बाइक को बजरी से भरी ट्रेक्टर-ट्रॉली ने मारी टक्कर, दो गंभीर घायल

राजस्थान-उत्तर प्रदेश के सीमावर्ती गांव की घटना , घायल सैपऊ में भर्ती के बाद रैफर

.सुप्रीम कोर्ट ने बजरी(रेता) निकासी पर पूर्णतया रोक के कड़े बंदोबस्त के बावजूद धौलपुर में बजरी माफिया बेखौफ होकर बजरी खनन और परिवहन से नहीं चूक रहे है। यहां मंगलवार को धौलपुर-भरतपुर सड़क मार्ग पर राजस्थान-उत्तर प्रदेश के सीमावर्ती गांव में बजरी से भरे एक ट्रेक्टर-ट्रॉली ने राहगीर बाइक सवार भाई-बहन व चाचा को टक्कर मार दी।

By: Dilip

Updated: 17 Mar 2021, 12:00 AM IST

धौलपुर.सुप्रीम कोर्ट ने बजरी(रेता) निकासी पर पूर्णतया रोक के कड़े बंदोबस्त के बावजूद धौलपुर में बजरी माफिया बेखौफ होकर बजरी खनन और परिवहन से नहीं चूक रहे है। यहां मंगलवार को धौलपुर-भरतपुर सड़क मार्ग पर राजस्थान-उत्तर प्रदेश के सीमावर्ती गांव में बजरी से भरे एक ट्रेक्टर-ट्रॉली ने राहगीर बाइक सवार भाई-बहन व चाचा को टक्कर मार दी। घटना में बाइक सवार चाचा-भतीजा गंभीर रूप से घायल हो गए। सूचना पर मौके पर पहुंची पुलिस गंभीर रूप से घायलों को इलाज के लिए सैपऊ अस्पताल में भर्ती कराया गया। हालत बिगडऩे पर घायलों को धौलपुर भेजा गया, यहां से इन्हें जयपुर के लिए रैफर कर दिया गया।
जानकारी के अनुसार भरतपुर-धौलपुर मार्ग पर राजस्थान-उत्तर प्रदेश के सीमावर्ती गांव में बजरी से भरे एक ट्रेक्टर-ट्रॉली मंगलवार सुबह बाइक को टक्कर मार दी। ट्रेक्टर-ट्रॉली सवार माफियाओं ने ट्रेक्टर और ट्रॉली को अलग करने का प्रयास भी किया, लेकिन लोगों के भीड़ को बढ़ता देख माफिया मौके से भाग निकले।

सूचना मिलने पर मौके पर पहुंची पुलिस ने बाइक सवार घायलों को सैपऊ अस्पताल में भर्ती कराया। प्राारंभिक पड़ताल में सामने आया है घायल भरतपुर के गांव बरसों निवासी गोपी सिंह पुत्र छत्तर सिंह (४५) संजय कुमार पुत्र गोपाल सिंह (२५) पूनम कुमारी पुत्री गोपाल सिंह (१९) है। बाइक सवार भाई-बहन और चाचा मंगलवार सुबह अपने गांव से चलकर धौलपुर में अपनी रिश्तेदारी में शादी समारोह में शामिल होने आ रहे थे।
सैपऊ में दिनभर रहता है बजरी ट्रेक्टर-ट्रॉली आवागमन

लोगों ने बताया कि प्रतिबंधित बजरी के ट्रेक्टरों का कस्बा आबादी क्षेत्र व हाइवे पर सैपऊ क्षेत्र में बड़ी संख्या में तांता लगा रहता है। ऐसे में हर समय मार्ग पर दुर्घटना होने की संभावना लगी रहती है।

हर समय हादसे की संभावना
उल्लेखनीय है कि गत २१ फरवरी को बजरी से भरे ट्रेक्टर-ट्रॉली की टक्कर से जीजा साले घायल हो गए थे। इससे पहले गत २१ जनवरी को दिनदहाड़े कौलारी थाना इलाके के बसई नबाव-मनियां सड़क मार्ग पर चंबल बजरी से भरे एक ट्रेक्टर-ट्रॉली ने बाइक सवार को कुचल दिया। घटना के बाद स्थानीय लोगों ने भीड़ एकत्र हो गई और बजरी ट्रेक्टर चालक को पकड़ कर पुलिस को सौंप दिया। इसके बाद पुलिस ने यहां कड़े बंदोबस्त किए जाने के दावे भी किया, लेकिन कुछ दिनों बाद स्थिति पहले जैसी ही हो गई।

पुलिस चौकी के सामने दो को कुचला, मौत
गत ३ जनवरी को प्रतिबंधित बजरी से भरे ट्रेक्टर-ट्रॉली ने बाइक सवार एक महिला व एक युवक को कुचल दिया। जिनकी मौके पर ही मौत हो गई थी। कुछ समय के लिए पुलिस ने सख्ती बाद में हालात जस के तस हो गए

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned