Holi 2020: होली की तैयारी, रंग-पिचकारी से सजे बाजार

लोगों ने रंग-गुलाल की खरीददारी भी शुरू की है। लेकिन फिलहाल यह सिलसिला धीमा है।

By: raktim tiwari

Updated: 01 Mar 2020, 08:49 AM IST

अजमेर. रंगों के त्यौंहार होली की तैयारियां शुरू हो गई हैं। बाजारों में विभिन्न रंगों के गुलाल, पक्के रंग और पिचकारियां बिक्री के लिए उपलब्ध है। लोग इनकी खरीददारी में जुट गए हैं।

Read More: Festive March: होली से शुरू होगी त्यौंहारों की धूम

8 मार्च को होलिका दहन और 9 मार्च को धूलंडी पर्व मनाया जाएगा। इसको लेकर शहर में उत्साह दिख रहा है। नयाबाजार, पुरानी मंडी, मदार गेट, केसरगंज, रामगंज, पड़ाव, वैशाली नगर, शास्त्री नगर-लोहाखान, बिहारी गंज, नगरा, आदर्श नगर और अन्य इलाकों में दुकानों पर विभिन्न रंगों के गुलाल, पक्के रंग और पिचकारियां सजाई गई हैं। लोगों ने रंग-गुलाल की खरीददारी भी शुरू की है। लेकिन फिलहाल यह सिलसिला धीमा है।

Read More:URS 2020 : जायरीन ने जुमे की नमाज अदा कर मांगी अमन-चैन और खुशहाली की दुआ

दिखेंगी कई तरह की मिठाई
बाजारों में कई तरह की मिठाइयां भी नजर आएंगाी। हलवाई बूंदी के लड्डू, गुलाब जामुन, बर्फी-चक्की, गुंझिया, रसगुल्ले, बंगाली मिठाई तैयार करेंगे। कई तरह की नमकीन भी बनाई जाएंगी। यह स्टॉक होली से एक-दोदिन पहले बिक्री के लिए उपलब्ध रहेगा।

Read More: अजमेर में कड़ी सुरक्षा में रहेगा पाकिस्तानी जायरीन का जत्था

सावधान रहें घातक रंगों से
नकली गुलाल में बारीक कण और अन्य सामग्री मिलाई जाती है। इससे आंखों में जलन, त्वचा में खुजली हो जाती है। लोगों को अरारोट से बना गुलाल इस्तेमाल करना चाहिए। इसी तरह विभिन्न केमिकल युक्त पक्के रंग भी त्वचा को नुकसान पहुंचाते हैं। ऐसे रंगों से होली नहीं खेलनी चाहिए।

फेस्टिव मार्च, होली से शुरू होगी त्यौंहारों की धूम

अजमेर. मार्च से व्रत-त्यौंहारों की धूम शुरू हो जाएगी। पूरे महीने विभिन्न त्यौंहार, व्रत-उपवास और अन्य धर्मों के कार्यक्रम होंगे। ऋतु परिवर्तन के साथ खान-पान और पहनावा में बदलाव होगा। वैवाहिक कार्यक्रम भी होंगे।

8 मार्च को फाल्गुन शुक्ल पूर्णिमा पर होलिका दहन होगा। 9 मार्च से चैत्र महीने की शुरुआत होगी। इस दिन धूलंडीपर्व मनाया जाएगा। लोग एकदूसरे को रंगों से सराबोर करेंगे। घरों में मिठाई-पकवान बनाए जाएंगे। चैत्र में पूरे महीने तक त्यौंहार, व्रत-उपवास मेले और वैवाहिक कार्यक्रमों का दौर चलेगा। यह माह ऋतु परिवर्तन के लिहाज से भी अहम होता है। धीरे-धीरे गर्मी दस्तक देने लगती है।

Read More: URS 2020 : हिंदू कारीगरों की बनाई चादर से सजता है ख्वाजा का दर

festival of colours Holi festival Holi Festival 2020
raktim tiwari Reporting
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned