अवैध कारोबार : कफ्र्यू में शराब माफिया सक्रिय,कहीं कालाबाजारी तो कहीं कच्ची दारू बनाने की चली भट्टियां

कोरोना के चलते शरीब की दुकानें सुबह 11 बजे बाद नहीं खुलती, ऐसे में शराब को तय रेट से अधिक दाम में बेचने वाले लोग सक्रिय,अवैध कच्ची शराब बनाने वाले कमा रहे मोटी मुनाफा, पुलिस ने किया 1500 लीटर वॉश नष्ट

By: suresh bharti

Published: 07 May 2021, 12:41 AM IST

ajmer अजमेर. चाहे कुछ भी हो जाए। अवैध शराब का कारोबार कभी मंदा नहीं होता। शराब ठेके की दुकान खुलने के तय समय सीमा बाद भी चोरी-छिपे शराब विक्रय करना कोई नई बात नहीं हैं। कई लोग तो कोरोना में कफ्र्यू का फायदा उठाकर घर-घर सप्लाई करने में लगे हैं। जो निर्धारित दर से अधिक में बेचकर मोटा मुनाफा कमा रहे हैं।

इसी प्रकार कच्ची मदिरा बनाने वाले भी इन दिनों सक्रिय हैं। गुरुवार शाम रामगंज थाना पुलिस ने सांसी बस्ती में दबिश दी। इस दौरान हथकढ़़ शराब की भट्टियां तोडकऱ करीब 1500 लीटर वॉश नष्ट की। वहीं एक शराब तस्कर को दो लीटर कच्ची शराब के साथ पकड़ा। पुलिस ने उसके खिलाफ आबकारी अधिनियम में प्रकरण दर्ज किया है।

भनक लगते ही आरोपी महिलाएं नदारद

पुलिस के अनुसार गुरुवार शाम भगवान गंज सांसी बस्ती में हथकढ़ शराब निकालने के ठिकानों पर दबिश दी गई। इससे बस्ती में खलबली मच गई। यहां हथकढ़़ शराब बनाने वाली महिलाएं पुलिस कार्रवाई की भनक लगते ही भाग निकली। पुलिस ने कार्रवाई करते हुए शराब की भट्टियां तोड़ते हुए 1500 लीटर वॉश नष्ट की। यहां से सांसी बस्ती निवासी महिला तकर गीता पत्नी श्रवण उर्फ गब्बू सांसी दिखाई दी लेकिन वह कच्ची शराब छोडकऱ फरार हो गई। पुलिस ने यहां से दो लीटर हथकढ़ शराब जब्त की।

मुकेश गिरफ्तार, गीता की तलाश

इसी तरह पुलिस ने कार्रवाई के दौरान सांसी बस्ती में मुकेश उर्फ बण्डा सांसी के घर पर दबिश दी। मुकेश ने घर के पीछे नाले की झाडिय़ों में शराब की तीन पेटियां छिपा कर रखी थी। पुलिस ने अवैध शराब जब्त कर आरोपी मुकेश को गिरफ्तार किया।

पुलिस ने मुकेश के खिलाफ पृथक से प्रकरण दर्ज किया। वहीं गीता सांसी की तलाश शुरू कर दी। कार्रवाई सीओ मुकेश कुमार सोनी के नेतृत्व में थानाप्रभारी सतेन्द्रसिंह नेगी, सहायक उपनिरीक्षक राजाराम, सिपाही ऋतुराज सिंह, सूर्यप्रकाश शामिल रहे।

suresh bharti Desk
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned