पीएम मोदीजी...स्विस बैंक तो जाइए बाद में, घर में ही छुपा है इतना काला धन

पीएम मोदीजी...स्विस बैंक तो जाइए बाद में, घर में ही छुपा है इतना काला धन

raktim tiwari | Publish: Sep, 16 2018 08:05:00 PM (IST) Ajmer, Rajasthan, India

www.patrika.com/rajasthan-news

अजमेर

कारोबारियों के यहां आयकर विभाग की छापे की कार्रवाई खत्म हो गई। तीन दिन करीब दो दर्जन ठिकानों पर चली कारवाई में आयकर विभाग को बड़ी सफलता मिली है। विभाग को ब्रोकर व डीड राइटर सहित पांच कारोबारियों के ठिकानों से 35 करोड़ रुपए की नकदी व जेवर बरामद किए हैं। जबकि 30 करोड़ रुपए के हवाला व बेनामी संबंधी दस्तावेज भी बरामद किए हैं। आयकर विभाग इनके आंकलन में जुट गया है। विभाग जब्त दस्तावेजों की जांच कर रहा है।

विभाग की इंटेलीजेंस टीम के ज्वाइंट कमिश्नर एम. रघुराज के निर्देश पर बुधवार से अजमेर के पांच कारोबारियों के दो दर्जन से अधिक ठिकानों पर कार्रवाई को अंजाम दिया गया। विभाग ने कार्रवाई के दौरान बड़ी मात्रा में सोना व नकदी बरामद की है।

विभाग ने गुरुवार को लॉकर्स खंगालने के बाद 20 किलोग्राम सोना व 3 करोड़ रुपए की राशि बरामद की थी। सोने की कीमत करीब सात करोड़ आंकी जा रही थी। इसके बाद कार्रवाई को शुक्रवार को भी बढ़ाया गया। शुक्रवार शाम कुछ और सोना व नकदी बरामद हुई है।

बेनामी संपत्ति निषेध कानून की विंग भी कर रही जांच

आयकर विभाग की इंटेलीजेंस विंग की सूचना पर बेनामी संपत्ति निषेध अधिनियम की टीम भी अजमेर पहुंच गई है। टीम कारोबारियों के प्रतिष्ठानों से बरामद किए हवाला व अन्य संपत्तियों के दस्तावेजों को खंगाल रही है। इसमें शहर के कुछ अन्य लोगों के लेन-देन संबंधी संपत्तियों के दस्तावेज भी मिले हैं। ऐसे नामों की सूची तैयार कर उनके भी आय के ब्यौरे निकाले जाएंगे।
गौरतलब है कि आयकर विभाग ने अजमेर के प्लाईवुड व्यवसायी, नमकीन फैक्ट्र्री, पॉल्ट्री हैरिटेज, ब्रोकर व डीड राइटर के प्रतिष्ठानों व आवास पर छापे की कार्रवाई बुधवार से शुरू की थी।

जब्त नकदी व जेवर दस्तावेजों का अनुमानित ब्यौरा

नाम व्यवसाय ज्वैलरी कैश अघोषित संपत्ति/ बेनामी दस्तावेजों की कीमत
हैचरी 1.35 करोड़ 23.5 लाख 13 करोड़

नमकीन निर्माता 18 लाख 87 लाख 8 करोड़
प्लाईवुड निर्माता 5 करोड़ 1.40 करोड़ 9 करोड़

ब्रोकर - - 1 करोड़
डीडराइटर - 30 लाख 1 करोड़

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

Ad Block is Banned