scriptHow 15 crore plan will complete life, full of technical shortcoming | कैसे जीवन पूरा करेगी 15 करोड़ की योजना, तकनीकी कमियों की भरमार | Patrika News

कैसे जीवन पूरा करेगी 15 करोड़ की योजना, तकनीकी कमियों की भरमार

- अधिकारियों का नहीं ध्यान- लोगों में नाराजगी, उच्च स्तरीय जांच की उठ रही मांग

क्षेत्रीय विधायक रोहित बोहरा के प्रयासों से शहरी क्षेत्र मुख्यालय को मिली 15 करोड़ की पेयजल योजना के निर्माण में जलदाय विभाग के अधिकारियों की लापरवाही से ओवरहेड टंकियों के निर्माण में तकनीकी गड़बडिय़ों के आरोप सामने आ रहे हैं।

 

अजमेर

Published: March 04, 2022 01:27:04 am

राजाखेड़ा. क्षेत्रीय विधायक रोहित बोहरा के प्रयासों से शहरी क्षेत्र मुख्यालय को मिली 15 करोड़ की पेयजल योजना के निर्माण में जलदाय विभाग के अधिकारियों की लापरवाही से ओवरहेड टंकियों के निर्माण में तकनीकी गड़बडिय़ों के आरोप सामने आ रहे हैं। जिससे इस कीमती परियोजना का लाभ निर्धारित समय तक नहीं मिल पाएगा।
WATER SUPPLY : ट्यूबवैल खोदते बीसलपुर लाइन में छेद
WATER SUPPLY : ट्यूबवैल खोदते बीसलपुर लाइन में छेद
क्या है मामला

जलदाय विभाग और उसके ठेकेदारों की गलत कार्यप्रणाली के चलते नवीन योजना की लाइन डालने के लिए अनियमित तरीके सडक़ को तोड़ दिया गया। जिससे नवनिर्मित सडक़ें खराब हो गई। इसके साथ ही पेयजल वितरण के लिए जो उच्च क्षमता की ओवरहेड टंकियां बनाई जा रही है। उनके निर्माण में गंभीर तकनीकी खामियां बताई जा रही हंै। जिससे इनका लाभ पूरी तरह नहीं मिल पाएगा और कभी भी इनमे से लीकेज हो सकती है जो इस कीमती निर्माण के लिए गंभीर खतरा पैदा कर सकती है । सार्वजनिक निर्माण विभाग के एक उच्चाधिकारी ने नाम न छापने की शर्त पर बताया कि टंकी के निर्माण में कंक्रीट कास्टिंग के लिए जो शटरिंग इस्तेमाल की गई है वह निर्धारित क्षमता की नही होगी, वरन काफी छोटी-छोटी इस्तेमाल की गई हैं।
तकनीकी दक्षता की कमी

सारे प्रकरण में ठेकेदार फर्म की तकनीकी दक्षता में कमी के साथ विभागीय अधिकारियों के निरंतर सुपरविजन में कमी का बड़ा आरोप क्षेत्रीय नागरिक लगा रहे हैं। जिसका खामियाजा आम जनता को लंबे समय तक उठाना पड़ सकता है।
जांच की मांग

सारे प्रकरण में विश्वसनीयता की कमी को देख राजाखेड़ा के प्रबुद्ध नागरिकों ने अन्य तकनीकी विभाग के उच्च स्तरीय दस्ते से योजना के तहत हुए निर्माणों की गुणवत्ता की उच्च स्तरीय मांग राज्य सरकार के प्रमुख शाशन सचिव को भेजकर उठाई है। जिससे जनता के धन का सदुपयोग हो सके।
इनका कहना है

हम दिनरात मेहनत कर सरकार को टैक्स देते हैं। जिससे जनहित के निर्माण होते हैं। हमें इस स्कीम की गुणवत्ता पर पूरा संदेह है। ऐसे में इसकी उच्च स्तरीय जांच की मांग हमने की है।
-राजीव अलापुरिया व्यापारी नेता
बात सिर्फ निर्माण गुणवत्ता की नहीं है, क्षेत्र को मिलने वाली सुविधाओं की भी है। जो हमें नहीं मिल पाएंगी। जांच की मांग हमारा अधिकार है।

- सत्यम गुप्ता, छात्र नेता

इस योजना से पूर्व लगभग साढ़ चार दशक पूर्व योजना बनी थी। पिछले दो दशक से हम परेशान हैं। अब विधायक के प्रयासों से योजना मिली तो उसमें गड़बड़ को बर्दाश्त नहीं किया जा सकता। कम से कम अगले दो दशक तो इसका लाभ मिलना सुनिश्चित हो।
- प्रतिभा, गृहिणी
हमें अपने टैक्स के पैसे के सदुपयोग का पूरा भरोसा चाहिए। जो जांच के बाद ही मिल सकेगा।

- अभिलाष, अभियंता

फोन नहीं उठा रहे अधिकारी

इस संबंध में जब जलदाय विभाग के सहायक अभियंता गोविंद सिंह से संपर्क करने का प्रयास किया गया तो उन्होंने फोन ही नहीं उठाया। न ही मैसेज का कोई जवाब दिया।।

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

17 जनवरी 2023 तक 4 राशियों पर रहेगी 'शनि' की कृपा दृष्टि, जानें क्या मिलेगा लाभज्योतिष अनुसार घर में इस यंत्र को लगाने से व्यापार-नौकरी में जबरदस्त तरक्की मिलने की है मान्यतासूर्य-मंगल बैक-टू-बैक बदलेंगे राशि, जानें किन राशि वालों की होगी चांदी ही चांदीससुराल को स्वर्ग बनाकर रखती हैं इन 3 नाम वाली लड़कियां, मां लक्ष्मी का मानी जाती हैं रूपबंद हो गए 1, 2, 5 और 10 रुपए के सिक्के, लोग परेशान, अब क्या करें'दिलजले' के लिए अजय देवगन नहीं ये थे पहली पसंद, एक्टर ने दाढ़ी कटवाने की शर्त पर छोड़ी थी फिल्ममेष से मीन तक ये 4 राशियां होती हैं सबसे भाग्यशाली, जानें इनके बारे में खास बातेंरत्न ज्योतिष: इस लग्न या राशि के लोगों के लिए वरदान साबित होता है मोती रत्न, चमक उठती है किस्मत

बड़ी खबरें

कोर्ट में ज्ञानवापी सर्वे रिपोर्ट पेश होने में संशय, दूसरी ओर सुप्रीम कोर्ट में एक बजे सुनवाई, 11 बजे एडवोकेट कमिश्नर पहुंचेंगे जिला कोर्टहरियाणा: हरिद्वार में अस्थियां विसर्जित कर जयपुर लौट रहे 17 लोग हादसे के शिकार, पांच की मौत, 10 से ज्यादा घायलConstable Paper Leak: राजस्थान कांस्टेबल परीक्षा रद्द, आठ गिरफ्तार, 16 मई के पेपर पर भी लीक का सायाWeather Update: उत्तर भारत में भीषण गर्मी, इन राज्यों में आंधी और बारिश की अलर्टLucknow: क्या बदलने वाला है प्रदेश की राजधानी का नाम? CM योगी के ट्वीट से मिले संकेतजमैका के दौरे पर गए राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने क्यों की सलवार-कुर्ता की चर्चा, जानिए इस टूर में और क्या-क्या हुआबॉर्डर पर चीन की नई चाल, अरुणाचल सीमा पर तेजी से बुनियादी ढांचा बढ़ा रहा चीनगेहूं के निर्यात पर बैन पर भारत के समर्थन में आया चीन, G7 देशों को दिया करारा जवाब
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.