चूरू में अवैध कारोबार : हरियाणा से लाकर बेच रहे पेट्रोल-डीजल

प्रदेश के सीमावर्ती गांवों में पनप रहा अवैध व्यवसाय, हरियाणा में सस्ता मुहैया है डीजल-पेट्रोल, कई लोगों ने इसे बनाया रोजगार का जरिया, जरीकेन, बोतलों व ड्रमों में चोरी-छिपे भरकर ला रहे कई लोग,ेट्रोल पंप संचालकों का व्यवसाय ठप होने की कगार पर

By: suresh bharti

Published: 07 Sep 2020, 12:57 AM IST

अजमेर/चूरू. हरियामा से सटे गांवों में कई लोग अवैध रूप से डीजल-पेट्रोल बेच रहे हैं। इलाके में पेट्रोल-डीजल की तस्करी का काम जोरों पर है। इसके बावजूद पुलिस कोई खास सख्ती नहीं बरत रही। इसका नतीजा यह है कि राजस्थान में पेट्रोल-डीजल संचालकों का व्यवसाय चौपट होने की कगार पर हैं।

इधर, अजमेर के भी कई ग्रामीण क्षेत्र में लोग बोतलों व ड्रमियों में डीजल-पेट्रोल बेच रहे हैं। इस क्षेत्र में कोई पेट्रोल पम्प नहीं होते। इसके चलते गांवों में परचूनी दूकानदार, वाहन मैकेनिक व अन्य लोग महंगे भाव में पेट्रोल बेचकर कमाई करने में लगे हैं।

शिकायत के बावजूद कार्रवाई नहीं

चूरू जिले के साहवा परिक्षेत्र में पेट्रोल-डीजल की अवैध बिक्री के खिलाफ अभियान चलाने की मांग की है। राजस्थान पट्रोलियम डीलर एसोसिएशन व सरदारशहर पट्रोल डीलर्स वेलफेयर संस्थान के नेतृत्व में राज्य के मुख्य सचिव से लेकर स्थानीय पुलिस व रसद विभाग के अधिकारियों तक इस समस्या से अवगत कराया गया था। इसके बावजूद सभी मौन धारण किए हुए हैं। ऐसे में इनकी तस्करी करने वालों के हौसले बुलंद होते जा रहे हैं।

पुलिस ने चलाया अभियान

हरियाणा से खरीदा पेट्रोल-डीजल यहां अवैध तरीके से बेचने का मामला सोशल मीडिया में आने के बाद पुलिस प्रशासन ने १ सितम्बर को साहवा-सादुलपुर व भानीपुरा थाना क्षेत्र में कार्रवाई कर खानापूर्ति की है। इस संबंध में एक प्रतिनिधिमंडल ने दो सितंबर को प्रफुल्ल कुमार महानिरीक्षक पुलिस रैंज बीकानेर से मुलाकात की और अवैध बिक्री करने वालों के खिलाफ कार्रवाई की मांग की है।
हरियाणा की सीमा की दूरी 50 से 60 किमी है। वहां पर पट्रोल व डीजल 10 से 11 रुपए तक सस्ता मिलता है। वहां से लोग वाहनों से भरकर लाकर यहां बेच रहे हैं। ऐसे मेंं साहवा में पेट्रोल पंप संचालकों का काम ठंडा पड़ गया है। यही हालात साहवा परिक्षेत्र के प्रत्येक गांव का है। यहां पर अवैध तरीके से पेट्रोल-डीजल बेचा जा रहा है।

राजस्थान पट्रोलियम डीलर एसोसिएशन के विधि सलाहाकार राजेन्द्रसिंह भाटी ने बताया कि हरियाणा तथा पंजाब की सीमा से लगते चूरू जिला सहित बीकानेर संभाग के कई स्थानों पर हरियाणा तथा पंजाब से लाकर अवैध रूप से डीजल व पट्रोल की बिक्री हो रही है जो इन दिनों परवान पर है,लेकिन कोई कार्रवाई नहीं की जा रही।

अवैध डीजल बिक्री की मुख्य वजह

साहवा, सिधमुख, सादूलपुर, भालेरी, तारानगर, भानीपुरा, सरदारशहर आदि स्थानों से हरियाणा की सीमा जहां 50 किमी से लेकर 100 किमी के दायरे में आते हैं। वहां पर राजस्थान से डीजल पट्रोल 10 से 12 रुपए प्रति लीटर सस्ता मिलता है। एक जीप में 10 से 12 ड्रमों में दो से ढाई हजार लीटर तेल लाया जाता है।

suresh bharti Desk
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned