस प्रशासन प्रकरण को कोर्ट में आरोप साबित नहीं कर सके। लॉरेन्स व उसके साथी प्रकरण में बरी हो गए।
-नवम्बर 2020 में भरतपुर सेवर जेल से शिफ्ट किए गए लॉरेन्स विश्नोई के बैग की तत्कालीन जेल अधीक्षक प्रीति चौधरी ने बैग स्केनर मशीन से तलाशी ली। बैग में बने विशेष पॉकेट में कॉर्बन पेपर में लपेटकर रखा मल्टी मीडिया मोबाइल फोन बरामद किया। प्रकरण सिविल लाइन थाने में विचाराधीन है।
-पेट्रोल पम्प व्यवसायी से रंगदारी वसूलने के लिए पहले फायरिंग और फिर विदेश में बैठे गुर्गों से धमकाने के मामले में पंजाब फाजिल्का जेल में सजा काट रहे भूपेन्द्रसिंह ने वारदात अंजाम देना कबूला। पम्प व्यवसायी को फिरौती के लिए वाइबर कॉल के जरिए फिर से धमकाया गया। पुलिस पड़ताल में विदेश में बैठे लॉरेन्स विश्नोई के गुर्गों के नाम सामने आए थे।
फैक्ट फाइल

जून 2017 जोधपुर से हाई सिक्योरिटी जेल अजमेर शिफ्ट

जनवरी 2018 अजमेर से भरतपुर की सेवर जेल में शिफ्ट

नवम्बर 2020 भरतपुर से हाई सिक्योरिटी जेल आया

नवम्बर 2020 के बाद पंजाब, जयपुर, मेरठ, दिल्ली, अजमेर, तिहाड़ जेल
अक्टूबर 2022 को अजमेर हाई सिक्योरिटी आया

31 अक्टूबर 2022 को अजमेर से तिहाड़ एक नम्बर में शिफ्ट

इनका कहना है....

करीब सात माह से लॉरेन्स विश्नोई अजमेर में नहीं है। उसको यहां से तिहाड़ जेल में शिफ्ट कर दिया गया है।
पारसमल जांगिड़, जेल अधीक्षक हाई सिक्योरिटी जेल

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

जयपुर में एक स्वीमिंग पूल में रात का सीसीटीवी आया सामने, पुलिसवालें भी दंग रह गएकचौरी में छिपकली निकलने का मामला, कहानी में आया नया ट्विस्टइन 4 राशियों के लोग होते हैं सबसे ज्यादा बुद्धिमान, देखें क्या आपकी राशि भी है इसमें शामिलचेन्नई सेंट्रल से बनारस के बीच चली ट्रेन, इन स्टेशनों पर भी रुकेगीNumerology: इस मूलांक वालों के पास धन की नहीं होती कमी, स्वभाव से होते हैं थोड़े घमंडीबुध जल्द अपनी स्वराशि मिथुन में करेंगे प्रवेश, जानें किन राशि वालों का होगा भाग्योदयधन कमाने की योजना बनाने में माहिर होती हैं इन बर्थ डेट वाली लड़कियां, दूसरों की चमका देती हैं किस्मतCBSE ने बदला सिलेबस: छात्र अब नहीं पढ़ेगे फैज की कविता, इस्लाम और मुगल साम्राज्य सहित कई चैप्टर हटाए

बड़ी खबरें

Maharashtra Political Crisis: क्या फ्लोर टेस्ट में बच पाएगी MVA सरकार! यहां समझे पूरा गणितMaharashtra Political Crisis: शिवसेना में बगावत के बाद अब उपद्रव का डर! पोस्टर वॉर के बीच एकनाथ शिंदे के गढ़ ठाणे में धारा 144 लागूMaharashtra Political Crisis: नवनीत राणा ने की महाराष्ट्र में राष्ट्रपति शासन लगाने की मांग, बोलीं- उद्धव ठाकरे की गुंडागर्दी खत्म होनी चाहिएBPSC Paper Leak: पेपर लीक मामले में गिरफ्तार हुए JDU नेता शक्ति कुमार, सबसे पहले पेपर स्कैन कर WhatsApp पर था भेजाAmarnath Yatra: अमरनाथ यात्रा से 4 दिन पहले प्रशासन अलर्ट, सुरक्षा व्यवस्था को लेकर उठाया बड़ा कदमMumbai News Live Updates: ठाणे के बाद अब मुंबई में धारा 144 लागू, बागी एकनाथ शिंदे के आवास की भी बढ़ाई गई सुरक्षाMaharashtra Political Crisis: एक्शन में शिवसेना! अयोग्य करार देने के लिए डिप्टी स्पीकर को भेजा 4 और MLA के नाम, 16 बागियों पर भी कार्रवाई की तैयारीAmit Shah on 2002 Gujarat Riots: गुजरात दंगों पर SC के फैसले के बाद बोले अमित शाह, PM मोदी को इस दर्द को झेलते हुए देखा है
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.