scriptHardcore prisoners hunger strike | हार्डकोर बंदियों की भूख हड़ताल : हाई सिक्योरिटी जेल में चार की बिगड़ी तबीयत | Patrika News

हार्डकोर बंदियों की भूख हड़ताल : हाई सिक्योरिटी जेल में चार की बिगड़ी तबीयत

Patrika Exclusive-देर रात जेएलएन अस्पताल में करवाया भर्ती, पुलिस के कमांडों ने लिया सुरक्षा घेरे में

अजमेर

Published: March 31, 2022 04:14:10 am

अजमेर. घूघरा स्थित हाई सिक्योरिटी जेल में भूख हड़ताल पर बैठे हार्डकोर बंदियों में से चार की बुधवार रात तबीयत ज्यादा बिगड़ गई। जेल प्रशासन ने जिला पुलिस की मदद से उन्हें जवाहरलाल नेहरू अस्पताल में भर्ती करवाया। पुलिस के हथियारबंद कमांडों ने अस्पताल को सुरक्षा दृष्टि से कड़े सुरक्षा घेरे में ले लिया।
हार्डकोर बंदियों की भूख हड़ताल : हाई सिक्योरिटी जेल में चार की बिगड़ी तबीयत
हार्डकोर बंदियों की भूख हड़ताल : हाई सिक्योरिटी जेल में चार की बिगड़ी तबीयत
हार्डकोर बंदियों की भूख हड़ताल : हाई सिक्योरिटी जेल में चार की बिगड़ी तबीयतजवाहरलाल नेहरू अस्पताल के आपातकालीन इकाई में रात साढ़े 10 बजे अचानक सुरक्षाकर्मियों का जमावड़ा लग गया। कुछ देर बाद जिला पुलिस के कमांडों के साथ छवि शर्मा, सिविल लाइन थानाप्रभारी अरविन्दसिंह चारण चार हार्डकोर अपराधियों को लेकर पहुंचे। चारों को करीब दो घंटे तक आपातकालीन इकाई में प्राथमिक उपचार दिया। इसके बाद उनको अस्पताल के ही कैदी वार्ड में शिफ्ट कर दिया। प्रारंभिक पड़ताल में सामने आया कि चारों हार्डकोर अपराधी हाई सिक्योरिटी जेल में पिछले कुछ दिन से भूख हड़ताल पर हैं। बुधवार को उनकी तबीयत बिगड़ने व कमजोरी के चलते उन्हें जेल प्रशासन ने जेएलएन अस्पताल में भर्ती करवाने का निर्णय किया।
हार्डकोर बंदियों की भूख हड़ताल : हाई सिक्योरिटी जेल में चार की बिगड़ी तबीयतपुलिस ने गोपनीय रखे नाम

बीमार हुए चारों हार्डकोर कैदियों का नाम भी पुलिस सुरक्षा दृष्टि से गोपनीय रखा है। हालांकि पड़ताल में आया कि चार में तीन एक गैंग से है जो लम्बे समय से न्यायिक अभिरक्षा में चल रहे है जबकि चौथा हार्डकोर कुख्यात तस्कर है जो हाल ही में हाई सिक्योरिटी जेल पहुंचा है।
19 मार्च से भूख हड़ताल की हुई शुरुआत

हाई सिक्योरिटी जेल में हार्डकोर बंदियों में भूख हड़ताल की शुरुआत गत 19 मार्च से शुरू हुई। हार्डकोर कैदी नरेन्द्र सिंह उर्फ नन्दू रतन सिंह सबसे पहले 19 मार्च से अपनी मांग लेकर भूख हड़ताल पर बैठा। जेल प्रशासन ने डिस्पेंसरी चिकित्सकों की मदद से उसको इलाज दिया गया। नरेन्द्र सिंह के बाद ही अन्य बंदियों में भी अपनी मांगों को लेकर भूख हड़ताल शुरू कर दी। हालांकि जेल प्रशासन ने मामले में फिलहाल कोई जानकारी नहीं दी।
हार्डकोर बंदियों की भूख हड़ताल : हाई सिक्योरिटी जेल में चार की बिगड़ी तबीयत

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

जयपुर में एक स्वीमिंग पूल में रात का सीसीटीवी आया सामने, पुलिसवालें भी दंग रह गएकचौरी में छिपकली निकलने का मामला, कहानी में आया नया ट्विस्टइन 4 राशियों के लोग होते हैं सबसे ज्यादा बुद्धिमान, देखें क्या आपकी राशि भी है इसमें शामिलचेन्नई सेंट्रल से बनारस के बीच चली ट्रेन, इन स्टेशनों पर भी रुकेगीNumerology: इस मूलांक वालों के पास धन की नहीं होती कमी, स्वभाव से होते हैं थोड़े घमंडीबुध जल्द अपनी स्वराशि मिथुन में करेंगे प्रवेश, जानें किन राशि वालों का होगा भाग्योदयधन कमाने की योजना बनाने में माहिर होती हैं इन बर्थ डेट वाली लड़कियां, दूसरों की चमका देती हैं किस्मतCBSE ने बदला सिलेबस: छात्र अब नहीं पढ़ेगे फैज की कविता, इस्लाम और मुगल साम्राज्य सहित कई चैप्टर हटाए

बड़ी खबरें

Maharashtra Political Crisis: वडोदरा में आधी रात को देवेंद्र फडणवीस और एकनाथ शिंदे के बीच हुई थी मुलाकात, सुबह पहुंचे गुवाहाटीMaharashtra Political Crisis: शिंदे गुट के दीपक केसरक का बड़ा बयान, कहा- हमें डिसक्वालीफिकेशन की दी जा रही हैं धमकीMaharashtra Politics Crisis: शिवसेना की कार्यकारिणी बैठक खत्म, जानें कौन-कौन से प्रस्ताव हुए पारितTeesta Setalvad detained: तीस्ता सीतलवाड़ को गुजरात ATS ने लिया हिरासत में, विदेशी फंडिंग पर होगी पूछताछकर्नाटक में पुजारियों ने मंदिर के नाम पर बनाई फर्जी वेबसाइट, ठगे 20 करोड़ रुपएAmit Shah on 2002 Gujarat Riots: गुजरात दंगों पर SC के फैसले के बाद बोले अमित शाह, PM मोदी को इस दर्द को झेलते हुए देखा हैMaharashtra Political Crisis: वडोदरा में देवेंद्र फडणवीस और एकनाथ शिंदे के बीच हुई थी मुलाकात- रिपोर्ट'अग्निपथ' के विरोध में तेलंगाना के सिकंदराबाद में ट्रेन में आग लगाने वालों की वायरल हो रही वीडियो, पुलिस ने पहचान कर किया गिरफ्तार
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.