ग्राहकों से ठगी! अजमेर में चार होलसेल विक्रेताओं के यहां ब्रांडेड के नाम 50 लाख की नकली घडिय़ां जब्त

ब्रांडेड के नाम नकली घडिय़ां बेचने की पुलिस को मिली थी शिकायत,आईजी रेंज स्पेशल टीम की कार्रवाई में हुआ खुलासा, कोतवाली थाने में कॉपीराइट एक्ट में मुकदमा दर्ज

By: suresh bharti

Published: 07 Apr 2021, 12:23 AM IST

ajmer अजमेर. सावधान! यदि आप हाथ घड़ी पहनना पसंद करते हैं। घर या प्रतिष्ठान पर दीवार घड़ी टांगना चाहते हैं तो खरीद से पहले यह जांच लें कि यह नकली तो नहीं है। जी, हां अजमेर के मूंदड़ी मोहल्ल्ला व श्री टाकीज इलाके में चार होलसेल विक्रेताओं के यहां पुलिस ने 50 लख रुपए कीमत की नकली घडिय़ा जब्त की है। इन दुकानों पर ब्रांडेड घड़ी के नाम नकली माल बेचकर ग्राहकों को ठगा जा रहा था। पुलिस ने ब्रांडेड कम्पनी के नाम से बाजार में नकली घडिय़ां बेचने का मामला पकड़ा है। मंगलवार शाम पुलिस महानिरीक्षक (अजमेर रेंज) की टीम ने कम्पनी प्रतिनिधि की रिपोर्ट पर मून्दड़ी मोहल्ला और श्रीटाकीज क्षेत्र में चार होलसेल व्यापारियों के छापा मारा।

देर रात तक गिनती का काम चलता रहा

इस दौरान लगभग 50 लाख कीमत की घडिय़ां जब्त की गई। देर रात तक सदर कोतवाली थाने में व्यापारियों की मौजूदगी में गिनती का काम चलता रहा। पुलिस ने देर रात कॉपी राइट एक्ट में प्रकरण दर्ज किया है। ब्रांडेड कम्पनी की ओर से नियुक्त एजेंसी प्रतिनिधि मुकेश माल ने सोमवार को पुलिस महानिरीक्षक (अजमेर रेंज) एस. सेंगाथिर को शहर में ब्रांडेड कम्पनियों की नकली घडिय़ां बिक्री की सूचना दी थी।

चार होलसेल व्यापारियों के यहां दबिश, दो प्रतिष्ठान मिले बन्द

आईजी सेंगाथिर के आदेश पर स्पेशल टीम ने मंगलवार दोपहर मूंदड़ी मोहल्ला व श्रीटॉकीज क्षेत्र में चार होलसेल व्यापारियों के यहां दबिश दी, जबकि दो प्रतिष्ठान बन्द मिले। कार्रवाई के दौरान कोतवाली थाना पुलिस को सूचना देकर बुलाया गया। पुलिस ने एजेंसी प्रतिनिधि की रिपोर्ट पर कॉपी राइट एक्ट में ब्रांडेड कम्पनी की कॉपी कर बनाई हजारों नकली घडिय़ां जब्त कर ली। कार्रवाई से मूंदड़ी मौहल्ला बाजार में खलबली मच गई। पुलिस ने यहां से बड़ी संख्या में विभिन्न ब्रांड की घडिय़ों को जब्त कर लिया।

50 दुकानों पर नकली उत्पाद

कम्पनी प्रतिनिधि माल ने बताया कि लोकप्रिय घडिय़ों के ब्रांड का नकली माल बनाकर बाजार में बेचने की कुछ दिन से लगातार सूचना आ रही थी। नकली माल निर्माता ब्रांडेड कम्पनी का स्टिकर, लेबल लगाकर उसे बिक्री के लिए तैयार करते हैं। अजमेर शहर में 40-50 दुकानों पर नकली उत्पाद बिकता है, लेकिन छह दुकानों से होलसेल बिक्री की जाती है।

एक्सपर्ट भी खा जाएं धोखा

माल ने बताया कि नकली उत्पाद बनाने वाली कम्पनी इतनी बारीकी से कॉपी करती हैं कि उपभोक्ता के लिए उसे पहचान करना मुश्किल है। कम्पनी के प्रशिक्षित एक्सपर्ट भी प्रीमियम इंटरनेशनल ब्रांड को यंत्रों के माध्यम से पकड़ पाते हैं। सीज किया गया माल 50 से 60 लाख रुपए का है।

सर्विस सेंटर से करें जांच

माल ने बताया कि उपभोक्ता ब्रांडेड कम्पनी की घड़ी की सत्यता व संदेह होने पर शहर के सर्विस सेंटर पर जांच करवा सकते हैं। कॉपी की गई घडिय़ों में छोटी-छोटी खामियां रहती हैं जिसे पकडऩा आसान नहीं है। माल ने बताया कि कम्पनी की ओर से ना केवल अजमेर में बल्कि पूरे देश, पड़ोसी राज्य नेपाल व श्रीलंका में भी कार्रवाई की जा रही है।

suresh bharti Desk
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned