यहां कपड़े में लिपटी है इंदिरा गांधी, कैसे मनाएंगे जयंती

ajmer news : अजमेर में पूर्व प्रधानमंत्री इंदिरा गांधी की प्रतिमा पिछले तीन साल से पर्दे में कैद है। इस दौरान कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी, मुख्यमंत्री अशोक गहलोत, उपमुख्यमंत्री सचिन पायलट अजमेर आए, लेकिन किसी ने प्रतिमा का लोकार्पण नहीं किया। मुख्यमंत्री गहलोत का 18 नवम्बर को अजमेर आना प्रस्तावित है और 19 नवम्बर को इंदिरा गांधी की जयंती भी मनाई जाएगी। लेकिन इस बार भी मूर्ति अनावरण का कोई कार्यक्रम नहीं है।

अजमेर.

अजमेर (ajmer) में स्टेशन रोड स्थित मोइनिया इस्लामिया स्कूल के बाहर पूर्व प्रधानमंत्री इंदिरा गांधी (Indira Gandhi) की प्रतिमा को पिछले तीन साल से अनावरण का इंतजार है। इस दौरान कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी, मुख्यमंत्री अशोक गहलोत, प्रदेशाध्यक्ष सचिन पायलट अजमेर आए, लेकिन किसी ने प्रतिमा का लोकार्पण नहीं किया। मुख्यमंत्री गहलोत का 18 नवम्बर को अजमेर आना प्रस्तावित है और 19 नवम्बर को इंदिरा गांधी की जयंती भी मनाई जाएगी। लेकिन इस बार भी मूर्ति अनावरण का कोई कार्यक्रम नहीं है।

READ MORE : माचिस की डिबिया में रखी जा सकती थी इंदिरा गांधी की साड़ी!

प्रतिमा को वर्ष 2016 में मौजूदा कांग्रेस अध्यक्ष विजय जैन ने भित्ति स्थल पर स्थापित कराया था। प्रयास यह रहा कि इसका अनावरण तत्कालीन राष्ट्रीय अध्यक्ष राहुल गांधी से कराया जाए, लेकिन अपरिहार्य कारणों से यह संभव नहीं हो पाया। प्रदेश में तीसरी बार कांग्रेस की सरकार बन चुकी है, लेकिन पूर्व पीएम इंदिरा गांधी की प्रतिमा पर्दे में कैद है।
भित्ति स्थल पर स्थापित कराया

READ MORE : इस नगर पालिका में मात्र 88 लोगों ने नहीं डाले वोट

प्रतिमा को वर्ष 2016 में मौजूदा कांग्रेस अध्यक्ष विजय जैन ने भित्ति स्थल पर स्थापित कराया गया। प्रयास यह थे कि इसका उद्घाटन राष्ट्रीय अध्यक्ष राहुल गांधी या उपमुख्यमंत्री सचिन पायलट से कराया जाए। हालाकि लोकसभा उपचुनाव से पूर्व मोईनिया इस्लामिया स्कूल में बूथ कार्यकर्ता सम्मेलन में सचिन पायलट शिकरत कर चुके थे लेकिन अनावरण तब भी नहीं कराया जा सका।


तब भी संयोग नहीं बैठा

इसके बाद राहुल गांधी स्वयं 26 नवम्बर 2018 को दरगाह व पुष्कर यात्रा पर आए लेकिन तब भी संयोग नहीं बैठा। इसके बाद फरवरी 2018 में कांग्रेस सेवादल के महाअधिवेशन में राहुल गांधी, अशोक गहलोत, सचिन पायलट व अन्य वरिष्ठ नेता आए लकिन मूर्ति अनावरण नहीं किया गया।


लकड़ी डिब्बे में बंद थी

यह प्रतिमा करीब सात साल पहले ही बन कर यहां आ गई थी। नगर सुधार न्यास या अब एडीए में निर्धारित शुल्क देकर इसे कांग्रेसियों को लेना था। मौजूदा कांग्रेस अध्यक्ष विजय जैन ने इसे एडीए से लेकर प्रतिमा स्थल पर स्थापित करवाया। फिलहाल प्रतिमा को सफेद कपड़े से लपेट कर रखा हुआ है। करीब डेढ़ वर्ष से इसके अनावरण का इंतजार है।


17 साल से अधर में है मूर्ति

वर्ष 2001 में तत्कालीन न्यास सदर डॉ श्रीगोपाल बाहेती ने बनवाई
वर्ष 2011 में तत्कालीन कांग्रेस अध्यक्ष महेन्द्र रलावता ने 2025 लाख रुपए जमा कराए

वर्ष 2017 में मौजूदा डीसीसी सदस्य विजय जैन ने 5.50 लाख रुपए जमा करवा कर एडीए से मूर्ति ली
वर्ष 2017 - 30 नवम्बर 2017 को इसे स्टेशन रोड स्थित भित्ति स्थल पर स्थापित कराया

Show More
Yuglesh kumar Sharma
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned