मिल गई भावना, पायल की नहीं हुई शिनाख्त

अधजली लाश मिलने के बाद अलवर गेट थाने में दर्ज हुई थी गुमशुदगी

By: manish Singh

Published: 21 Nov 2020, 11:54 AM IST

अजमेर. नसीराबाद के निकट राजमार्ग पर मृत मिली पायल की 16 दिन बाद भी शिनाख्त नहीं होने के साथ हत्यारों का सुराग नहीं लग सका। वहीं अलवर गेट थाना क्षेत्र से लापता हुई भावना उर्फ पायल शुक्रवार को पुलिस के सामने आ गई। भावना पति से अलगाव के बाद शहर के एक रेडीमेड गारमेंट शोरूम में काम कर पेइंग गेस्ट के रूप में गुजर-बसर कर रही थी।

थानाप्रभारी सुनीता गुर्जर ने बताया कि धाननाड़ी तानाजीनगर से गत एक नवम्बर को लापता हुई भावना उर्फ पायल पत्नी भरत कुमार शहर के एक रेडीमेड गारमेंट शोरूम में काम करने के बाद तोपदड़ा इलाके में एक घर में बतौर पेइंग गेस्ट रह रही थी। पुलिस ने शुक्रवार को भावना को थाने लाने के बाद उसके परिजनों को बुलाया।

पति से हुआ था विवाद
जहां पूछताछ में उसने पति से विवाद के बाद घर से निकलने की बात बताई। उसने 7 हजार रुपए प्रतिमाह की शोरूम में नौकरी कर ली जबकि पांच हजार रुपए प्रतिमाह में पेइंग गेस्ट बनकर रहने लगी। दो दिन पहले उसको तलाशते हुए उसका पति भरतकुमार शोरूम पर पहुंच गया।

पति पर था तलाश का दबाव!
गौरतलब है कि भावना उर्फ पायल के लापता होने पर बड़ी बहन की ओर से गुमशुदगी दर्ज किए जाने के बाद पुलिस की ओर से भरत पर पत्नी को तलाशने का दबाव था। हालांकि भावना के बयान के बाद उसे परिजन के सुपुर्द कर दिया। वैशाली नगर शांतिपुरा निवासी भावना उर्फ पायल की बड़ी बहन ने संदेह जाहिर करते हुए राजमार्ग पर मिले शव को पहचान का दावा किया। इसके बाद 9 नवम्बर को अलवर गेट थाने में गुमशुदगी रिपोर्ट दर्ज करवाई थी।

अब पायल की शिनाख्त बाकी

भावना उर्फ पायल के लापता होने और बड़ी बहन के दावे के बाद नसीराबाद सदर थाना पुलिस ने उसकी मां से मृतका का डीएनए टेस्ट करवाने की तैयारी कर ली थी। पुलिस ने राजमार्ग पर मिले शव का मेडिकल बोर्ड से पोस्टमार्टम कराने के साथ डीएनए के लिए सैम्पल सुरक्षित रखवाया था। भावना उर्फ पायल के नहीं मिलने पर पुलिस उसकी बूढ़ी मां से डीएनए मिलाने की तैयारी कर ली थी।

manish Singh Reporting
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned