बिजली चोरों के खिलाफ जारी रहेगा हल्लाबोल : भाटी

तीसरी बार कार्यग्रहण करने पर प्रबन्ध निदेशक का अभिनन्दन
पेश किया दो साल का रिपोर्ट कार्ड

By: bhupendra singh

Published: 15 Feb 2021, 07:12 PM IST

अजमेर. अजमेर विद्युत वितरण निगम ajmer discom के प्रबन्ध निदेशक वी.एस.भाटी ने कहा कि डिस्कॉम के 11 जिलों में बिजली चोरों के खिलाफ अभियान जारी रहेगा। निगम बिजली चोरी पर जीरो टॉलरेंस की नीति पर काम कर रहा है। हम अपनी विद्युत आपूर्ति सेवाओं को और बेहतर बनाएंगे। प्रबन्ध निदेशक भाटी तीसरी बार कार्यकाल बढऩे के बाद वे सोमवार को डिस्कॉम मुख्यालय पहुंचे। यहां अधिकारियों और कर्मचारियों द्वारा उनका अभिनन्दन किया। इस अवसर पर भाटी ने दो साल के कामकाज और उपलब्धियों का रिपोर्ट कार्ड भी पेश किया।
जनप्रतिनिधियों से लिया फीडबैक
निगम द्वारा विद्युत सप्लाई के संबंध में प्रतिदिन सरपंचों व जनप्रतिनिधियों से फ ीडबैक लिया जा रहा है अब तक 27 हजार 755 फ ीडबैक में से 27 हजार 148 यानि 98 प्रतिशत सकारात्मक पाए गए। डिस्कॉम क्षेत्र में विभिन्न स्थानो पर 515 शिविरों का आयोजन कर उपभोक्ताओं को राहत दी गई। प्रबंध निदशक द्वारा आयोजित जनसुनवाई में उपभोक्ताओं के 707 प्रकरण का निस्तारण कर दिया गया।
8 जिलों में दिन में किसानों को बिजली
अजमेर, भीलवाड़ा, उदयपुर, चितौडगढ़, बांसवाडा, डुंगरपुर, राजसमंद, प्रतापगढ़ में कृषि उपभोक्ताओं को दिन के समय में विद्युत आपूर्ति प्रदान की जा रही है। सम्पूर्ण राजस्थान में दिन के समय कृषि उपभोक्ताओं को विद्युत आपूर्ति करने में अजमेर डिस्कॉम अग्रणी है। जनजातीय क्षेत्र में कृषि विद्युत आवेदकों के विद्युत कनेक्शन जारी किए जा रहे हैं। कृषि उपभोक्ताओं के लिए स्वैच्छिक भार वृद्धि योजना के तहत रिकॉर्ड 52 हजार 733 किसानों का 2 लाख 25 हजार 305 एचपी का विद्युत भार नियमित कर लाभान्वित किया गया।
छीजत न्यनतम स्तर पर
निगम की विद्युत छीजत 17.81 प्रतिशत से घटकर 12.88 प्रतिशत रह गई है। यह तीनों डिस्कॉम में न्यूनतम स्तर पर है। किसानों एवं आम उपभोक्ताओं को पिछले दो वर्षो में 47 हजार 387 कृषि,3 लाख 98 हजार 127 घरेलू, 33 हजार 351 व्यवसायिक विद्युत कनेक्शन एवं 3 हजार 222 औद्योगिक विद्युत कनेक्शन जारी किए गए। भाटी ने बताया कि नागौर जिले में चल रहे लगभग 6 हजार 500 अवैध कृषि विद्युत कनेक्शनों को कनेक्शन जारी किए गए। नागौर जिले की विद्युत छीजत में रिकॉर्ड 10.26 प्रतिशत की कमी दर्ज की गई है।
1.33 लाख चोरी के मामले पकड़े
डिस्कॉम क्षेत्र में सघन विद्युत सतर्कता जांच में 1 लाख 33 हजार 404 विद्युत चोरी के मामले पाए गए। इनका कुल राजस्व निर्धारण 307.64 करोड़ रहा। इसमें से 53 हजार 649 विद्युत चोरी के मामले विशेष सतर्कता जांच अभियान के अन्तर्गत पाए गए। गत दो वर्षो के दौरान डिस्कॉम क्षेत्र में 589 अवैध ट्रांसफ ार्मर मौके से हटाए गए।
इस अवसर पर निदेशक वित्त एम.के.गोयल निदेशक तकनीकी के.एस. सिसोदियासचिव प्रशासन एन.एल.राठी, मुख्य अभियंता एम.एल.मीणा,ए.के.जागेटिया,मुख्य लेखा नियंत्रक एस.एम.माथुर, मुख्य लेखाधिकारी बी.एल. शर्मा,मुख्य लेखाधिकारी एम.के.जैन कम्पनी सचिव नेहा शर्मा टीएटू एमडी प्रशांत पंवार एवं राजीव वर्मा सहित सभी अधिकारी एवं कर्मचारी मौजूद थे।

read more: पूर्व उप महापौर ने भू-कारोबारियों से खरीदी थी एडीए की जमीन

bhupendra singh Reporting
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned