scriptHindi Day: Hindi flies high in Goverment teachers recruitment | Hindi Day: इंग्लिश को पीछे छोड़ रही हिन्दी, टीचर्स भर्ती में निकली आगे | Patrika News

Hindi Day: इंग्लिश को पीछे छोड़ रही हिन्दी, टीचर्स भर्ती में निकली आगे

राजस्थान लोक सेवा आयोग को दस साल में मिली कॉलेज-स्कूल शिक्षा की भर्तियों में हिन्दी भाषा के पद अधिक हैं।

अजमेर

Published: September 14, 2022 10:27:38 am

रक्तिम तिवारी.

राज्य में सरकारी शिक्षकों की भर्ती में हिन्दी भाषा ने अंग्रेजी को पीछे धकेलना शुरू कर दिया है। राजस्थान लोक सेवा आयोग को दस साल में मिली कॉलेज-स्कूल शिक्षा की भर्तियों में हिन्दी भाषा के पद अधिक हैं। यह हिन्दी के बढ़ते प्रभुत्व का परिचायक है।
स्कूल स्तर पर पहली से बारहवीं तथा कॉलेज और विश्वविद्यालय स्तर पर यूजी और पीजी स्तर पर हिंदी, अंग्रेजी और अन्य भाषाएं पढ़ाई जाती हैं। इनमें से माध्यमिक-उच्च माध्यमिक, संस्कृत शिक्षा स्कूल के प्राध्यापक और व्याख्याता तथा कॉलेज स्तर पर सहायक आचार्यों की भर्ती राजस्थान लोक सेवा आयोग करता है।
बीते वर्षों में मिली भर्तियों में पद
वरिष्ठ अध्यापक (प्रारंभिक) भर्ती-2012 : हिन्दी-1735, अंग्रेजी-1721
प्राध्यापक संस्कृत शिक्षा भर्ती-2013 : हिन्दी-815, अंग्रेजी-576
कॉलेज लेक्चरर-2014 : हिन्दी-69, अंग्रेजी-55
प्राध्यापक स्कूल शिक्षा भर्ती-2015 : हिन्दी-924, अंग्रेजी-626
प्राध्यापक (माध्यमिक) भर्ती-2015 : हिन्दी-3163, अंग्रेजी-860
वरिष्ठ अध्यापक (माध्यमिक) भर्ती-2016: हिन्दी-269, अंग्रेजी-259
वरिष्ठ अध्यापक (संस्कृत) भर्ती-2018 : हिन्दी-1507, अंग्रेजी-788
2020 से 2022 में भी वर्चस्व
सहायक आचार्य (कॉलेज शिक्षा विभाग)-2020 की भर्ती में हिन्दी के 66 पद और अंग्रेजी के महज 55 पद हैं। इसी तरह वरिष्ठ अध्यापक (माध्यमिक शिक्षा) में हिन्दी के 1298 पद हैं। प्राध्यापक विद्यालय (संस्कृत शिक्षा विभाग) में हिन्दी के 28, वरिष्ठ अध्यापक (संस्कृत शिक्षा) में हिन्दी के 80 तथा अंग्रेजी के 46 पद हैं।
यह है वर्चस्व का कारण
- हिन्दी भाषा में बन रहे विभागवार एप
- यू-ट्यूब पर हिन्दी भाषा के चैनल
इंग्लिश को पीछे छोड़ रही हिन्दी, टीचर्स भर्ती में निकली आगे
इंग्लिश को पीछे छोड़ रही हिन्दी, टीचर्स भर्ती में निकली आगे
- निजी बैंक और कम्पनियों में हिन्दी में संवाद

- 65 प्रतिशत युवा बनना चाहते हैं कॉलेज-स्कूल शिक्षक

- वैज्ञानिक शब्दावली आयोग ने तैयार किए 10 लाख हिन्दी के शब्द

- तकनीकी शिक्षा विभाग ने तैयार किए हिन्दी में कोर्स
- कंपनियां कर रहीं ऑनलाइन एप पर ग्राहकों से हिन्दी में संवाद

फैक्ट फाइल-सरकारी शिक्षण संस्थान

राज्य में विवि- 27

यूजी-पीजी कॉलेज- 449

माध्यमिक स्कूल-17 हजार 737

सीनियर सैकंडरी स्कूल-10 हजार 540
फिर भी शिक्षकों की है कमी
राज्य के कई पुराने कॉलेज में हिन्दी विभाग में एक से तीन शिक्षक कार्यरत हैं। दो साल में नए खुले 250 से ज्यादा कॉलेज में शिक्षकों की नियुक्ति होनी है। प्रारंभिक से उच्च माध्यमिक स्कूलों को भी 4 हजार हिन्दी शिक्षकों की जरूरत है।

हिन्दी भाषा का इस्तेमाल व्यापार-वाणिज्य, तकनीकी-चिकित्सा, सोशल प्लेटफॉर्म पर तेजी से बढ़ रहा है। भर्तियों में हिन्दी के पदों में बढ़ोतरी का कारण भी यही है। इसीलिए स्कूल-कॉलेज और विश्वविद्यालयों में हिन्दी शिक्षकों की अधिकाधिक भर्ती मिल रही हैं।

- डॉ. भूपेंद्र यादव, पूर्व अध्यक्ष, आरपीएससी

सबसे लोकप्रिय

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

Weather Update: राजस्थान में बारिश को लेकर मौसम विभाग का आया लेटेस्ट अपडेट, पढ़ें खबरTata Blackbird मचाएगी बाजार में धूम! एडवांस फीचर्स के चलते Creta को मिलेगी बड़ी टक्करजयपुर के करीब गांव में सात दिन से सो भी नहीं पा रहे ग्रामीण, रात भर जागकर दे रहे पहरासातवीं के छात्रों ने चिट्ठी में लिखा अपना दुःख, प्रिंसिपल से कहा लड़कियां class में करती हैं ऐसी हरकतेंनए रंग में पेश हुई Maruti की ये 28Km माइलेज़ देने वाली SUV, अगले महीने भारत में होगी लॉन्चGanesh Chaturthi 2022: गणेश चतुर्थी पर गणपति जी की मूर्ति स्थापना का सबसे शुभ मुहूर्त यहां देखेंJaipur में सनकी आशिक ने कर दी बड़ी वारदात, लड़की थाने पहुंची और सुनाई हैरान करने वाली कहानीOptical Illusion: उल्लुओं के बीच में छुपी है एक बिल्ली, आपकी नजर है तेज तो 20 सेकंड में ढूंढकर दिखाये

बड़ी खबरें

वायु सेना छोड़ राजनीति में आए झारखंड के पूर्व मंत्री केएन त्रिपाठी ने कांग्रेस अध्यक्ष पद के लिए भरा नामांकनलोन लेना हुआ महंगा, RBI ने लगातार चौथी बार 0.50 फीसदी बढ़ाया रेपो रेट, ज्यादा चुकाना होगी EMIअरविंद केजरीवाल का चौंकाने वाला दावा! अब राघव चड्ढा होंगे गिरफ्तारकांग्रेस आलाकमान ने दिखाए सख्त तेवर, गहलोत-पायलट खेमे को लेकर लिया ये बड़ा फैसलादिग्विजय नहीं भरेंगेे नामांकन, कांग्रेस अध्यक्ष पद की दावेदारी पर संशय बरकरारएक माह में ही काबुल में एक और भीषण आतंकी हमला, निशाने पर शिया-हजारा समुदाय, दो दर्जन से अधिक छात्रों की हत्यारेलवे ने शुरू की अच्छी सर्विस, अब ट्रेन में सोते समय नहीं छूटेगा आपका स्टेशन, जानिए कैसे मिलेगी जानकारीWeather Report: दिल्ली सहित इन राज्यों से विदा हुआ मानसून, जानिए इस वर्ष कितनी कम हुई बारिश
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.